Traditional Way to Fill Sindoor Women Forehead सिन्दूर लगाने का सही तरीका

मांग भरने का सही तरीका Right way to apply sindoor on forehead 

Traditional Way to Fill SindoorTraditional Way to Fill Sindoor हिन्दू धर्म में सिंदूर का बेहद ही खास महत्व बताया गया है। मांग का सिन्दूर किसी भी महिला के सुहाग की निशानी होता है शादीशुदा महिलाओं को बिना सिन्दूर के अधूरा माना जाता है। पौराणिक कथाओं की यदि माने तो सिंदूर का अपना आध्यात्मिक महत्व भी है लेकिन क्या आप जानते है की शादी के प्रतीक के रूप में लगाए जाने वाले इस सिन्दूर को लगाने के पीछे क्या कारण और इसे कैसे कब या फिर कितनी बार लगाना चाहिए इसके बारे में क्या मान्यताये है आज हम आपको बतायेगे की मांग में सिन्दूर कितनी बार और किस तरह से लगना शुभ होता है.

मांग के बीच में सिन्दूर लगाना होता है शुभ maang mein sindoor kaise bhare

ऐसा माना जाता है की शादी के प्रतीक और एक औरत के सुहाग की निशानी समझा जाने वाला सिन्दूर  पत्नी द्वारा मांग के बीचो-बीच लगाना काफी शुभ होता है. सुहागन महिला द्वारा सिन्दूर मांग के बीच में लगाने पर पति को लम्बी उम्र का वरदान प्राप्त होता है और जीवन में किसी प्रकार का कोई  संकट नहीं आता.

सिन्दूर बालों में छिपाकर ना लगाए maang mein kumkum sindoor lagaane ka tareeka

कई महिलाओं को ये आदत होती है की वो सिन्दूर को हमेशा छोटा सा और बालों में छिपाकर लगाती है इस तरह से सिन्दूर भरना शुभ नहीं होता कहा जाता है की बालों में छिपाकर सिन्दूर लगाने से पति को तरक्की पाने और समाज में अपनी पहचान बनाने के लिए काफी मेहनत करनी पड़ती है

सिन्दूर को साइड मांग में ना भरे maang kisse bharwaaye

मान्यताओं के अनुसार ऐसा माना जाता है की किसी भी सुहागन महिला को मांग में सिंदूर हमेशा बीच की मांग में ही भरना चाहिए कई महिलाये बीच की मांग के बजाय किनारे की मांग निकालकर उसमें सिन्दूर भर देती है जो की शुभ नहीं होता इससे पति पत्नी के रिश्ते में मनमुटाव की स्थति पैदा होसकती है.इसलिए ध्यान रखे की सिन्दूर को बीच मांग में ही भरना चाहिए इससे पति पत्नी के रिश्ते में प्यार और समृद्धि बढ़ती है.

मांग में लम्बा सिन्दूर भरना how to apply sindoor on forehead

मान्यता है की जो स्त्रियां अपनी मांग में बीचो बीच लम्बा और गहरा सिंदूर लगाती है उनके पति की आयु तो लम्बी होती ही है साथ ही ऐसी स्त्री के पति समाज में यश और मान सम्म्मान पाते है. बीच मांग में लम्बा सिन्दूर भरने से महिलाओं को हर तरह के तनाव व परशानी से भी छुटकारा मिलता है और सिरदर्द में भी आराम आता है.

सिन्दूर लगाने का शुभ समय right way to put sindoor

अब बात करते है मांग में सिन्दूर भरने के सही और शुभ समय के बारे में ध्यान रखे की कभी भी सिन्दूर को बिना नहाये ना लगाए हमेशा नहाकर ही सिन्दूर लगाना शुभ माना जाता है ऐसी मान्यता है की सुबह नहाकर पूजा के बाद कुछ खाने के बाद सिन्दूर लगाने आपको अखंड सौभाग्य का वरदान मिलता है और पति को उनके कार्यो में तरक्की मिलती है.

राशिअनुसार जाने साल 2018 का भविष्यफल

सिन्दूर पति से भरवाना बेहद शुभ maang mein sindoor kitni baar bhare

शास्त्रों के अनुसार ऐसी मान्यता है की सुहागन महिला को अपनी मांग में सिन्दूर खुद भरना चाहिए या फिर अपने पति से भरवाना चाहिए. कई बार शादी समारोह में महिलाये एक दूसरे को सुहाग का टीका करती है जो की शुभमाना जाता है लेकि क्या आप जानते है की जब कोई महिला आपको सुहाग का टीका करे तो आपको भी उसे टीका लगाकर सुहाग का टीका अवश्य लौटना चाहिए ऐसा करने से आपको सौभाग्य की प्राप्ति होती है साथ ही किसी पतिव्रता स्त्री से मांग भरवाना और सुहाग दान करवाना भी बेहद शुभ मन गया है.