10 अनसुने अजब गजब मनोवैज्ञानिक तथ्य Amazing Psychological Fact

10 सबसे अद्भुत मनोवैज्ञानिक तथ्य Psychology facts in Hindi

Psychological Fact  Psychological Fact आज हम आपको ऐसे 10 साइकोलॉजी  फैक्ट्स यानी मनोविज्ञान से जुड़े 10 रोचक तथ्य बताने जा रहे है जो काफी मजेदार है.जिनमे काफी बातें आपकी साथ मैच भी करती हो.  चलिए जानते हैं कुछ साइकोलॉजी फैक्ट्स को –

साइकोलॉजी कहती है कि 90 प्रतिशत लोग सिर्फ मैसेज के जरिये अपनी बात बोल पाते है. जो आपको पर्सनली नहीं बता पाते. वो मैसेज टाइप करके अपनी बातें शेयर करते है.

क्या आप जानते है दुनिया में सबसे ज्यादा बोला जाने वाला झूठ है “I Am Fine”. जी हाँ, हो सकता है कि दुखी होने के बाद भी आपने भी किसी से ये ‘मैं ठीक हूँ यानी I Am Fine’  वाला झूठ बोला हो. 

आपको जो गाना सबसे ज्यादा पसंद है उसका कारण है कि आप उसे अपनी जिंदगी से जोड़कर सुनते है.

सोने से पहले जिस आखिरी व्यक्ति का ख्याल आपके मन में आता है वो इंसान या तो आपकी ख़ुशी या दुःख का कारण होता है.

साइकोलॉजी कहती है 80% लोग अपने जीवन की Negative चीजों से दूर भागने के लिए Music सुनते हैं.

क्या आप जानते है कि जब भी किसी व्यक्ति को नया पेन दिया जाता है तो 97% लोग उस पेन से सबसे पहले अपना नाम लिखते है. आपने भी कभी ना कभी ऐसा किया तो होगा ही.

किसी भी इंसान पर आपका फर्स्ट इम्प्रैशन पड़ने में सिर्फ 7 सेकंड लगते है जी हाँ, सिर्फ 7 सेकंड में आपका उस इंसान पर फर्स्ट इम्प्रैशन जाता है और यही फर्स्ट इम्प्रैशन आपका लास्ट इम्प्रैशन बन जाता है उस व्यक्ति के साथ.

अगर आप अपने लक्ष्य (Aim) सबको बताते फिरते है तो इस बात की कम सम्भावना है कि आप सफल हो पायें. मनोवैज्ञानिक कहते हैं कि ऐसा करने से आपके अंदर वो टारगेट पूरा करने का Motivation कम हो जाता है.

ख़ुशी के आंसू पहले दायीं आँख से आते हैं और दुःख दर्द के आंसू पहले बायीं आँख से निकलना शुरू होता है.

क्या आप जानते है आपके दिमाग को सिर्फ 90 सेकण्ड्स ही लगते है किसी को पसंद या नापसंद करने में यानी सिर्फ 1.5 मिनट में आपका दिमाग यह तय कर लेता है कि आपको किसी को पसंद करना या नहीं करना है.