कैसे करें अपने इन्वर्टर की देखभाल Inverter battery care tips increase inverter battery life tips

जानें इन्वर्टर की देखभाल के आसान टिप्स Easy Inverter Buying Tips –

इन्वर्टर की देखभालइन्वर्टर की देखभाल- आज के समय में लगभग सभी के पास इन्वेटर है और हर कोई इसे खरीद रहा है। इन्वर्टर की ज्यादा मांग गर्मियों के दिनों में होती है लेकिन अब इनवर्टर केवल सीजनल नहीं रह गए हैं, बल्कि उनकी जरूरत पूरे साल पड़ती है,

हर कोई इन्वर्टर खरीदते वक़्त यह सोचता है की एक अच्छा इन्वर्टर कैसे सेलेक्ट करें और किन बातो को ध्यान में रख कर इन्वर्टर ख़रीदे। आज के समय में यह काफी जरूरत का सामान साबित हो चूका है। गर्मियों में लोगो को इन्वेटर से काफी राहत मिलती है जब बिजली चले जाती है। कुछ साल पहले तक इनवर्टर एक लग्जरी आइटम माना जाता था, लेकिन आज यह लोगों की जरूरत बन गया है।

इन्वर्टर की देखभाल कैसे करें Inverter Buying Tips –

इनवर्टर के प्रयोग में लापरवाही दुर्घटनाओं का कारण बन सकती है इसलिए इन्वर्टर की सही से देखभाल काफी जरुरी है साथ ही इसकीअच्छी देखभाल से इसकी लाइफ बढ़ाई जा सकती है। तो आइये बात करते हैं कुछ ऐसे उपायों की जिनसे आप भी अपने इन्वर्टर की सही से देखभाल कर सकते हैं।

सबसे पहले बात करते हैं इन्वर्टर के ओवर लोड की ध्यान रहे आपके इन्वेटर में उतना ही लोड पड़े जितनी उसकी क्षमता है। जो आपके काम के जरुरी चीज हैं उन्हें ही उससे कनेक्ट करके रखें। यदि आप अपने इन्वर्टर में ओवर लोडिंग करेंगे तो जल्द ही आपका इन्वर्टर ख़राब हो जायेगा। इसलिए अधिक ओवर लोडिंग न हो इस बात का विशेष ध्यान दें।

इनवर्टर को हवादार स्थान पर रखे इन्वेटर को दीवार में अधिक चिपकाकर न रखें कभी भी अपने इन्वर्टर को दीवार से चिपकाकर न रखे क्योकि इसमें एक फेन लगा होता है .

जो इन्वर्टर की बैटरी को ठंडा करने में मदद करता है जब आप इसे दीवार से चिपकाकर रखते हैं तो इसे स्पेस नहीं मिल पता जिसकी वजह से आपके इन्वर्टर जल्द ही गर्म हो जाता है इसलिए ध्यान रहे आपका इन्वर्टर दीवार से सट के न हो।

हर दो महीने में अपने इन्वर्टर के वाटर लेवल को चेक करते रहें। आपके इन्वर्टर का वाटर लेवल कम न होने पाए यदि ऐसा है तो आपको किसी एक्सपर्ट की जरूरत है।

तुरंत इसे ठीक करवाए साथ ही यदि आपके इन्वेटर का बैकअप कम हो गया है तो इसका मतलब आपके इन्वर्टर को किसी मेंटिनेंस की जरुरत है।  तुरंत ही किसी इन्वर्टर एक्सपर्ट को बुलवाकर इसे चेक करवाए।

राशिअनुसार जाने साल 2018 का भविष्यफल

अपने इन्वर्टर और बैटरी को साफ और धूल मुक्त रखें इन्हे साफ करने के लिए आप सूती कपडे का उपयोग करें। साथ ही बैटरी के टर्मिनल्स को जंग मुक्त रखे।  ध्यान रहे आपके बैटरी में जंग लगा न हो।  इसलिए समय समय पर इन्हे भी साफ करते रहे आप इस जंग को हटाने के लिए गर्म पानी और बेकिंग सोडा का प्रयोग कर सकते हैं। यह जंग बैटरी चार्जिंग की गति को धीमा कर देती है।  साथ ही इससे आपके इन्वर्टर की बैटरी पर बहुत बुरा असर पड़ता है यह आपके इन्वर्टर की बैटरी लाइफ को भी कम कर देता है। इसलिए इन्वर्टर की सफाई बहुत जरुरी है।

अपने इन्वर्टर की बैटरी को चेक कर ले यदि यह अधिक पुरानी हो चुकी है तो इसे तुरंत बदल लें। इनवर्टर में अच्छी कंडिशन की बैटरी का ही प्रयोग करें। बैटरी चेक करने के बाद ही इनवर्टर से कनेक्ट करें। पहले यह सुनिश्चित कर लें कि बैटरी फुल चार्ज और बढि़या कंडिशन में है। साथ ही इन्वर्टर को हमेशा सूखे और समतल स्थान पर ही रखें। किसी भी गीले पदार्थ को इसके सम्पर्क में न आने दें और बारिश के मौसम में इन्वर्टर को बचाकर रखे।

इन सभी आसान से उपायों को अपनाकर आप भी अपने इन्वर्टर की पूरी तरह देखभाल कर सकते हैं।