सावन पुत्रदा एकादशी व्रत 2019 Putrada Ekadashi 2019 Date Time Muhurt

पुत्रदा एकादशी पूजा विधि Putrada Ekadashi Puja Vidhi

Putrada Ekadashi 2019 – श्रावण मास शुक्ल पक्ष की एकादशी जिसे श्रावण पुत्रदा एकादशी कहा जाता है शास्त्रों के अनुसार इस व्रत की कथा मात्र सुनने मात्र से ही वाजपेयी यज्ञ का फल प्राप्त होता है. ऐसी मान्यता है की इस व्रत के प्रभाव से संतान सुख की इच्छा रखने वालों को संतान की प्राप्ति होती है. इस दिन भगवान विष्णु जी की पूजा आराधना की जाती है। आज हम आपको सावन पुत्रदा एकादशी व्रत तिथि, शुभ मुहूर्त, पूजा विधि और इस दिन किये जाने वाले उपयो के बारे में बताएँगे.

पुत्रदा एकादशी तिथि व शुभ मुहूर्त Putrada Ekadashi date Shubh Muhurt 2019

  1. साल 2019 में पुत्रदा एकादशी का का व्रत 11 अगस्त रविवार के दिन रखा जाएगा.
  2. एकादशी तिथि शुरू होगी 10 अगस्त शनिवार 10 बजकर 9 मिनट पर|
  3. एकादशी तिथि समाप्त होगी 11 अगस्त रविवार 10 बजकर 52 मिनट पर|
  4. एकादशी व्रत के पारण का शुभ समय होगा 12 अगस्त सोमवार सुबह 5 बजकर 52 मिनट से सुबह 8 बजकर 30 मिनट पर|

एकादशी व्रत पूजा विधि Putrada Ekadashi Worship Process

यदि पुराणों की माने तो दशमी तिथि से ही इस व्रत के नियम शुरू हो जाते है दशमी तिथि के दिन सूर्यास्त से पहले भोजन कर लेना चाहिए. प्रातः काल उठकर स्नान आदि से निवृत्त होकर स्वच्छ वस्त्र धारण करे और मंदिर में भगवान् विष्णु की प्रतिमा स्थापित कर घी का दीप जलाएं. इसके बाद उन्हें तुलसी, ऋतु फल एवं तिल अर्पित करें। एकादशी के व्रत में व्रत में अन्न वर्जित होता है. इसीलिए निराहार रहकर व्रत कथा पढ़े और सुने शाम को पूजा के बाद फल ग्रहण किये जा सकते है इस दिन रात्रि जागरण विशेष महत्व और फलदायी होता है व्रत के अगले दिन द्वादशी तिथि को ब्राह्मण भोज के बाद भोजन गहन कर व्रत पूरा करना चाहिए.

राशिअनुसार जाने साल 2019 का भविष्यफल

पुत्रदा एकादशी व्रत का महत्व Putrada Ekadashi Importance

पुत्रदा एकादशी जैसा की इसके नाम से ही पता चलता है की यह व्रत संतान प्राप्ति के लिए रखा जाता है. मान्यता है को जो दम्पति इस व्रत को पूरी श्रद्धा और विधि पूर्वक करते है उन्हें योग्य संतान की प्राप्ति होती है इस व्रत के प्रभाव से संतान सम्बन्धी हर तरह की परेशानियां दूर होती है और भगवान विष्णु जी के आशीर्वाद से संतान की तरक्की के रास्ते खुल जाते है. बहुत सी महिलाये इस व्रत को अपनी संतान की दीर्घायु के लिए भी रखती है.

पुत्रदा एकादशी महाउपाय Putrada Ekadashi MahaUpay

शास्त्रों में सावन पुत्रदा एकादशी विशेष रूप से फलदायी मानी गयी है ज्योतिष व शास्त्रों के अनुसार यदि इस दिन कुछ विशेष उपाय किये जाय तो धन प्राप्ति के योग बनते है. आइये जानते है इस चमत्कारिक उपायों के बारे में|

  1. पुत्रदा एकादशी के दिन भगवान् विष्णु जी को पूजा में पान का पत्ता चढ़ाकर इस पर कुंकुम से श्रीं लिखकर तिजोरी में रख लेने से धन प्राप्ति के योग बनते है.
  2. इस दिन शाम के समय पीपल के पेड़ पर जल चढ़ाकर शुद्ध घी का दीपक जलाने से सभी समस्याओं का समाधान होता है.
  3. पुत्रदा एकादशी के दिन 7 कन्याओं को खीर का भोग लगाने से तरक्की के योग बनते है.