मंगलवारी चैत्र अमावस्या 2020 Chaitra Amavasya Date Time Puja Vidhi 2020  

चैत्र अमावस्या सफलता प्राप्ति उपाय Chaitra Amavasya Upay 2020

मंगलवारी चैत्र अमावस्यामंगलवारी चैत्र अमावस्या- शास्त्रों के अनुसार हिंदी नववर्ष का शुभारंभ चैत्र महीने में होता है और चैत्र माह में ही चैत्र शुक्ल प्रतिपदा से चैत्र नवरात्रि भी प्रारंभ होते हैं। प्राचीन मान्यताओं के आधार पर कहा जाता है की यदि चैत्र अमावस्या पर शुभ मुहूर्त में विधिवत पूजा कर भगवन को प्रसन्न किया जाय तो इससे आपको जीवन में लाभ अवश्य मिलता है आज हम आपको साल 2020 मंगलवारी चैत्र अमावस्या की शुभ तिथि पूजा का शुभ मुहूर्त, इसकी पूजा विधि और इस दिन सफलता व मनोकामना पूर्ति के लिए किये जाने वाले चमत्कारिक उपायों के बारे में बताएँगे.

चैत्र अमावस्या शुभ मुहूर्त 2020 Chaitra Amavasya 2020 Date

  1. साल 2020 में चैत्र अमावस्या 24 मार्च मंगलवार के दिन होगी|
  2. चैत्र अमावस्या सवार्थ सिद्धी योग होगा – प्रातःकाल 6 बजकर 20 मिनट से अगले दिन 4 बजकर 19 मिनट तक।
  3. पूजा का अभिजित मुहूर्त होगा – दोपहर 12 बजकर 3 मिनट से दोपहर 12 बजकर 52 मिनट तक।

चैत्र अमावस्या पूजा विधि Chaitra Amavasya 2020 Puja Vidhi  

शास्त्रों की माने तो चैत्र अमावस्या के दिन पितरों का तर्पण करना सबसे ज्यादा उत्तम माना जाता है. क्योकि इससे पितरों को मुक्ति मिलती है। चैत्र अमावस्या तिथि के दिन सबसे पहले प्रातःकाल किसी पवित्र नदी या सरोवर में स्नान करें और पितरो के नाम के तिल नदी में अर्पण कर दें इसके बाद सूर्य देव को अर्घ्य देकर पितरों का तर्पण करें। इससे पितृ दोष समाप्त होते है इसके बाद किसी जरूरतमंद व्यक्ति या ब्राह्मणों को भोजन कराकर खुद भी भोजन प्रसाद के रूप में ग्रहण करे.

चैत्र अमावस्या महत्व Chaitra Amavasya 2020 Importance  

चैत्र मास के कृष्ण पक्ष में आने वाली अमावस्या चैत्र अमावस्या के नाम से भी जानी जाती है अमावस्या का यह दिन विक्रम संवत का आखिरी दिन माना जाता है। और इसके अगले ही दिन प्रतिप्रदा तिथि से चैत्र नवरात्रि की शुरुआत भी होती है। ज्योतिष अनुसार इस दिन सूरज और चंद्रमा एक साथ होते हैं। जिस कारण यह तिथि पितरों को मोक्ष के लिए अहम् होती है इस दिन तर्पण करने से पितृ दोष से छुटकारा मिलता है.

इसे भी पढ़े – जानें अपना वार्षिक राशिफल 2020

मंगलवारी चैत्र अमावस्या उपाय Chaitra Amavasya Upay

ज्योतिष की दृष्टि से अमावस्या तिथि बेहद ख़ास और किसी विशेष इच्छापूर्ति के लिए अहम् मानी जाती है. लेकिन यदि यह अमावस्या मंगलवार के दिन पड़े तो इसका महत्व और भी अधिक बढ़ जाता है आइये जाने है चैत्र मगलवारी अमावस्या के दिन किन उपायों को करने से आपको जीवम में धन धान्य और सफलता की प्राप्ति हो सकती है.

  1. चैत्र अमावस्या के दिन सायंकाल को घर के पूजा स्थल पर शुद्ध घी का दीपक जला दे इससे घर में माँ लक्ष्मी का आगमन होता है.
  2. मंगलवारी अमावस्या के दिन पूजा स्थान पर उड़ते हुए हनुमान जी की प्रतिमा या फोटो लगाकर उनकी आराधना व ॐ हनुमते नमः मंत्र का 108 बार जप करें. इस उपाय से व्यक्ति को सफलता की प्राप्ति होती है.
  3. यदि कोई अमावस्या मंगलवार को पड़े तो उस दिन पीपल के पेड़ में जल चढ़ाने से और शाम के समय पीपल वृक्ष के नीचे दीपक जलाने से समस्त देवी देवताओं का आशीर्वाद मिलता है.
  4. मंगलवारी अमावस्या के दिन लाल सिंदूरी हनुमान जी के मंदिर में जाकर उनके चरणों में अर्पित करे और यदि संभव हो तो 3 बार हनुमान चालीसा का पाठ करे इससे व्यक्ति को धन लाभ और मनोकामना पूरी होने का वरदान मिलता है.