सौभाग्यशाली योग में सावन सोमवती अमावस करे ये 1 काम Somvati Amavasya Date Time 2020 

सावन हरियाली अमावस्या सुख समृद्धि उपाय Hariyali Amavasya Upay 2020

सावन सोमवती अमावस सावन सोमवती अमावस – सावन का महिना भगवान शिव का प्रिय माह और उनकी भक्ति के लिए विशेष मना जाता है हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी सावन का ये महिना अपने साथ कई शुभ सयोंग लेकर आया है। जिनके कारण इस माह के कुछ दिन बहुत शुभ हैं। जिनमे से एक है 20 जुलाई को आने वाला सावन का तीसरा सोमवार| आज हम आपको इस वीडियो में सावन के तीसरे सोमवार पर बन रहे सोमवती अमावस पर बन रहे अति शुभ योग और इस योग में की जाने वाली विशेष पूजा विधि व आज के दिन किये जाने वाले धनप्राप्ति और सुख समृद्धि उपायों के बारे में बताएँगे।

सावन अमावस्या शुभ योग Sawan Third Somwar shubh yog 

इस बार सावन का महीना कई शुभ योगो के साथ आ रहा है. आने वाली 20 तारिख को सावन का तीसरा सोमवार है उसी दिन 20 साल बाद सावन सोमवती और हरियाली अमावस्या का संयोग बनेगा. इस दिन पुनर्वसु नक्षत्र और सर्वार्थ सिद्धि योग भी रहेगा। इस वर्ष सावन शिवरात्रि पर्व सोमवती अमावस से ठीक १ दिन पहले 19 जुलाई रविवार को मनाई जायेगी।

सोमवती अमावस्या शुभ मुहूर्त 2020  Amavasya 2020 Date

  1. साल 2020 में सावन सोमवती अमावस्या का पर्व 20, जुलाई सोमवार के दिन मनाया जाएगा|
  2. अमावस्या तिथि प्रारम्भ होगी – 20 जुलाई प्रातःकाल 12:10 मिनट पर|
  3. अमावस्या तिथि समाप्त होगी- 20 जुलाई रात्रि 11:02 मिनट पर|

सोमवती अमावस्या पूजा विधि Halharini Amavasya Pooja Vidhi

शिव गौरी पूजन के लिए सोमवती अमावस एक बहुत ही शुभ संयोग मना जाता है 20 जुलाई सोमवती अमावस्या के दिन ब्रह्म मुहूर्त में उठकर स्नान आदि के बाद स्वच्छ वस्त्र धारण करे सबसे पहले सूर्य देव को अर्घ्य दे. शास्त्रों के अनुसार जो व्यक्ति सोमवती अमावस्या के दिन पीपल के वृक्ष की परिक्रमा करता है जीवनपर्यन्त उनके सुख और सौभग्य में वृद्धि होती है। क्योकि पीपल के पेड़ में सभी देवों का वास होता है। सोमवती अमावस्या पर विधिवत भगवान् शिव और माता गौरी का पूजन कर कच्चे दूध से शिवलिंग का अभिषेक करें और आज के दिन पितरों की शांति के लिए पितरों के निमित्त तर्पण करें। अंत में किसी गरीब को दान दक्षिणा देकर इस शुभ दिन का पुण्य प्राप्त करे.

इसे भी पढ़े – जानें अपना वार्षिक राशिफल 2020

सोमवती अमावस्या धनलाभ उपाय somwati amavasya upay 

ज्योतिष अनुसार इस साल सावन के तीसरे सोमवार के दिन सोमवती और हरियालीअमावस्या का ये शुभ संयोग करीब 20 सालो के बाद बना है इसीलिए यदि आज के दिन आप विशेष पुण्य के साथ ही भगवन शिव व माता पार्वती की विशेष अनुकमप्पा प्राप्त करना चाहते है तो ये आसान उपाय जरूर करे.

  1. यह सोमवती अमावस्या युक्त सावन का तीसरा सोमवार होगा इस शुभ योग में पीपल के वृक्ष की 108 बार परिक्रमा करने से सुख सौभगाय में वृद्धि होती है.
  2. सोमवार भगवन शिव का दिन है और चन्द्रमा को शिव अपने मस्तक पर धारण किये है इसीलिए जिनका चन्द्रमा कमजोर है उन्हें कच्चे दूध से शिवलिंग का अभिषेक करना चाहिए.
  3. सोमवती अमावस्या पर अनंत फल और धनलाभ के लिए पीपल या बरगद के वृक्ष के नीचे घी का दीपक जलाये.