भाद्रपद चतुर्थी शुभ मुहूर्त 2020 Bhadrapad Ganesh Chaturthi Date Time 2020

संकष्टी चतुर्थी पूजा विधि Sawan Sankashti Vrat Pooja Vidhi 

भाद्रपद चतुर्थीभाद्रपद चतुर्थी- पौराणिक कथाओ के अनुसार सभी देवताओं में सर्वप्रथम भगवान गणेश की पूजा काने का विधान है. शास्त्रों के अनुसार भगवान गणपति का जन्म भाद्रपद शुक्ल चतुर्थी के दिन हुआ था. इस दिन को हर साल गणेश चतुर्थी के रूप में मनाया जाता है इसे विनायक चतुर्थी भी कहते है इस साल ये पावन तिथि 21 अगस्त 2020 को है. इसी दिन से पूरे देश में गणपति उत्सव की शुरुआत होगी. आज इस वीडियो में हम आपको भाद्रपद माह गणेश चतुर्थी पर्व की शुभ तिथि गणेश स्थापना शुभ मुहूर्त, गणेश स्थापना पूजा विधि के बारे में बताएँगे.

गणेश चतुर्थी शुभ मुहूर्त 2020 Ganesh Chaturthi 2020

  1. साल 2020 में गणेश चतुर्थी का पर्व 22 अगस्त शनिवार से शुरू होगा.
  2. मध्याह्न गणेश पूजा का शुभ मुहूर्त होगा – प्रातःकाल 11:06 मिनट से सायंकाल 01:42 मिनट तक
  3. पूजा की कुल अवधि – 02 घण्टे 36 मिनट्स की होगी
  4. चतुर्थी तिथि प्रारम्भ होगी- 21 अगस्त सायंकाल 11:02 मिनट पर |
  5. चतुर्थी तिथि समाप्त होगी – 22 अगस्त सायंकाल 07:57 मिनट पर |
  6. गणेश विसर्जन 1 सितम्बर मंगलवार के दिन किया जाएगा.

गणेश चतुर्थी स्थापना पूजा विधि Ganesh Chaturthi Vrat Puja Vidhi

शास्त्रों में ऐसी मान्यता है कि गणपति बप्पा का जन्म दोपहर के समय हुआ था. इसीलिए इस दिन गणेश जी का पूजन दोपहर में करें. चतुर्थी तिथि के दिन प्रात: काल स्नान के बाद व्रत का संकल्प लें. इसके बाद दोपहर के समय गणपति जी की मूर्ति या चित्र एक चौकी पर लाल कपड़े के ऊपर रखें. पूजास्थल पर फिर गंगाजल या शुद्ध जल छिड़कने के बाद भगवान गणेश का आह्वान और मंत्रोच्चार करे अब विधि विधान से उनका पूजन करें और फिर उन्हें सिंदूर और उनके सबसे प्रिय मोदक यानी लड्डू, पुष्प, और 21 दूर्वा अर्पित करे. गणपति बप्पा को दूर्वा अर्पित करते समय ‘ॐ गणाधिपताय नमः” मंत्र का जाप करे पूजा के बाद लड्डुओं का प्रसाद सभी में वितरित करे इस तरह गणेश चतुर्थी के दिन इस विधि से गणपति जी की पूजा से भक्तो पर उनकी कृपा बरसती है. इसी तरह 10 दिनों तक चलने वाले इस पर्व के बाद 1 सितम्बर मंगलवार के दिन गणपति बप्प्पा का विसर्जन किया जाएगा.