Vasant Panchami 2019 | Date Time Shubh Muhurt | वसंत पंचमी पूजा शुभ मुहूर्त

Vasant Panchami 2019 Kab Hai बसंत पंचमी का त्यौहार कब है

Vasant Panchami Vasant Panchami-पूरे देश में वसंत पंचमी का त्यौहार बड़े ही हर्षोउल्लास के साथ मनाया जाता है है साथ ही इस दिन विभिन्न क्षेत्रों में मेलों का आयोजन भी होता है. माघ महीने के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को वसंत पंचमी के नाम से जाना जाता है। इस दिन को बुद्ध‌ि की देवी मां सरस्वती के जन्म दिवस के रूप मे मनाया जाता है। सभी लोग इस दिन मां सरस्वती की पूजा अर्चना करते है. विद्यार्थी इस दिन पाठ्य सामग्री की भी पूजा करते हैं। आज हम आपको वसंत पंचमी के शुभ मुहूर्त पूजा विधि और इसके महत्व के बारे में बताएँगे.

वसंत पंचमी शुभ मुहूर्त व तिथि 2019 Basant Punchami Puja Shubh Muhurt

  1. साल 2019 में वसंत पंचमी यानि की सरस्वती पूजा का पर्व 10 फरवरी 2019 रविवार को मनाया जाएगा।
  2. इस दिन सरस्वती पूजा का शुभ मुहूर्त 07:15 मिनट से 12:52 मिनट तक का होगा.
  3. पंचमी तिथि 9 फरवरी 2019 शनिवार के दिन 12:25 मिनट पर शुरू होगी.
  4. वही पंचमी तिथि 10 फरवरी 2019 रविवार के दिन 14:08 मिनट पर समाप्त होगी.

वसंत पंचमी पूजा विधि Basant Punchami Puja Vidhi

मान्यताओं के अनुसार माँ सरस्वती की सर्प्रथम पूजा भगवान् श्री कृष्ण द्वारा की गयी थी सरस्वती पूजा के लिये वसंत पंचमी का दिन सर्वश्रेष्ठा माना गया है. माघ माह के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को प्रातःकाल उठकर स्नानादि के बाद पीले वस्त्र धारण कर देवी सरस्वती की पूजा के लिए उनकी तस्वीर मंदिर में स्थापित करे इसके बाद कलश स्थापना कर भगवान गणेश और नवग्रहों की विधिवत पूजा करे. अब इसके बाद माँ सरस्वती की ध्यानपूर्वक आराधना करे.

माँ सरस्वती की पूजा के लिए उन्हें स्नान कराये और फिर उनका श्रृंगार कर उन्हें पुष्प, मिष्ठानादि व दूध से बानी चीजों का भोग लगाए. अंत में माँ सरस्वती के मंत्रो का जाप कर माँ सरस्वती से प्रार्थना करें और विद्या का वरदान मांगे। पूजा के बाद सभी में प्रसाद वितरण करे. इस दिन विद्या से जुड़ी वस्तुओं की पूजा करना भी विशेष रूप से लाभकारी माना गया है.

विद्या प्राप्ति के लिए करे ये 5 उपाय Vasant Puchami Upay

देवी सरस्वती विद्या, बुद्धि, ज्ञान और वाणी की अधिष्ठात्री देवी हैं। माना जाता है इस दिन देवी सरस्वती का पूजन करने से छात्रों को विद्या का वरदान मिलता है। बहुतसी जगहों पर इस दिन शिशुओं को पहला अक्षर लिखना सिखाया जाता है क्योकि इस दिन को विद्या आरंभ करने के लिये शुभ माना गया है। जिन छात्रों को विद्या से सम्बंधित कोई भी परेशानी है या मेहनत के बाद भी जो लोग सफलता हासिल नहीं कर पा रहे है आज हम उन्हें वसंत पंचमी पर किये जाने वाले कुछ ऐसे उपायों के बारे में बताएँगे जिनसे उन्हें अवश्य ही लाभ प्राप्त हो सकता है.

  1. वसंत पंचमी के दिन सर्वप्रथम उठकर स्नानादि के बाद माँ सरस्वती की पूजा अर्चना करे. इस दिन सभी देवी देवताओं व अपने गुरुजनो का आशीर्वाद अवश्य ले.
  2. वसंत पंचमी के दिन माँ सरस्वती की कृपा पाने के लिए पीले वस्त्र धारण करे.
  3. माँ सरस्वती को चंदन से तिलक करे और पीले फूल अर्पित करे.
  4. यदि संभव हो तो इस शुभ दिन किसी जरूरतमंद को विद्या से जुडी वस्तुओं का दान करे.
  5. माँ की स्तुति के बाद संगीत की आराधना भी करनी चाहिए विद्या से जुड़ी वस्तुओं में भी देवी सरस्वती का निवास माना गया है इसीलिए इस दिन उनकी भी पूजा करें।