Surya Grahan Date Time 2019 जुलाई 2019 में 2 बड़े ग्रहण

सूर्यग्रहण चंद्रग्रहण 2019 Lunar eclipse Solar Eclipse Date Time

Surya Grahan Date Time 2019Surya Grahan Date Time 2019- वैज्ञानिक तौर पर सूर्य ग्रहण को सिर्फ एक खगोलिया घटना समझा जाता है लेकिन हिंदू धर्म में सूर्यग्रहण का विशेष महत्व माना गया है. साल 2019 में कुल 5 ग्रहण लगेंगे जिनमे 3 सूर्यग्रहण और 2 चंद्रग्रहण होंगे  आज हम आपको साल 2019  जुलाई माह को लगने वाले सूर्य ग्रहण के समय और इससे जुडी ख़ास बातो के बारे में बताएँगे.

सूर्य ग्रहण क्यों लगता है solar eclipse 2019 list

वैज्ञानिक मतानुसार जब सूर्य और पृथ्वी के बीच में चन्द्रमा आ जाता है तब सूर्य की रौशनी फीकी पड़ने लगती है जिसे हम सूर्यग्रहण के रूप में जानते है. वही यदि हम ज्योतिष की दृस्टि से देखे तो सूर्यग्रहण का सम्बन्ध राहु और केतु की युति से होता है. अर्थात सूर्य की राहू के साथ युति होगी तो ग्रहण दोष बनेगा और अगर केतु के साथ युति होती है तब भी ग्रहण दोष बनता है.

सूर्यग्रहण तिथि व समय solar eclipse 2019 date time

साल 2019 में दूसरा सूर्यग्रहण 2 जुलाई मंगलवार आषाढ़ अमावस्या के दिन लगेगा इस सूर्यग्रहण का सही समय होगा रात्रि 10 बजकर 25 मिनट से रात्रि 3 बजकर 20 मिनट तक | 2 जुलाई के दिन लगने वाला ग्रहण पूर्ण सूर्यग्रहण होगा जो की चार घंटे 33 सेकेंड तक चलेगा। लेकिन ये ग्रहण भारत में नहीं दिखाई देगा| जिस कारण इसका असर भारत में नहीं पड़ेगा.

चंद्रग्रहण तिथि व सूतक काल का समय lunar eclipse 2019 date time list

साल 2019 जुलाई माह में ही लगने वाला दूसरा ग्रहण होगा चंद्रग्रहण जो की 16 जुलाई मगलवार के दिन लगेगा ज्योतिष अनुसार इस दिन गुरु पूर्णिमा भी होगी जिस कारण इस चंद्रग्रहण का विशेष महत्व होगा. यह ग्रहण भारत में देखा जा सकेगा. 16 जुलाई की रात 1.32 मिनट पर खग्रास चंद्र ग्रहण की शुरुआत होगी वही सुबह 4.30 बजे चंद्र ग्रहण का मोक्ष होगा. लगभग 3 घंटे तक ये ग्रहण देखा जा सकेगा. चंद्रग्रहण सूतक काल का समय शुरू होगा 16 जुलाई शाम 4 अबजकर 32 मिनट पर| जो की 4 बजकर 30 मिनट पर समाप्त होगा|

राशिअनुसार जाने साल 2019 का भविष्यफल

ग्रहण के दौरान क्या करे क्या ना करे  What to do or not in Grahan Time Astrology

  • ग्रहण के दौरान वातावरण में बैक्टीरिया तेजी से बढ़ते है जिस कारण इस दौरान भोजन करने से बचने की सलाह दी जाती है.
  • शास्त्रों की माने तो ग्रहण काल के समय किसी भी तरह के शुभ व नया कार्य को करने से बचना चाहिए.
  • ग्रहण काल समाप्त होने के बाद स्नान कर सात प्रकार के अनाज गरीबो को दान करना शुभ होता है
  • ज्योतिष अनुसार ग्रहण काल के समय ओम् नमो भगवते वासुदेवाय मंत्र का जाप करना चाहिए।
  • ग्रहण के समय यदि संभव हो तो घर बैठकर धार्मिक ग्रंथो का पाठ करे.