नवरात्रि भूलकर भी न करे ये 9 काम Shardiya Navratri 2019 Vrat ke Niyam

Shardiya Navratri 2019 Puja Niyam नवरात्री पूजा के नियम

Shardiya Navratri Shardiya Navratri – साल 2019 में शारदीय नवरात्रि का त्यौहार 29 सितम्बर रविवार से शुरू हो रहा है. नवरात्रि माँ दुर्गा के नौ विभिन्न स्वरूपों की पूजा अर्चना और उपवास रखने का पर्व है. यूँ तो साल में 4 बार नवरात्रि आती है जिसमें से चैत्र नवरात्रि और शारदीय नवरात्रि बेहद ख़ास होती है मान्यता है की नवरात्रो में की गयी देवी माँ की आराधना अवश्य ही फलीभूत होती है। शास्त्रों में नवरात्रि के कुछ जरूरी नियम बताये गए है जिनका पालन व्रती को अवश्य ही करना चाहिए. आज हम आपको अपनाये जाने वाले जरूरी नियमो के बारे में बताएँगे

घर खाली छोड़कर ना जाय Shardiya Navrtari Worship Niyam

बहुत से लोग नवरात्रि के दौरान व्रत रखकर घर में अखंड जोत जलाते है और इन नौ दिनों में कलश स्थापना व माता की चौकी का आयोजन भी करते है. अगर आप नवरात्रो में इनमे से कोई भी कार्य करते है तो ऐसे में अपने घर को खाली छोड़कर या बंद कर बाहर नहीं जाना चाहिए. संभव हो तो ऐसे में घर के किसी सदस्य को घर में जरूर रहना चाहिए ताकि वो अखंड जोत का ध्यान रख सके.

नाखून और बाल ना काटे Navrtari Vrat ke Niyam

नवरात्रि का पर्व देवी माँ की भक्ति का पर्व है शास्त्रों की माने तो इस पर्व के दौरान विशेषकर नाखून काटना, बाल काटना या फिर दाढ़ी मूछ बनवाने जैसे कार्य नहीं करने चाहिए. भले ही नाखून काटना एक अच्छी आदत है लेकिन शास्त्रों में नवरात्रो के 9 पवन दिनों में इस तरह के कार्य वर्जित माने गए है.

प्याज लहसुन से परहेज Navrtari Worship Date Time Niyam

मान्यता है की जो लोग नवरात्रि के दौरान व्रत रखते है घर में कलश स्थापना करते है या फिर माता की चौकी का आयोजन करते है विशेषकर उन लोगो को इस नौ दिनों तक प्याज, लहसुन से परहेज करना चाहिए जहाँ तक संभव हो इस दौरान सात्विक भोजन ही ग्रहण करना चाहिए.

गुस्से से दूर रहे Navrtari Worship Niyam

नवरात्रि के इन दिनों में माँ के 9 अलग-अलग रूपों की पूजा की जाती है शास्त्रों की माने तो जहाँ तक संभव हो सके नवरात्रि के इन नौ दिनों तक घर का वातावरण शांत और भक्तिमय बनाये रखना चाहिए.  इससे देवी माँ प्रसन्ना होकर आपकी मनोकामना पूरी करती है नवरात्रि के नियमो के अनुसार 9 दिनों तक मन को शांत रखकर व्रत व पूजा पाठ करना बहुत ही शुभ होता है.

भिक्षुओं को दान करे Navrtari Worship Niyam According Astrology

कहा जाता है की नवरात्रि के इन 9 दिनों में यदि आपके घर कोई भिक्षु आ जाय तो कोशिश करनी चाहिए की उसे खाली हाथ नहीं लौटना चाहिए. विशेषकर इस बात का खास ख्याल रखे की द्वार पर आये भिक्षु या गरीब को अपनी जरूरत और श्रद्धा अनुसार भोजन कराकर कुछ न कुछ दान अवश्य करना चाहिए ऐसा करना बहुत ही शुभ फल देने वाला होता है.

शुद्धता का ख्याल रखे Navrtari Kya kare Kya Na Kare

नवरात्रि के दौरान घर में शुद्धता और पवित्रता का खास ख्याल रखना चाहिए घर व मंदिर के साथ ही खुद की स्वछता का भी ध्यान रखे इससे घर में सकारात्मक उर्जा का संचार होकर घर से सारी नकारात्मक उर्जा दूर हो जाती है. इन नौ दिनों में पवित्रता और सात्विकता के साथ की गयी माँ की भक्ति व आराधना करना शुभ होता है.

राशिअनुसार जाने साल 2019 का भविष्यफल

चमड़े का इस्तेमाल ना करे Navrtari Worship Niyam

प्रचीन मान्यताओं के अनुसार ऐसा माना जाता है देवी माँ की आराधना के इन नौ दिनों तक यदि संभव हो तो चमड़े और चमड़े से बनी चीजों का प्रयोग करने से बचना चाहिए क्योकि शास्त्रों में किसी भी तरह की पूजा और व्रत में लेदर और चमड़े की चीजों का इस्तेमाल निषेध माना गया है.

किसी का अपमान करने से बचे Navrtari Worship Niyam

नवरात्रि माँ की सच्ची श्रद्धा और भक्ति का पर्व है जिस तरह से इस दौरान घर में पवित्रता बनाये रखनी चाहिए ठीक उसी तरह से मन को भी पवित्र रखना चाहिए. इस दिनों किसी भी बड़े-बूढ़े, बच्चे या फिर घर पर आये किसी अन्य व्यक्ति का किसी भी तरह से अपमान नहीं करना चाहिए बल्कि पूरे मान सम्मान से उनका आदर सत्कार करना चाहिए. इस तरह नवरात्रि के दौरान इस नियमो का पालन करने पर भक्तो की सभी मनोकामनाएं पूरी होती है.