शनि राशिपरिवर्तन शनि की साढ़ेसाती ढैय्या प्रभाव 2020 Shani Sadesati Dhaiya

शनि का मकर राशि में प्रवेश 12 राशियों पर असर Saturn Transit 2020 Effect 12 Zodiacs  

शनि राशि परिवर्तनशनि राशि परिवर्तन- ज्योतिष शास्त्र में शनि ग्रह का विशेष महत्व है शनि देव को न्याय के देवता माना जाता है. साल 2020 में शनि 24 जनवरी शुक्रवार के दिन दोपहर 12 बजकर 10 मिनट पर धनु राशि से अपनी स्व राशि मकर राशि में गोचर करेंगे. संयोग वश साल की पहली और बड़ी मौनी अमावस्या भी इसी दिन है.  ज्योतिष अनुसार ये महासंयोग करीब 150 साल बाद बन रहा है शनि एक राशि में करीब ढाई साल तक रहते है इसीलिए अगले आने वाले ढाई साल शनि मकर राशि में ही विराजमान रहेंगे उसके बाद कुंभ में प्रवेश करेंगे। आज इस वीडियो में हम आपको 24 जनवरी 2020 शनि के राशिपरिवर्तन के साथ किन राशि वालों पर शनि साढ़े साती और ढैय्या शुरू होने के साथ ही किन राशियों पर से उतरेगी और इसके अलावा जानेगे की सभी 12 राशियों पर इसका क्या प्रभाव पड़ेगा.

किन पर रहेगा शनि साढ़े साती का प्रभाव Shani Ka rashi parivartan 2020 shani sadesati 2020

साल 2020 में 24 जनवरी से कुंभ राशि के जातको पर शनि की साढ़े साती का प्रथम चरण शुरू हो जाएगा. ज्योतिष अनुसार धनु और मकर राशि पहले से ही साढ़े साती के प्रभाव में हैं। लेकिन 24 जनवरी के दिन न्याय के देवता शनि के राशि बदलते ही मकर वालों पर इसके दूसरे चरण की तो वही धनु राशि वालों पर साढ़े साती के अंतिम चरण की शुरुआत हो जायेगी। इन तीनों ही राशियों के जातकों को साढ़ेसाती के प्रभाव के चलते अपनी लाइफ में इस दौरान कई उतार चढ़ाव का सामना करना पड़ सकता है.

किन राशियों को शनि साढ़े साती से मिलेगी मुक्ति Shani sade sati Effect Zodiacs

शनि राशि परिवर्तन ज्योतिष अनुसार 24 जनवरी 2020 शुक्रवार के दिन शनि के मकर राशि में प्रवेश करते ही वृश्चिक राशि वालों पर से शनि की साढ़े साती समाप्त हो जायेगी। लेकिन साढ़े साती का प्रभाव उनके जीवन से धीरे धीरे समाप्त होगा क्योकि ऐसा माना जाता है की शनि धीमी चाल से चलते है इसलिए इनकी महादशा समाप्त होने के बावजूद उस महादशा का प्रभाव पूरी तरह से समाप्त होने में भी कुछ समय लग सकता है.

किन पर रहेगी शनि की ढैय्या Shani ka Dhaiya 2020

शनि राशि परिवर्तन बात करे अगर शनि की ढैय्या की तो शनि की साढ़े साती के साथ ढैय्या भी परेशान करती है। ज्योतिष अनुसार शनि जब भी चंद्र से चौथे या आठवें भाव में राशि परिवर्तन करते है तब उस राशि पर शनि की ढैय्या प्रारम्भ होती है बात करे साल 2020 में शनि की ढैय्या की तो ये इस वर्ष मिथुन और तुला राशि वालों पर शुरू होने जा रही है। जिस कारण शनि की ढैय्या का प्रभाव इन राशियों के जातको पर पड़ेगा| जहाँ एक ओर तो मिथुन राशि के जातको को सेहत और करियर के प्रति बेहद सचेत रहना होगा तो वही तुला राशि के जातको पर शनि के इस राशि परिवर्तन का सकारात्मक प्रभाव देखने को मिलेगा|

किसकी होगी शनि की ढैय्या समाप्त Shani ka Dhaiya Saturn transit 2020

शनि राशि परिवर्तन 24 जनवरी 2020 को शनि के मकर राशि में जाने से कन्या और वृषभ राशि के जातकों को शनि की ढैय्या से छुटकारा मिल जाएगा और जिसके प्रभाव के चलते वृषभ राशि वालो के पराक्रम व सहस में वृद्धि होगी तो वहीं कन्या राशि के जातको को धन लाभ के साथ ही अन्य क्षेत्रों में भी सकारात्मक परिणाम प्राप्त होंगे.

शनि की साढ़े साती और ढैया के अशुभ प्रभावों से बचने के उपाय Shani ki sadesati upay

शनि राशि परिवर्तन ज्योतिष अनुसार जब भी किसी राशि पर शनि की साढ़े साती या ढैया लगती है तब उस राशि के जातको पर इन महादशाओं का नकारात्मक असर देखने को मिलता है साढ़ेसाती का अर्थ है साढ़े सात साल से और ढैय्या का अर्थ पूरे ढाई साल से है| लेकिन कहा जाता है की शनि की साढ़ेसाती हमेशा बुरा प्रभाव नहीं डालती बल्कि इस महादशा का प्रभाव व्यक्ति की जन्म कुंडली के योगों पर निर्भर करता है. शनि की साढ़ेसाती और ढ़ैय़्या की महादशा के कारण जीवन में पड़ने वाले नकारात्मक प्रभावों को कम करने के लिए आइये जानते है कुछ प्रभावशाली उपाय|

इसे भी पढ़े – जानें अपना वार्षिक राशिफल 2020

  1. प्रत्येक शनिवार के दिन तेल का दान मंदिर में या किसी जरूरतमंद व्यक्ति को करने से शनि के बुरे प्रभाव कम होते है.
  2. शनिवार के दिन घोड़े के नाल की अंगूठी शुद्ध करके पहनने से भी इस महादशा के नकारात्मक प्रभाव कम होते है.
  3. हनुमान मंदिर में हर रोज श्री हनुमान चालीसा का पाठ कर सात बार परिक्रमा करना शुभ होता है.
  4. शनि दशा के बुरे प्रभावों को कम करने के लिए प्रत्येक शनिवार को पीपल के पेड़ पर जल चढ़ाकर दीपक जलाये.
  5. शनि की साढ़ेसाती के नकारात्मक प्रभाव से बचने के लिए “ऊँ शं शनैश्चराय नमः मंत्र का जप करे.