सावन सोमवार व्रत शुभ मुहूर्त पूजा विधि Sawan Somwar Vrat 2019

सावन सोमवार व्रत पूजा विधि महत्व Sawan Somwar Date Time 2019

Sawan Somwar Vrat 2019Sawan Somwar Vrat 2019- सावन मास का खासकर हिंदू धर्म में बड़ा महत्व है। इस महीने में भगवान शिव की पूजा-आराधना की जाती है हिंदू पंचांग के अनुसार सावन सोमवार व्रत का सर्वाधिक महत्व बताया जाता है। क्योकि ये महीना भगवान भोलेनाथ को सबसे अधिक प्रिय होता है। शिव पुराण के अनुसार जो व्यक्ति सावन के व्रत रखने है भगवान शिव उसकी समस्त मनोकामनाओं को पूरा करते हैं। आज हम आपको साल 2019 में सावन महीने की शुभ तारीखे शुभ मुहूर्त और भगवन शिव को प्रसन्न करने के लिए इस महीने की जाने वाली विशेष पूजा विधि के बारे में बताएँगे.

सावन महीने की शुरुआत Sawan Somwar Fast Starting Date 2019

साल 2019 में सावन का महीना 17 जुलाई बुधवार से शुरू होगा और यह 15 अगस्त तक चलेगा। शास्त्रों और ज्योतिष की माने तो इस साल सावन महीने की शुरुआत चंद्र ग्रहण से हो रही है। क्योकि 16 जुलाई की रात को चंद्रग्रहण होगा जो की 17 जुलाई की सुबह 4 बजकर 30 मिनट तक चलेगा इसी दिन से सावन माह भी शुरू हो जाएगा। 17 जुलाई बुधवार को सूर्य मिथुन राशि से कर्क में प्रवेश करेंगे|

सावन सोमवार की तिथियां Sawan Month 2019

  1. साल 2019 में सावन माह की शुरुआत 17 जुलाई बुधवार से होगी.
  2. सावन माह का पहला सोमवार- 22 जुलाई को होगा।
  3. दूसरा सावन सोमवार – 29 जुलाई
  4. तीसरा सावन सोमवार – 5 अगस्त
  5. चौथा सावन सोमवार – 12 अगस्त के दिन पड़ेगा।
  6. और 15 अगस्त गुरुवार के दिन सावन महीना समाप्त होगा|

सावन व्रत और पूजा विधि Sawan Somwar Puja Vidhi

सावन माह शिव को समर्पित है इसी मास में शिव भक्त काँवर यात्रा का आयोजन करते है। सावन के पवित्र महीने में तीन प्रकार के व्रत रखे जाते है सावन सोमवार, सोलह सोमवार, और प्रदोष व्रत| सावन महीने के व्रत में प्रातः काल उठकर सभी दैनिक कार्यो से निवृत्त होकर स्नान करें और पूजा स्थल को स्वच्छ कर वेदी की स्थापना करे| शिव मंदिर में शिवलिंग पर दूध चढ़ाकर भक्ति भाव से महादेव के व्रत का संकल्प लें शिव पूजा के लिए तिल के तेल का दीपक जलाकर मंत्रोच्चार सहित सभी पूजन सामग्री और पुष्प अर्पण करें भगवान शिव को बेलपत्र बहुत अधिक प्रिय है इसीलिए सावन महीने में शिव पूजा के दौरान बेलपत्र अवश्य चढ़ाये इसके बाद सावन व्रत कथा का पाठ कर प्रसाद वितरण करें संध्याकाल की पूजा के बाद व्रत खोलकर भोजन ग्रहण करे.

राशिअनुसार जाने साल 2019 का भविष्यफल

सावन मास का महत्व Importance of Sawan Somwar

शास्त्रों की माने तो सावन मास में की गयी शिव पूजा बहुत अधिक फलदायी मानी जाती है इस मास की पूजा के फ़लस्वरूप की गयी कामना जल्द ही पूरी होती है सावन मास के सोमवार का व्रत करने से महादेव अपने भक्तो को मनोवांछित फल देते है और उनके जीवन में सुख समृद्धि व शांति का वास होता है.