Ram Navami 2019 Date Time Muhurt राम नवमी 2019 शुभ मुहूर्त व तिथि

राम नवमी पूजा विधि 2019 Ram Navami Puja Vidhi

Ram NavamiRam Navami राम नवमी का त्यौहार पूरे भारतवर्ष में बड़े हर्षोउल्लास के साथ मनाया जाता है. इस दिन भगवान श्री राम की आराधना की जाती है भगवान श्रीराम विष्णु जी के अवतार थे जिन्होंने अधर्म का नाश किया और धर्म की स्थापना की थी। प्रभु श्री राम का जन्म अयोध्या के राजा दशरथ के यहाँ हुआ था. चैत्र महीने के शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि को श्री राम जी का जन्मदिवस के रूप में मनाया जाता है। इस दिन रामभक्त दूर दूर से अयोध्या नगरी आते हैं और स्नान कर राम मंदिर में भगवान श्री राम का जन्मोत्सव भी बड़े धूम-धाम से मनाया जाता है। आज हम आपको साल 2019 राम नवमी पर्व के शुभ मुहूर्त पूजा विधि और इसके महत्व के बारे में बताएँगे.

राम नवमी 2019 शुभ मुहूर्त व तिथि Ram Navami Date Time

  1. साल 2019 में राम नवमी का पर्व 14 अप्रैल रविवार के दिन मनाया जाएगा.
  2. राम नवमी पूजा का शुभ मुहूर्त = दोपहर 11:05 मिनट से 13:37 मिनट तक का होगा.
  3. राम नवमी मध्याह्न पूजा का शुभ मुहूर्त = दोपहर 12:21 बजे का होगा।
  4. नवमी तिथि आरंभ होगी = 13 अप्रैल 2019 शनिवार के दिन 11:41 मिनट पर।
  5. वही नवमी तिथि समाप्त होगी = 14 अप्रैल 2019 रविवार के दिन 09:35 बजे।

राम नवमी की पूजा विधि Ram Navami Pujan Vidhi

श्री रामनवमी का त्यौहार सभी प्रमुख त्योहारों में से एक है जिसे देश-दुनिया में सच्चे मन और श्रद्धा भाव से मनाया  जाता है. इस दिन प्रातः काल उठकर सर्वप्रथम अपने दैनिक कार्यो से निवृत्त होकर स्वच्छ वस्त्र धारण करने चाहिए. इसके बाद पूजा स्थल की सफाई कर सभी पूजन सामग्री एकत्रित कर ले. भगवान राम जी प्रतिमा को फूल-माला से सजाकर उसकी स्थापना कर ले इस दिन भगवान राम की प्रतिमा को पालने में झुलाने का भी विधान है. मान्यता है की भगवान श्री राम की पूजा के समय तुलसी के पत्ते और कमल का फूल अवश्य रखना चाहिए उसके बाद श्रीराम नवमी की पूजा विधिवत शुरू करे और भगवान राम को खीर प्रसाद स्वरुप भोग लगाए. इस दिन रामायण का पाठ, रामरक्षा स्त्रोत करना अति शुभ माना गया है कई मंदिरों और जगहों पर भजन-कीर्तन का आयोजन किया जाता है।

रामनवमी के दिन बनाये जाने वाले विशेष व्यंजन व भोग Ram navami Bhog

पौराणिक कथाओं के अनुसार भगवान श्री राम जी का जन्मोत्सव राम-नवमी के रूप में मनाया जाता है। कहा जाता है की राम जी का जन्म दोपहर के समय हुआ था इसलिए इस दिन सभी रीति-रिवाज़ और पूजन दोपहर के समय किये जाते है इस दिन प्रसाद और भोग के रूप में पंचामृत, श्री खंड, खीर या हलवा दूध और घी आदि चढ़ाया जाता है.

धनप्राप्ति के 6 सरल उपाय Ram Navami Dhanprapti ke Upay

धनप्राप्ति की इच्छा भला किसे नहीं होती अगर आप भी किसी तरह की आर्थिक तंगी से परेशान है या फिर आपकी कोई मनोकामना है तो इस राम नवमी इन आसान उपायों को अपनाकर धनप्राप्ति के साथ साथ अपनी मनोकामना भी पूरी कर सकते है.

राशिअनुसार जाने साल 2018 का भविष्यफल 

  1. नवरात्रि के नौवें दिन रामनवमी का पर्व मनाया जाता है इस दिन मां दुर्गा के नवमें स्वरूप सिद्धिदात्री की पूजा कर मां दुर्गा के नाम से दीप प्रज्ज्वलित करें।
  2. किसी गरीब व जरूरतमंद को अपनी सामर्थ्य अनुसार दान-पुण्य करें।
  3. राम जी के जन्मोत्सव के इस महापर्व को इस तरह से मनाये जैसे घर में किसी नन्हे मेहमान के आगमन पर मनाते है.
  4. यदि संभव हो तो इस दिन कुंआरी कन्याओं को भोजन कराकर कुछ न कुछ उपहार सामर्थ्य अनुसार अवश्य भेंट करें।
  5. इस दिन माँ दुर्गे और प्रभु राम जी के नाम और पूजा के साथ किसी भी प्रकार के शुभ कार्य या नए व्यवसाय की शुरुआत करे.
  6. राम नवमी के पर्व पर रामरक्षास्त्रोत, राम मंत्र, हनुमान चालीसा, बजरंग बाण, सुंदर कांड आदि का पाठ करे माना जाता है की ऐसा करने पर आपको अक्षय पुण्य की प्राप्ति के साथ अपार धन संपदा प्राप्ति के योग बनते है.