मौनी अमावस्या शुभ संयोग मुहूर्त 2020 Mauni Amavasya Date Time 2020  

मौनी अमावस्या व्रत पूजा विधि व उपाय Mauni Maaghi Amavasya Vrat Tithi Upay 2020

Mauni AmavasyaMauni Amavasya- माघ माह की अमावस्या जिसे मौनी अमावस्या के नाम से भी जानते है यह योग पर आधारित एक ऐसा महाव्रत है जिसे मौन रहकर पूरा किया जाता है. इस दिन पवित्र संगम में स्नान का बड़ा महत्व है. मौनी अमावस्या के दिन मौन व्रत धारण कर मन को संयमित करके काम, क्रोध, लोभ, मोह आदि से दूर रखना चाहिए। वर्ष 2020 में मौनी अमावस्या का व्रत 24 जनवरी शुक्रवार के दिन रखा जाएगा है। इस दिन शुक्रवार और साल के सबसे बड़े राशिपरिवर्तन का संयोग बनेगा जो बेहद ख़ास होगा आज हम आपको 2020 मौनी अमावस्या व्रत तिथि शुभ मुहूर्त पूजा विधि और इस दिन बन रहे शुभ संयोग के बारे में बताएँगे.

माघी अमावस्या शुभ संयोग 2020 Maghi Amavasya Shubh Sanyog 2020 

ज्योतिष की दृस्टि से देखे तो शनि का राशिपरिवर्तन बहुत ही खास माना जाता है क्योकि अन्य ग्रहो की अपेक्षा शनि एक ऐसा ग्रह है जो सबसे देर में अपनी राशि बदलते है जिस कारण इसका प्रभाव लम्बे समय तक रहता है साल 2020 में 24 जनवरी शुक्रवार के दिन मौनी अमावस्या के मौके पर शनि करीब ढाई साल बाद अपनी ही राशि मकर राशि में प्रवेश करेंगे और अगले ढाई साल तक इसी राशि में रहेंगे शास्त्रों के अनुसार इस शुभ संयोग में किये गए दान पुण्य और विशेष उपायों के प्रभाव से व्यक्ति बिगड़े हुए काम भी बन जाते है.

मौनी अमावस्या व्रत तिथि शुभ मुहूर्त 2020 Mauni Amavasya Date Timing 2020

  1. साल 2020 में मौनी अमावस्या का व्रत 24 जनवरी शुक्रवार के दिन रखा जाएगा|
  2. अमावस्या तिथि शुरू होगी – 24 जनवरी शुक्रवार प्रातकाल 02:17 मिनट पर |
  3. अमावस्या तिथि समाप्त होगी – 25 जनवरी शनिवार प्रातःकाल 03:11 मिनट पर |

मौनी अमावस्या व्रत पूजा विधि Mauni Amavasya Pooja Vidhi

मौनी अमावस्या के दिन सबसे पहले गंगा जी में स्नान कर या घर पर ही स्नान के पानी में गंगाजल डालकर स्नान करे और इसके बाद विष्णु जी का ध्यान कर व्रत का संकल्प लेकर विष्णु जी की विधिवत पूजा आराधना कर तुलसी की 108 बार परिक्रमा करे और अंत में पूजा के बाद दान करना शुभ होता है.

मौनी अमावस्या व्रत का महत्व Mauni Amavasya Importance

मौनी अमावस्या के दिन मौन व्रत रखने का भी विधान है. इस व्रत का अर्थ व्यक्ति को अपनी इन्द्रियों को अपने वश में रखने से है| कई लोग इस दिन मौन व्रत रखने का प्रण करते हैं. कुछ लोग एक दिन, कुछ लोग कई दिनों तक मौन व्रत धारण करने का संकल्प लेकर इस व्रत की शुरुआत करते है. शास्त्रों के अनुसार इस अमावस्या पर व्रत करने से व्यक्ति की दुख-दारिद्र्य दूर होकर उन्हें सभी कार्यो में सफलता प्राप्त होती है साथ ही इस दिन पवित्र नदियों में स्नान से विशेष पुण्य फलों की प्राप्ति होती है.

मौनी माघी अमावस्या महाउपाय Mauni Amavashya Mahaupay

ऐसी मान्यता है कि माघ माह में आने वाली मौनी अमावस्या पर देवता धरती पर रूप बदलकर आते है और गंगा स्नान करते है इसीलिए इस दिन यदि स्नान, दान के साथ ही कुछ उपाय भी कर लिए जाय तो व्यक्ति के सारे काम बनने लगते है और उसे प्रत्येक कार्य में सफलता मिलने लगती है आइये जानते है इस दिन किये जाने वाले इन चमत्कारिक उपाय क्या है.

इसे भी पढ़े – जानें अपना वार्षिक राशिफल 2020

  1. अमावस्या के दिन यदि शाम के समय घर के ईशान कोण में गाय के शुद्ध घी का दीपक जलाया जाय तो इस उपाय मात्र से व्यक्ति को जीवन में सफलता प्राप्त होती है और साथ ही यदि संभव हो सके तो इस दीये में थोड़ी-सी केसर डालने से मां लक्ष्मी प्रसन्न होती है और व्यक्ति को धन सम्पदा का वरदान देती है.
  2. इस दिन पूरे शिव परिवार को चावल की खीर अर्पित करने से कारोबार में वृद्धि और तरक्की होती है.
  3. माना जाता है की यदि आज के दिन सुबह स्नान के बाद मछलियों को आटे की गोलियां बनाकर खिलाई जाय तो इस उपाय से जीवन की सभी परेशानियां दूर हो जाती है.