हथेली में सुन्दर जीवनसाथी की रेखा Marriage Line Palm Reading

 हथेली में सुन्दर जीवनसाथी की रेखा Palmistry Marriage Line

Marriage Line Palm ReadingMarriage Line Palm Reading – दोस्तों, हमारी हथेली में कई सारी रेखाएं होती है जिनमे से एक विवाह रेखा है. जो हमारे वैवाहिक जीवन के बारे में बताती है। हथेली में विवाह रेखा बहुत ही छोटी होती है परंतु व्यक्ति के जीवन में बहुत प्रभावशाली होती है।हस्तरेखा ज्योतिष के अनुसार विवाह रेखा देखकर हमारे भविष्य के वैवाहिक जीवन के बारे में जाना जा सकता है। यही नहीं बल्कि हथेली की विवाह रेखा देखकर हम यह भी जान सकते है कि हमारा जीवनसाथी कितना सुन्दर होगा. हथेली में विवाह रेखाओं की संख्या चार तक हो सकती है। इनमें से एक रेखा ही सर्वाधिक पुष्ट एवं लंबी होती है। तो चलिए दोस्तों अब जानते है कि सुन्दर जीवनसाथी कि रेखा हथेली में किस और होती है.

सबसे पहले जानते है हथेली की कुछ महत्पूर्ण रेखाओ के बारे में. जिन्हे विवाह रेखा से पहले जानना जरूरी है.

विवाह रेखा कहाँ पर होती है –

छोटी उंगली के नीचे वाले भाग को बुध पर्वत कहा जाता है। बुध पर्वत से बाहर निकलने वाली रेखा को विवाह रेखा कहा जाता है। यह रेखा कनिष्ठिका अंगुली (यानि सबसे छोटी ऊँगली) के नीचे और हृदय रेखा के ऊपर होती है।

दोनों हथेली में समान विवाह रेखा –

यदि दोनों हाथों में विवाह रेखा (Marriage Line) एक जैसी हो तो ऐसे लोगों का वैवाहिक जीवन सुखी होता है। इनका अपने जीवन साथी से सामंजस्य बना रहता है। और इनका जीवनसाथी भी इनसे बहुत प्रेम करने वाला होता है. यही नहीं बल्कि ऐसे लोगो की अपने जीवनसाथी से बॉन्डिंग काफी अच्छी भी हो सकती है.   

दो विवाह रेखा –

यदि आपके दाए हाथ में एक विवाह रेखा और बाए हाथ में दो विवाह रेखा हो तो ये बहुत ही शुभ माना जाता है. हस्तरेखा ज्योतिष के अनुसार ऐसे लोगो को सुन्दर जीवनसाथी मिलने की बहुत अधिक संभावना रहती है. यही नहीं बल्कि ऐसे लोगो के जीवनसाथी सर्वगुणसम्पन्न भी होते है. और इनका बहुत ज्यादा ध्यान रखते है. इसके आलावा इनके पार्टनर के साथ इनकी अंडरस्टैंडिंग भी काफी कमाल की होती है.

यदि विवाह रेखा सीधी और स्पष्ट हो –

यदि आपकी हथेली की विवाह रेखा सीधी और स्पष्ट है तो हस्त रेखा ज्योतिष अनुसार हथेली में ऐसी रेखा का होना शुभ माना जाता है। माना जाता है कि ऐसे लोगो का वैवाहिक जीवन बहुत ही सुखमय होता है. इसके आलावा इन लोगों का अपने जीवन साथी से काफी अच्छा तालमेल होता है।

विवाह रेखा लम्बी और सूर्य पर्वत तक जाती है –

यदि किसी व्यक्ति की हथेली में विवाह रेखा लम्बी और सूर्य पर्वत तक जाती है तो यह सुंदर, सर्वगुणसंपन्न और समृद्ध जीवन साथी का प्रतीक माना जाता है। इन लोगों का वैवाहिक जीवन बहुत सुखी रहने के योग रहते  है। यही नहीं बल्कि जिंदगी भर इनका पार्टनर इनका मान – समान करता है. हस्तरेखा ज्योतिष अनुसार यह भी माना जाता है कि ऐसे लोगो का शादी के बाद किस्मत चमकने के योग रहते है. अतः शादी के बाद इनका स्टेटस अधिक उच्चा हो सकता है.

ह्रदय रेखा का बृहस्पति पर्वत तक जाना –

अगर ह्रदय रेखा सीधी बृहस्पति की ओर चले जाये या बृहस्पति की ओर तक पहुंच जाये तो इस अवस्था में रिच पार्टनर के योग काफी ज्यादा रहते है. इन्हे ऐसा पार्टनर मिलता है जिनके कॉन्टेक्ट्स भी उच्चे लोगो से होते है. माना जाता है जिन लोगो के हाथ में ऐसे योग बनते है शादी के बाद ऐसे लोगो का भाग्य बढ़ने लगता है अतः विवाह के बाद इनकी किमसात चमकने लगती है.

शादी की उम्र –

विवाह रेखा और हृदय रेखा के बीच की दूरी ही व्यक्ति के विवाह की उम्र बताती है। यदि किसी व्यक्ति की हथेली में विवाह रेखा और हृदय रेखा के बीच की दूरी काफी ज्यादा कम है तो ऐसे लोगों की शादी कम उम्र में होने की अधिक संभावनाएं रहती है। और यदि हथेली में दोनों रेखाओ के बीच की दुरी बहुत अधिक होती है तो ऐसे लोगो का विवाह अधिक समय बाद होने के संकेत है.

हस्तरेखा से जाने कब चमकेगी किस्मत

विवाह रेखा मुड़ी हुई –

विवाह रेखा सीधे निकलते हुए थोड़ा कर्व लिए ऊपर की और हो तो हस्तरेखा ज्योतिष अनुसार ऐसी रेखा बहुत ही शुभ मानी जाती है.इन्हे सुन्दर पार्टनर के साथ ही इंटेलीजेंट पार्टनर मिलने की भी अधिक संभावना रहती है. इसके आलावा ऐसे लोगो का पार्टनर इनकी हर बात मानाने वाला होता है.

विवाह रेखा यदि हृदय रेखा की और झुकी हो.

यदि विवाह रेखा यदि हृदय रेखा की और झुकी हो तो हस्तरेखा ज्योतिष अनुसार ऐसे लोगो का वैवाहिक जीवन सामान्य रहता है हालाँकि इनकी अपने पार्टनर के साथ बॉन्डिंग भी कमाल की रहती है. जिन लोगो की हथेली में विवाह रेखा हृदय रेखा की ओर झुकी होती है ऐसे लोग बहुत दयालु होते है इसलिए शादी के बाद इनका जीवनसाथी इन्हे हर बात में सलाह देना और अपनी देख रेख में रखना पसंद नहीं करते है यही नहीं बल्कि कई मोको में इनकी राय लेना भी जरूरी समझते है.

भाग्य रेखा पर चंद्र से आकर कोई रेखा का स्पर्श होना –

अगर भाग्य रेखा सीधी हो और चंद्र से आकर कोई रेखा आकर भाग्य रेखा पर स्पर्श करें तो ज्योतिष अनुसार हथेली में ऐसी ऐसी रेखा काफी शुभ मानी जाती है. ऐसे लोगो का जीवन काफी सुन्दर होने के साथ ही अच्छे स्टेटस का भी होता है. शादी के बाद ऐसे लोगो के जीवन में कई सारे पॉजिटिव बदलाव आते है. इसके आलावा ये भी माना जाता है कि शादी के बाद इन लोगो का भाग्य कई गुना तेजी से बढ़ता है. और इनका वैवाहिक जीवन बहुत सुखमय रहता है.

बड़ी उम्र के पार्टनर के योग –

दोस्तों बता दे कि कुछ भाग्य रेखा मडिबंध से भी शुरू होती है. यदि हथेली में कोई रेखा मडिबंध से शुरू होकर शुक्र से जाकर शनि पर्वत तक जाती है तो ऐसे लोगो का अपने से बड़े उम्र के लोगो से विवाह होने कि संभावना काफी बढ़ जाती है. लेकिन पार्टनर के उम्र में बड़े और mature  होने से इनका वैवाहिक जीवन सुखी रहता है.

फेमस और रिच पार्टनर के योग –

यदि कोई भाग्य रेखा मडिबंध से निकलते हुए सूर्य से गुजरते हुए वापस सूर्य रेखा पर आ जाये या सूर्य रकेः सीधी ऊपर कि और जा रही है तो ये काफी शुभ संकेत माना जाट है. ऐसे लोगो कि मैरिज लाइफ के शानदार होने के साथ ही पार्टनर के रिच और फेमस होने के योग अधिक रहते है अतः यदि आपकी हथेली में यह रेखा है तो आपका विवाह रिच और फेमस व्यक्ति से होने के योग काफी बढ़ जाते है.

उम्र से बड़े व्यक्ति से विवाह

अगर कोई भाग्य रेखा मडिबंध से निकलते हुए सूर्य पर्वत से निकलकर वापस सूर्य रेखा पर जाये या कोई सूर्य रेखा ऊपर की और जाते हुए इस रेखा को टच करें तो ऐसी अवस्था में भी विवाह अपने से उम्र में बड़े व्यक्ति से होने की संभावना काफी अधिक रहती है. साथ ही ऐसे लोगो का विवाह बहुत ही रिच और फेमस व्यक्ति से होने के चांसेस अधिक रहते है.