माघ गुप्त नवरात्रि कब से कब तक 2020 Gupt Navratri Do Not These Things Navratri

गुप्त नवरात्रि क्या करे क्या न करे Gupt Navratri Kya Kare Kya Na Kare  

गुप्त नवरात्रिगुप्त नवरात्रि- शास्त्रों के अनुसार पूरे सालभर में चार बार नवरात्रि आती है जिसमे से 2 सामान्य और 2 गुप्त नवरात्रि होती है. गुप्त नवरात्रि की पूजा में मां दूर्गा के नौ स्वरूपों की पूजा के बजाय 10 महाविद्याओं की पूजा आराधना की जाती है। विशेषकर तंत्र पूजा के लिए गुप्त नवरात्रि बेहद खास होती है. गुप्त नवरात्रि आषाढ़ और माघ महीने में मनाई जाती है। इस बार माघ महीने की गुप्त नवरात्रि 25 जनवरी से शुरू होकर 4 फ़रवरी तक चलेंगी. जिस दौरान ग्रहो के अधभुद संयोग के साथ सर्वार्थ सिद्धि और द्विपुष्कर योग भी देखने को मिलेंगे. मान्यता है की तंत्र साधना और सिद्धियों की प्राप्ति के लिए गुप्त नवरात्रि में पूजा के दौरान कुछ विशेष सावधानियां बरतनी चाहिए। ताकि आपको पूजा का संपूर्ण फल प्राप्त हो सके आइये जानते है गुप्त नवरात्रि के दौरान किन बातो का विशेष रूप से ध्यान रखना चाहिए.

नाखून व बाल न कटवाए Gupt Navratri Do Not These Things

गुप्त नवरात्रि के दौरान विशेषकर जिन नियमो का पालन करना चाहिए उनमे से एक है बाल नाखून व दाढ़ी मूंछ न बनवाना| यह नवरात्रि तंत्र साधना के लिए बहुत ही खास होती है जिस कारण इसके नियम भी बहुत कड़े होते है इसलिए शास्त्रों के अनुसार मान्यता है की इस दौरान विशेषकर नाखून काटना, बाल काटना या फिर दाढ़ी मूछ बनवाने जैसे कार्य नहीं करने चाहिए. माँ काली की भक्ति के इन 10 दिनों में इन कार्यो को वर्जित माना गया है.

घर छोड़कर कही न जाए Gupt Navratri Date Time 2020

सामान्य नवरात्रि की तरह ही गुप्त नवरात्रि में भी घट स्थापना की जाती है देवी को प्रसन्न करने के लिए  लोग इस दौरान व्रत रखकर घर में अखंड जोत, घट स्थापना व माता की चौकी का आयोजन करते है. जो भी लोग माँ की साधना के लिए इनमे से कोई भी कार्य करते है तो उन्हें इस दौरान विशेस्कर घर को खाली छोड़कर या बंद करके बाहर नहीं जाना चाहिए.

प्याज लहसून के प्रयोग से बचे Gupt Navratri Pooja Muhurat

गुप्त नवरात्रि में दस दिनों तक देवी माँ की आराधना की जाती है मान्यता है की जो लोग नवरात्रि के दौरान व्रत रखकर 10 विधाओं की पूजा करते है विशेषकर उन्हें इन दस दिनों तक प्याज, लहसुन या तामसिक भोजन से परहेज करना चाहिए. जहाँ तक संभव हो इस दौरान सात्विक भोजन ही ग्रहण करे.

घर में कलह न करे Gupt Navratri Worship Do Not These Tings

गुप्त नवरात्रि के दौरान देवी दुर्गा को खुश करने के लिये कड़े नियमो का पालन करना पड़ता है। शास्त्रों की माने तो गुप्त नवरात्रि के इन दस दिनों तक घर का वातावरण शांत और भक्तिमय बनाये रखना चाहिए.  इससे भक्त द्वारा की गयी माँ की उपासना और साधना का फल कई गुना अधिक बढ़ जाता है.

चमड़े का इस्तेमाल न करे How to worship in Gupt Navratri

मान्यता है की माँ भवानी की पूजा के दौरान कुछ कड़े नियमो का पालन करना चाहिए. देवी माँ की आराधना के इन नौ दिनों तक यदि संभव हो तो चमड़े और चमड़े से बनी चीजों का प्रयोग करने से बचना चाहिए. शास्त्रों में पूजा या व्रत में लेदर और चमड़े की चीजों का इस्तेमाल निषेध माना गया है.

इसे भी पढ़े – जानें अपना वार्षिक राशिफल 2020

घर को अशुद्ध न करे Do These Things In Gupt Navrtari

नवरात्रि के दौरान घर में शुद्धता और पवित्रता का खास ख्याल रखना चाहिए गुप्त नवरात्रि के दौरान घर व मंदिर के साथ साथ खुद की स्वछता का भी विशेष ध्यान रखना चाहिए. मान्यता है की इससे घर में सकारात्मक उर्जा का संचार होता है गुप्त नवरात्रो में इन दस दिनों तक पवित्रता और सात्विकता के साथ की गयी माँ की भक्ति व आराधना शुभ होती है.