Ganga Saptami Pujan 2018 गंगा जयंती स्नान महत्व पूजा शुभ मुहूर्त

Ganga Saptami 22 April 2018 गंगा जयंती स्नान पूजा शुभ मुहूर्त –

Ganga Saptami Pujan Ganga Saptami Pujan 2018 22 अप्रैल 2018 गंगा दशहरा रविवार के दिन मनाया जाएगा। शास्त्रों के अनुसार गंगा सप्तमी का पर्व माँ गंगा को समर्पित है यह पर्व वैशाख महीने के शुक्ल पक्ष की सप्तमी तिथि को मनाया जाता है। इस दिन को गंगा पूजन और गंगा जयंती के नाम से जाना जाता है. ज्योतिषशास्त्र अनुसार ऐसी मान्यता है इस दिन माँ गंगा धरती पर पुनः अवतरित हुई थी. पौराणिक कथाओं के अनुसार इस दिन को गंगा दशहरा के नाम से भी जाना जाता है. आज हम आपको गंगा सप्तमी के महत्व पूजा और शुभ मुहूर्त के बारे में बताएँगे.

इसे भी पढ़ें  –

गंगा सप्तमी पूजा का शुभ मुहूर्त Ganga Saptami Pujan Date And Time –

  • गंगा सप्तमी पूजा का शुभ मुहूर्त 11:02 से 1:37 मिनट तक होगा
  • मुहूर्त की कुल अवधि = 2 घंटा 34 मिनट की है (Ganga Saptami Pujan 2018)
  • सप्तमी तिथि 21 अप्रैल शनिवार 6:27 पर शुरू होगी और 22nd अप्रैल 2018 रविवार 4:17 पर समापन होगा।

गंगा सप्तमी का महत्व Importance of Ganga Saptami Festival Vrat – 

Ganga Saptami Pujan 2018 पौराणिक कथाओं के अनुसार जिस दिन माँ गंगा धरती पर अवतरित हुई थी उस दिन को गंगा दशहरा के नाम से जाना जाता है मान्यता है की गंगा जयंती के दिन गंगा पूजन और स्नान करने से रिद्धि-सिद्धि, मान सम्मान और यश की प्राप्ति होती है। कहा जाता है की इस दिन गंगा पूजन से सभ कष्टों और सांसारिक पापों से मुक्ति मिलती है। Ganga Saptami Pujan 2018 जो जातक मांगलिक दोष से प्रभावित होते है उन्हें भी विशेष लाभ प्राप्त होता है।शास्त्रों के अनुसार गंगा सप्तमी के दिन ही गंगा जी की उत्पत्ति हुई थी। मान्यता है की इस दिन मां गंगा स्वर्ग लोक से शिव जी की जटा में पहुंची थीं। इसलिए गंगा सप्तमी के पवन दिन पर गंगा-पूजन का विशेष महत्व बताया गया है.