पैरों की फटी एड़ियों को कोमल सुन्दर बनाने के उपचार

फटी एड़ियों को ठीक करने के घरेलु उपाय

heel pain ilajFati aidiyo ko thik karne ke gharelu upay

लोग अपने चेहरे का ख्याल रखते-रखते अपने पैरो का ख्याल नहीं रख पते जिसके कारण एड़ियो की त्वचा डेड हो जाती है. तेज ठण्ड, धूल, मिटटी, खून की  कमी, शरीर में खुश्की बाद जाने तथा नंगे पैर चलने के कारण हमरे पैर की ऐड़िया फट जाती है. कभी-कभी खानपान में कमी तथा विटामिन E की कमी तथा आयरन की पर्याप्त मात्र न लेने से भी ऐड़िया फट जाती है.

पैर की एड़ियो की देखभाल न की जाये तो इनमे बहुत दर्द होता है, और दरार आने के बाद उसमे से खून निकलने लग जाता है जिससे आपको चलने में भी बहुत प्रॉब्लम हो सकती है. इस परेशानी से निपटने के लिए बाजार में अनेक क्रीम और दवाइया मिलती  है पर आप आसान घरेलु तरीके अपना सकते है जो सरल और लाभदायक होते है.

शहद का प्रयोग

शहद बहुत से रोगो से लड़ने की दवा है. फटी एड़ियो के लिए शहद बहुत अच्छा माना जाता है. आधा कप शहद में पानी मिलाकर करीब 20 मिनट तक उसमे अपनी पैरो की एड़ियो को डुबोकर रखे. 20 मिनट बाद पैरो को निकल ले और साफ तोलिये से पोछ ले. पैरो की ऐड़िया कोमल हो जाएंगी.

नारियल के तेल का प्रयोग

नारियल के तेल को हल्का गर्म करने रात को सोने से पहले अपनी एड़ियो पर लगाये, और सॉक्स पहन कर सो जाये. सुबह उठकर पैरो को पानी से धो दे. इस विधि का प्रयोग करीब 10 से 15 दिन तक करे ऐड़िया मुलायम होने लगेंगी.

सरसों के तेल का प्रयोग

नहाते समय पैर की एड़ियो की अच्छी तरह सफाई करे और फिर सरसों के तेल से मालिश करे एड़ियो का फटना कुछ दिनों में कम होने लगेगा.

चीनी और जैतून के तेल का प्रयोग

चीनी और जैतून के तेल का मिश्रण तैयार कर ले. अब इस मिश्रण को स्क्रब से पैरो में रब करे. थोड़ी देर लगाये रहने के बाद अपने पैरो को धो ले, और साफ तोलिये से पैरो को पोछ ले .

ग्लिसरीन और गुलाब जल का प्रयोग

अगर आपकी एड़िया अधिक फट गयी हैं तो ग्लिसरीन और गुलाब जल एक सरल उपाय है. इनसे फटी एडियो को नमी मिलती है तथा वे कोमल रहती है. एक-चौथाई मात्रा में ग्लिसरीन में  तीन-चौथाई मात्रा में गुलाब जल मिलकर इसका मिश्रण तैयार कर लें. अब इस मिश्रण को अपनी फटी एड़ियों में लगाए तथा कुछ देर तक लगा रहने दें. इसके बाद गुनगुने पाने से एड़ियों को धो दें. इस विधि का प्रयोग कुछ दिनों तक करने से फटी एड़ियों से राहत मिलती है.

त्रिफला चूर्ण का प्रयोग

त्रिफला चूर्ण से भी फटी एड़ियों को ठीक किया जा सकता है. त्रिफला चूर्ण को खाने के तेल में डालकर इसे ताल लें तथा इसका गाढ़ा पेस्ट बना लें. अब इस पेस्ट को रोजाना रात को सोते समय अपने पैरो की एड़ियों में लगाए. कुछ दिनों तक इस पेस्ट को इसी प्रकार लगते रहें. इस पेस्ट को लगने से फटी एड़िया ठीक होने लगेंगी.

पपीते के छिलके

कुछ पपीते कको छीलकर इसके चीलको को सुखा लें. अब इन छिलकों को पीसकर इनका चूर्ण बना लें. अब इस चूर्ण में थोड़ा ग्लिसीरीन को अच्छी तरह मिला लें. इस मिश्रण को दिन में दो बार फटी एड़ियों में लगने से फटी एड़िया जल्दी ही ठीक होने लगेंगी.

देशी घी और नमक

देशी घी और नमक से भी फटी एड़ियों को ठीक करने में मदद मिलती है. देशी घी में थोड़ा नमक मिलाकर इसका मिश्रण तैयार कर लें. अब इस मिश्रण को फटी एड़ियों पर लगाएं. इस मिश्रण को लगने से जल्दी ही फटी एड़ियां ठीक हो जाती हैं और पैरों की त्वचा भी कोमल बनती है.

गेंदे के पत्तों का प्रयोग

गेंदे के पत्तों से भी फटी एड़ियों को ठीक किया जा सकता है. इसके उपयोग के लिए गेंदे के कुछ पत्तों को लेकर उन्हें पीस लें. पइसे हुए गेंदे के पत्तो का रस निकाल लें. अब इस रस में थोड़ा वैसलीन मिलकर अच्छी तरह मिक्स कर लें. इस मिश्रण को फटी हुयी एड़ियों पर लगाए. इसके प्रयोग से जल्दी ही फटी एड़िया ठीक होने लगती हैं.

मोम का प्रयोग

मोम के प्रयोग से भी फटी एड़ियों को ठीक किया जा सकता है. रात को सोने से पहले पैरो को गर्म पानी से पैरो को धो दें. अब अपने पैरो में गुनगुना मोम लगा लें. इस विधि के प्रयोग से पैरो की फटी एड़ियों को ठीक करने में मदद मिलती है तथा पैर कोमल होते हैं.

Log apne chehre ka khyal rakhte-rakhte apne pairo ka khyal nahi rakh pate jiske karan aidiyo ki twcha dead ho jati hai.Tej thand, dhul mitti, khoon ki kami, sarir me khuski bad jane tatha nange pair chalne ke karan hamre pair ki aidiya fat jati hai.Kabhi-kabhi khanpan me kamik tatha vitamin E ki kami tatha iron ki pryapt matra na lene se bhi aidiya fat jati hai. Pair ki adiyo ki dekhbhal na ki jaye to inme bahut bahut dard hota hai. Aur darar aane ke baad usme se khoon nikalne lag jata hai jisse aapko chalne mai bhi bahut problem ho sakti hai. is paresani se niptane ke liye bazar me anek cream or dwaiya milti hai par aap aasan gharelu tarike apna sakte hai jo saral or labhdayak hote hai.

Sahad bahut se rogo se ladne ki dwa hai. Fati aidiya ke liye sahad bahut accha mana jata hai. Aadha cup sahad me pani milakr karib 20 mint tak usme apni pairo ki aidiyo ko dubokar rakhe. 20 mint bad pairo ko nikal le or saf toliye se poch le. Pairo ki aidiya komal ho jayengi.

Nariyal ke tel ko halka garm karne rat ko sone se pehle apni aidiyo par lagaye, or socks pahan kar so jaye. Subh uthkar pairo ko pani se dho de. Is vidhi ka pryog karib 10 se 15 din tak kare aidiya mulayam hone lagengi.

Nahate samay pair ki aidiyo ki acchi tarah safai kare or fir sarso ke tel se malish kare aidiyo ka fatna kuch dino me kam hone lagega.

Chini or jaitun ka mishran teyaar kar le. Ab is mishran ko scrub se pairo me rub kare. Thodi der lagaye rahne ke bad apne pairo ko dho le, or saf toliye se pairo ko poch le.