Category Archives: UpcharNuskhe

Morning Good Luck Sign Astrology सुबह इन चीजों का दिखना है शुभ

सुबह दिख जाय ये चीजें बदल सकती है किस्मत Morning Sign Change Your Luck

Morning Good Luck Signज्योतिष शास्त्र अनुसार बहुत से ऐसे संकेत Morning Good Luck Sign है जो हमें ये बताते है की बहुत जल्द जीवन में खुशियाँ आने वाली है या माँ लक्ष्मी की कृपा आप पर होने वाली है कहा जाता है की कुछ ऐसी चीजे है जो यदि सुबह सुबह उठते ही हमें दिख जाए तो व्यक्ति का सोया भाग्य जगा सकती है और किस्मत तक बदल सकती है. आज हम कुछ ऐसी चीजों के बारे में बात करेंगे जिन्हे अगर कोई व्यक्ति सुबह उठते ही या घर से निकलते ही देख ले तो हो सकता है की उसकी किस्मत बदल जाय. तो चलिए जानते है वो ऐसी कौन सी चीजे है.

दूध या दही का दिखना Seeing Milk and Curd Morning Good Luck Sign

ज्योतिषशास्त्र अनुसार यदि किसी व्यक्ति को सुबह उठते ही सबसे पहले दूध या दही से भरे बर्तन दिखाई दे तो ऐसा माना जाता है की ये बहुत ही शुभ होता है.

राशिअनुसार जाने साल 2018 का भविष्यफल

सुबह सुहागन स्त्री या गाय दिखना Seeing cow In Morning Lucky Sign  

ज्योतिष शास्त्र अनुसार यदि किसी को सुबह-सुबह सुहागन स्त्री या फिर गाय दिख जाय तो कहा जाता है की व्यक्ति का पूरा दिन बहुत ही खुशनुमा जाता है और उसे उसके कार्यों में सफलता प्राप्त होती है इसके अलावा यदि आप किसी कार्य के लिए घर से बाहर जा रहे है और अचानक आपके सामने सुहागन स्त्री या गाय आ जाए तो आपको आपके कार्यों में पूर्ण सफलता मिलेगी।

सुबह उठते ही भिखारी का दिखना Morning Good Sign-  

शास्त्रों में ऐसा माना गया है की यदि किसी को सुबह के समय भिखारी दिखा जाय या कोई भिखारी घर के बाहर आये तो यह बहुत शुभ होता है सुबह भिखारी के दिखने पर आपका फंसा हुआ पैसा या उधार दिया हुआ धन आपको बहुत जल्द वापस  मिलने की संभावना बनती है.

कपडे से अचानक पैसों का गिरना These Things See Morning Change Your Destiny-

सुबह किसी भी काम के लिए घर से निकलते वक़्त या कपडे पहनते समय आपकी जेब से अचानक पैसे गिर जाएं तो यह संकेत आपको धनप्राप्ति की ओर इशारा करता है माना जाता है की इस तरह का संकेत मिलना बहुत ही शुभ फल देने वाला होता है.

Mithuna Sankranti Puja Muhurt 2018 मिथुन संक्रांति रजा पर्व

मिथुन संक्रांति रजा पर्व Mithuna Sankranti 2018 Puja Vidhi Shubh Muhurt –

Mithuna Sankranti Pujaमिथुन संक्रांति Mithuna Sankranti Puja का त्यौहार हिन्दू धर्म में मनाये जाने वाले सभी महत्वपूर्ण धार्मिक त्योहारों में से एक है पंचांग के अनुसार यह साल का तीसरा महीना होता है पूरे साल भर में आने वाली 12 संक्रांति दान-पुण्य और अन्य कार्यों के लिए शुभ मानी जाती है. इस दिन सूर्य का वृषभ राशि से मिथुन राशि में प्रवेश होता है इसीलिए इसे मिथुन संक्रांति भी कहा जाता है। इस राशिपरिवर्तन के कारण कुछ शुभ अशुभ प्रभाव भी देखने को मिलते है जिस कारण इस दिन पूजा का विशेष महत्व होता है। उड़ीसा में मिथुन संक्रांति को बड़े त्यौहार राजा परबा के रूप में मनाया जाता है. आज हम आपको मिथुन संक्रांति के शुभ मुहूर्त पूजा विधि और इसके महत्व के बारे में बताएँगे.

मिथुन संक्रांति शुभ मुहूर्त 2018 Mithuna Sankranti Puja Shubh Muhurt-

साल 2018 में मिथुन संक्रांति का पर्व 15th जून 2018 को शुक्रवार के दिन मनाया जाएगा. मिथुन संक्रांति पुण्यकाल शुभ मुहूर्त 15th जून को 11:52 मिनट से 18:16 मिनट तक होगा.

राशिअनुसार जाने साल 2018 का भविष्यफल

संक्रांति के मुहूर्त की कुल अवधि = 6 घंटा 24 मिनट की होगी।

संक्रांति काल का समय दिन में 11:52 मिनट पर होगा।

संक्रांति के दिन महापुण्य काल का शुभ समय 11:52 से 12:16 मिनट तक होगा.

मिथुन संक्रांति की पूजा विधि Mithuna Sankranti Puja Vidhi –

मिथुन संक्रांति के दिन सिलबट्टे को भूदेवी मानकर इसकी पूजा की जाती है. मान्यताओं के अनुसार सिलबट्टे को दूध और पानी से स्‍नान आदि कराकर चंदन, सिंदूर, फूल व हल्‍दी चढाने के विधान है. इस दिन पूजा करने के बाद गरीबों, जरूरतमंदों और ब्राह्मणों को दान देने का बहुत अधिक महत्व है. चार दिनों तक मनाये जाने वाले इस पर्व को लोग पूरे हर्षोउल्लास के साथ मनाते है.

मिथुन संक्रांति का महत्व Importance of Mithuna Sankranti –

14 तारीख गुरुवार के दिन सूर्य मध्य रात्रि के बाद बुध की राशि मिथुन में प्रवेश करने जा रहे है। ज्योतिषशास्त्र अनुसार यह संक्रांति मिथुन, कर्क, सिंह, कन्या, तुला, वृश्चिक एवं कुंभ राशि वालों के लिए विशेष रूप से लाभकारी रहेगी. संक्रांति के दिन स्नान और दान का विशेष महत्व है. इस संक्राति के बाद वर्षा ऋतू का आगमन होता है संक्रांति के दिन सूर्य भगवान की उपासना करने के पुण्य फलों की प्राप्ति होती है.

Personality of Day Born People दिन में जन्में लोगो का व्यक्तित्व

दिन के समय जन्में लोग Interesting Facts About People Born On Day Time –

Personality of Day Born PeoplePersonality of Day Born People-ज्योतिष शास्त्र अनुसार किसी भी इंसान के जन्म लेने का समय, जगह आदि बातें व्यक्ति के व्यक्तित्व को जानने में काफी महत्व रखती है. व्यक्ति के जन्म लेने का समय उसके ग्रह-नक्षत्रों को प्रभावित करता है.  ज्योतिष शास्त्र की अगर माने तो दिन के समय जन्में व्यक्ति रात के समय पैदा हुए व्यक्तियों की तुलना में बहुत अलग होते हैं। प्रत्येक महिला और पुरुष में कुछ ख़ास बातें होती है जो उसे औरों से अलग बनाती है.  आज हम आपको दिन के समय पैदा हुए लोगो के जीवन से जुड़े कुछ ख़ास रहस्यों के बारे में बताएँगे.

दिन में पैदा होने वाले लोग बुद्धिमान होते है Nature Personality of Day Born People-

ज्योतिषशास्त्र की अगर माने तो दिन में पैदा होने वाले लोग रात में पैदा होने वाले लोगो की तुलना में बहुत अधिक बुद्धिमान होते हैं. ये अपनी बुद्धिमानी से हर जगह अपना परचम लहराते है.

राशिअनुसार जाने साल 2018 का भविष्यफल

दिन में पैदा होने वाले लोग धार्मिक और ऊर्जावान होते है Personality of People Born At Day-

ऐसा माना जाता है कि दिन में जन्म लेने वाले अधिकतर लोग स्वभाव से धार्मिक प्रविर्ती के होते है ये लोग धर्म-कर्म के कार्यों से जुड़े होते है इसके साथ ही ऐसे लोग हमेशा एनर्जी से भरे होते है.

दिन में पैदा होने वाले लोग सकारात्मक सोच वाले होते है Day People Born Characteristics –

दिन के समय जन्में अधिकतर लोग सकारात्मक सोच वाले होते है होती है ये ईमानदारी के रास्ते पर चलकर पैसा कमाने में विस्वास करते है इनमें इतनी अद्बुध शक्ति होती है की ये परिस्थितियों के अनुसार हमेशा सही डिसीजन लेते है.

दिन में पैदा होने वाले लोग ईमानदार और सामाजिक Din Mein Janmein Log-

दिन के समय जन्में लोग बहुत अधिक ईमानदार होते है ये सामाजिक कार्यों में काफी दिलचस्पी लेते है. रिश्तों के प्रति इनमें एक अच्छी समझदारी देखने को मिलती है ये हर रिश्ते की संभालना अच्छी तरह से जानते है. बेवजह ये दूसरों के कामों में दखल नहीं देते हैं.

दिन में पैदा होने वाले लोग मानसिक रूप से मजबूत होते है Facts About Day Birthday People –

दिन के समय जन्म लेने वाले लोग मानसिक रूप से मजबूत होते हैं ये हर हाल और परिस्थति में खुद को और दूसरों को खुश रखने वाले होते है इनके स्वभाव में एक ख़ास खूबी होती है ये हर किसी को अपनी ओर आकर्षित कर लेते है जीवन में ये काफी प्रसिद्धि हासिल करते है.

10 June Parma Ekadashi परमा एकादशी व्रत पूजा विधि शुभ मुहूर्त

Parama Ekadashi Vrat 2018 अधिकमास परमा एकादशी व्रत पूजा शुभ मुहूर्त –

10 June Parma Ekadashi10 June Parma Ekadashi – अधिक मास के कृष्ण पक्ष में आने वाली एकादशी को परमा एकादशी या हरिवल्लभ एकादशी के नाम से जाना जाता है. इस दिन भगवान विष्णु की पूजा करने से सभी प्रकार की मनोकामनाएं प्राप्त होती है. शास्त्रों में जिस प्रकार पशुओं में गाय और देवताओं में इन्द्र को श्रेष्ठ माना गया है ठीक उसी प्रकार सभी मासों में पुरुषोत्तम मास का महीना बहुत ही उत्तम माना जाता है। अधिक मास, मास या फिर पुरुषोत्तम मास का ये महीना बहुत ही शुभ फल देने वाला है इस मास में आने वाली परमा एकादशी 10 जून रविवार के दिन होगी. पुरुषोत्तम मास की यह एकादशी बहुत ही शुभ फलदायक है इस एकादशी के व्रत से व्यक्ति के  समस्त पाप नष्ट हो जाते हैं और पुण्य फल प्राप्त होते है आज हम आपको परमा एकादशी 10 June Parma Ekadashi के व्रत पूजन और इससे प्राप्त होने वाले शुभ फलों के बारे में बताएँगे.

परमा एकादशी व्रत का शुभ मुहूर्त 10 June Parma Ekadashi Vrat Tithi Shubh Muhurt-

परमा एकादशी व्रत तिथि 10 जून 2018 रविवार के दिन है एकादशी तिथि 9 जून शनिवार के दिन 12 बजकर 58 मिनट से शुरू होगी और अगले दिन अर्थात 10 जून रविवार के दिन 11 बजकर 54 मिनट पर समाप्त होगी. व्रत के पारण का समय 11 जून सोमवार के दिन 05 बजकर 28 मिनट से 08 बजकर 13 मिनट तक का होगा.

राशिअनुसार जाने साल 2018 का भविष्यफल

परमा एकादशी व्रत पूजन विधि Parma Ekadashi Vrat Pujan Vidhi –

10 June Parma Ekadashi एकादशी के दिन प्रात:काल उठकर अपने सभी कार्यों से  निवृत होकर और स्नानादि के बाद भगवान विष्णु का ध्यान करके व्रत की शुरुआत करनी चाहिए. व्रती को सुबह घी का दीपक जलाकर फल, फूल, तिल, चंदन और धूप आदि जलाकर भगवान विष्णु की सच्चे भक्ति भाव से पूजा करनी चाहिए. यदि संभव हो तो  विष्णु सहस्रनाम का पाठ करना चाहिए. व्रत के दिन फलाहार करना शुभ माना गया है. रात के समय मंदिर में मंदिर में दीप दान करें।द्वादशी तिथि के दिन व्रत का पारण करना चाहिए और अपनी सामर्थ्य अनुसार ब्राह्मणों को दान दक्षिणा देकर सम्मान पूर्वक विदा करना चाहिए.

परम एकादशी व्रत का महत्व Parma Ekadashi Vrat Importance –

10 June Parma Ekadashi शास्त्रों में हर एकादशी के व्रत का एक ख़ास महत्व है एकादशी का व्रत खासतौर पर सुख-समृद्धि और मोक्ष प्राप्ति के लिये किये जाते है. लेकिन अधिक मास या पुरुषोत्तम मास में आने वाली एकादशी में व्रत के साथ दान-पुण्य करने का भी बहुत अधिक महत्व है। माना जाता है की इस मास में भगवान की विशेष कृपा प्राप्त होती है जिन लोगो को किसी भी तरह की आर्थिक परेशानी या अन्य किसी भी तरह की परेशानियां हो तो उन्हें परमा एकादशी का यह व्रत अवश्य करना चाहिए यह व्रत व्यक्ति की सभी इच्छाएं पूरी करता है.

June Mercury Venus Planet Transit इन राशियों की खुलेगी किस्मत

बुद्ध शुक्र का राशिपरिवर्तन Budh Sukra Transit in June Astrology-

Juneजून माह June की 9 और 10 तारिख के दिन दो बड़े ग्रहों का राशिपरिवर्तन होने जा रहा है. इस परिवर्तन का 12 राशियों पर गहरा प्रभाव देखने को मिलेगा. 9 जून शुक्र गृह का राशि परिवर्तन मिथुन राशि से कर्क राशि में होगा और वहीं 10 जून को बुध गृह का राशि परिवर्तन वृष राशि से मिथुन में होगा। वृष और तुला राशि के स्वामी शुक्र हैं। जो अपार लाभ और सुख-समृद्धि के करक है. शुक्र गृह को राजयोग, सुख सम्पति, सुखी दांपत्य जीवन और वैभव देने वाला गृह माना गया है. वही अगर बात करे बुध गृह की तो ज्योतिष शास्त्र अनुसार बुद्ध गृह का प्रभाव व्यक्ति बहुत विद्वान और मजबूत बनाता है. आज हम बात करेंगे 9 और 10 जून को होने वाले ग्रहों के इन्हीं परिवर्तन के कारण 12 राशियों पर पढ़ने वाले इन प्रभावों के बारे में तो चलिए जानते हैं सभी 12  राशियों के लिए इन दोनों ग्रहों का परिवर्तन क्या फल लेकर आ रहा है.

मेष राशि June Transit Effects on Aries Zodiac-

मेष राशि के जातकों के लिए शुक्र और बुद्ध गृह का ये परिवर्तन काफी शुभ होने जा रहा है. प्रतियोगी परीक्षाओं में आपकी सफलता के शुभ संकेत मिल रहे है. जून के महीने में आर्थिक लाभ होने के योग बन रहे है. कुछ जातकों के जीवन में विवाह संबंधी शुभ समाचार आ सकता है.

राशिअनुसार जाने साल 2018 का भविष्यफल

वृष राशि June Transit Effects on Taurus –

10  जून को बुध गृह के राशि परिवर्तन से बुधादित्य योग बनेगा जो वृष राशि के जातकों को पहले से भी अधिक मजबूत और शक्तिशाली बनाएगा. इस माह आपको अपने नाम और पहचान बनाने के कई अच्छे अवसर मिलेंगे बस जरूरत है तो अपने शत्रुओं से सावधान रहकर अपनी पहचान बनाने की.

मिथुन राशि June Mercury Venus Transit Effects on Gemini –

मिथुन राशि के जातकों के जीवन में मन और बुद्धि में नई चमक और उमंगें नजर आएगी. ग्रहों के ये राशिपरिवर्तन उन्हें उनके कामों के लिए प्रेरित करेगा कार्य करने में मन लगेगा. इस राशि के जातक जून माह में अपनी वाणी के प्रभाव से अपने कार्यों में जीत पाने में कामयाब होंगे.

कर्क राशि June Mercury Venus Transit Cancer Zodiac –

कर्क राशि के जातकों को पिछले कुछ समय अत्यधिक खर्चे का सामना करना पड़ रहा है. शुक्र और बुद्ध ग्रहो के राशिपरिवर्तन के प्रभाव से आपके जीवन में धन हानि के जो योग बने हुए थे उनमें कमी आने की संभावना है परिवार में मेहमानो का आगमन हो सकता है. जून के महीने में आपको अपेक्षित लाभ मिलने के योग बन रहे है.

सिंह राशि June Mercury Venus Planet Transit on Leo –

सिंह राशि के जातकों को इस महीने अचानक लाभ होने के संकेत मिल रहे है आपके रुके हुए काम अचानक बन जाएंगे. कार्यक्षेत्र में आपको सफलता मिलने के संयोग है इस महीने की गयी आपकी मेहनत के भविष्य में आपको उच्च फल प्राप्त होंगे.

कन्या राशि June Mercury Venus Planet Transit on Virgo –  

इस राशि के जातकों के लिए ग्रहों का ये परिवर्तन शुभ रहने वाला है. प्रतियोगी परीक्षाओं में आपको सफलता मिल सकती है. इस माह आपको आर्थिक लाभ, भौतिक सुख सुविधाओं की प्राप्ति के योग है अगर आप किसी भी तरह के बिज़नेस से जुड़े हुए है तो अपने काम को बढ़ाने का प्लान कर सकते है ये समय आपकी उन्न्नति का है.

तुला राशि Leo June Transit Horoscope –

तुला राशि के जो जातक अपने कार्यक्षेत्र में काफी समय से प्रमोशन ना मिलने के कारण तनाव में थे उनका ये तनाव कम होने वाला है. कार्यक्षेत्र में लाभ मिलने की संभावना है. दांपत्य जीवन में ख़ुशी आएगी. प्रेम सम्बन्ध मजबूत होंगे.

वृश्चिक राशि Scorpio Astrology June Transit –

वृश्चिक राशि के जातकों के लिए भी शुक्र और बुध गृह का राशिपरिवर्तन शुभ होगा आपको आपकी वाणी और विचाओं को सयमित करके रखना होगा और काम की व्यस्तता के कारण उत्तेजित ना होकर धैर्य बनाये रखे. इस माह आपको आर्थिक लाभ, गाड़ी, घर जैसे सुख सुविधाओं की प्राप्ति हो सकती है.

धनु राशि Sagittarius Rashifal June-

धनु राशि के जातकों को जून माह में उनके द्वारा किये गए प्रयासों के कारण करियर में अच्छी कामयाबी प्राप्त हो सकती है ग्रहों के परिवर्तन के कारण धन प्राप्ति के योग बन रहे है किस्मत से आपको धन के साथ साथ कई क्षेत्रों में कामयाबी मिल सकती है.

मकर राशि Capricorn Astrology Prediction-

जून के महीने में होने जा रहे दो बड़े ग्रहों के राशिपरिवर्तन के कारण माह के अंत तक आपको लाभ प्राप्त होने के योग है. अपने प्रयासों से आप धनलाभ प्राप्त करेंगे और  करियर में भी उन्नति के योग है.

कुम्भ राशि Aquarius Planet Transit on June Zodiac-  

कुम्भ राशि के लिए ग्रहों का ये परिवर्तन शुभ होगा आपको आपके करियर में लाभ प्राप्त होगा भौतिक सुख सुविधाओं की प्राप्ति होगी. प्रॉपर्टी से जुड़ा कोई कार्य पूरा हो सकता है. शुक्र का ये परिवर्तन आर्थिक दृष्टि से आपके लिए शुभ होगा.

मीन राशि Pisces Budh Shukra Planet Transit-

मीन राशि के लिए भी ये परिवर्तन कई मायनो में लाभकारी होने जा रहा है इस राशि के जातकों को भौतिक सुख जैसे घर, गाड़ी और पारिवारिक सुख का संयोग बन रहा है लम्बे समय के बाद परिवार के सदस्यों के साथ कुछ यादगार लम्हें बिताने के अवसर मिलेंगे. लव लाइफ में पॉजिटिव बदलाव आएंगे. महीने के शुरुआत में आर्थिक परेशानियों के बाद खुद बखुद आर्थिक िस्थति सुंदर जायेगी और आपको अचानक से धन लाभ होगा.

Home Decoration Idea Summer गर्मियों में घर को दे कूल फ्रेश लुक

गर्मियों में घर की सजावट रखे घर को ठंडा Home Decoration Tips Summer-

Home DecorationHome Decoration- सीजन बदलने के साथ ही कई लोग अपने घरों की सजावट भी बदलने लगते है मौसम बदलने के साथ घर की सजावट बदलना जरुरी भी हो जाता है ताकि घर सुंदर दिखने के साथ कम्फ़र्टेबल भी हो. गर्मियों के मौसम में घर की सजावट कैसी होनी चाहिए जिससे घर को फ्रैश और कूल रखा जा सके. आज हम आपके लिए लेकर आये है गर्मियों की सजावट से जुड़े कुछ ऐसे ख़ास टिप्स जो गर्मी में भी आपको कूल एहसास तो कराएँगे ही साथ ही आपके घर को सुन्दर भी दिखाएंगे.

राशिअनुसार जाने साल 2018 का भविष्यफल

हलके रंगो का इस्तेमाल करे Using Light Color Curtains Home Decoration In Summer –

Home Decoration गर्मी के मौसम में डार्क रंगों की बजाय हलके रंगो का इस्तेमाल करे. गहरे रंगों के पर्दे के जगह पर आप लाइट रंग के पर्दे लगा सकते है. लिविंग रूम को गर्मी के हिसाब से सजाने के लिए हल्के लाइट कलर और फ्लोरल पर्दों का इस्तेमाल कर सकते है साथ ही सोफे पर कुशन और तकिए फूलों के प्रिंट वाले रख सकते है ये आपको गर्मियों में भी ठंडक का एहसास कराते है.

घर की सजावट फूलों से करे Use Flowers Home Decoration –

गर्मी के मौसम में आप अपने घर की सजावट Home Decoration के लिए फूलों का इस्तेमाल कर सकती है. आजकल फ्लावर पॉट तो हर कोई घर में रखता ही है घर को फ्रैश और कूल लुक देने के लिए आप फ्लावर पॉट में ताजे या आर्टिफिशयल फूलों का इस्तेमाल कर सकती है. हैंगिग फूलों से घर को सजाना भी बहुत अच्छा ऑप्शन है.

इंडोर प्लांट्स से करे घर की सजावट Home Decoration With Indoor Plants –

Home Decoration गर्मियों के मौसम में घर को कूल लुक देने का ये एक बहुत ही बढ़िया तरीका है इंडोर प्लांट्स घर के इंटीरियर्स को खुशनुमा बनाते हैं और साथ ही ये नैचरल एयर फिल्टर्स का काम भी करते हैं आप लो मेन्टेनेंस प्लांट्स घर में लगा सकते है. या फिर आप मनी प्लांट्स को भी घर में लगा सकते है इससे गर्मियों के दिनों में घर की कूलिंग अच्छी बनी रहती है.

दीवारों पर पेंटिंग लगाए Wall Hangings Paintings In Wall Home Decor –

Home Decoration दीवारों को हर बार पेंट करना संभव नहीं हो पाता है इसीलिए आप चाहे तो घर की दीवारों को ब्राइट शेड की पेंटिंग और वॉल हैंगिग्स से सजा सकते है इससे घर की दीवारों को नया तो मिलता ही है साथ ही ये गर्मियों में आपको फ्रैश लुक भी देगा.

बिना AC coolar के कैसे रखे घर को ठंडा

लाइट कलर की बैडशीट बिछाये Light Color Bed sheet In Summer Season- 

Home Decoration गर्मियों के मौसम में डार्क रंग आँखों को चुभते है इसीलिए इनदिनों हलके रंगो का इस्तेमाल करना चाहिए बैड शीट किसी भी कमरे की सजावट Home Decoration का सबसे अहम् हिस्सा होता है इसलिए खासतौर पर गर्मियों के मौसम में कमरे के कॉम्बिनेशन वाली बैडशीट ही बिछाएं।

Fengshui Vastu for Money Prosperity धनवृद्धि फेंगसुई वास्तु टिप्स

Vastu Tips for Money Success धनवृद्धि के लिए अपनाये फेंगसुई वास्तु टिप्स –

Fengshui Vastu for Money Fengshui Vastu for Money- अपनी लाइफ में सफलता प्राप्त करने के लिए हम क्या कुछ नहीं करते है मेहनत के साथ हर तरह के उपाय अपनाते है. लेकिन कई बार कठिन परिश्रम के बाद भी हमें वो सफलता नहीं मिल पाती है जिसकी हमें चाहत होती है और ना ही हमारी आर्थिक स्थति मजबूत हो पाती है क्या कभी आपने सोचा है कि इसका एक कारण आपके घर का वस्तु भी हो सकता है या फिर घर की गलत दिशा में रखा सामान भी हो सकता है। आज हम आपको फेंगशुई से जुड़े कुछ ऐसे असरदार टिप्स बताएंगे जिन्हें अपनाकर हो सकता है कि आपके जीवन में सकारात्मक बदलाव आये और आपकी आर्थिक स्थति पहले से मजबूत हो जाय.

राशिअनुसार जाने साल 2018 का भविष्यफल

घर में बैंबू का पौधा रखें Bamboo Plant Fengshui Vastu for Money –

फेंगसुई अनुसार घर में बैंबू का पौधा लगाने से पॉजिटिविटी आती है। इसे घर के दक्षिण पूर्व हिस्से में रखना बहुत ही शुभ माना जाता है इससे जिंदगी भर पैसे की कमी नहीं होती है. जब आप आपने घर में बैंबू का पौधा लगाएं तो इसकी सही दिशा का ध्यान अवश्य ही रखें.

घर के उत्तर दिशा में पानी हो Water in North Direction of House –

वास्तु शास्त्र अनुसार Fengshui Vastu for Money घर की उत्तर दिशा में पानी होना बेहद ही शुभ माना गया है आर्थिक समस्या को घर से दूर रखने के लिए आप इस दिशा में पानी वाली कोई पेंटिंग या फिर फाउंटेन भी लगवा सकते है। माना जाता है की ऐसा करने से जीवन में तरक्की के दरवाजे खुल जाते हैं।

आईना सही दिशा में रखें Keep Mirror Right Direction for Prosperity –

वास्तु अनुसार Fengshui Vastu for Money घर की उत्तर दिशा में आईना रखना बहुत ही फायदेमंद माना जाता है घर की उत्तर दिशा में आईना लगाने पर उस घर से सभी प्रकार की आर्थिक समस्याएं ख़त्म होने लगती है और घर में सुख समृद्धि बनी रहती है.

बेड के नीचे सामान ना रखें Do Not Keep Stuff under the Bed Vastu Tips –

ऐसा माना जाता है की जिस बेड या पलंग पर आप सोते है उसके नीचे कभी भी किसी भी तरह का सामान नहीं रखना चाहिए इससे घर में पैसों की समस्या हर वक़्त बनी रहती है यदि आप घर की आर्थिक स्थति को सुधारना चाहते है तो तुरंत ही बेड के नीचे रखे सामान को हटा ले. इसके साथ ही बेड को हमेशा दक्षिण या दक्षिण-पश्चिम दिशा में रखना शुभ होता है.

घर के दरवाजे पर लाल रिबन से बंधे सिक्के लगाए Home Vastu Wealth Money –

फेंगशुई Fengshui Vastu for Money के अनुसार घर के दरवाजे में लाल रिबन से बंधे सिक्के लगाना बहुत ही शुभ होता है इससे घर में धन वैभव आता है लेकिन ध्यान रखे की दरवाजे के अंदर की ओर तीन सिक्के ही लगाएं.

घर में मछलियों के जोड़े लगाए Feng Shui Tips to Increase Wealth –

घर में मछलियों के जोड़े लगाना भी बहुत ही सौभाग्यदायक माना जाता है। इससे घर में धन दौलत तो आती ही है साथ ही घर के सदस्यों को उनके कार्यक्षेत्र में तरक्की भी प्राप्त होती है घर में मछलियों के जोड़े बृहस्पतिवार या शुक्रवार के दिन लगाना अच्छा माना गया है.

FAQ_

प्रश्न- घर वास्तु टिप्स?

उत्तर- फेंगसुई अनुसार घर में बैंबू का पौधा लगाने से पॉजिटिविटी आती है। इसे घर के दक्षिण पूर्व हिस्से में रखना बहुत ही शुभ माना जाता है इससे जिंदगी भर पैसे की कमी नहीं होती है.

प्रश्न- वास्तु टिप्स फॉर मनी?

उत्तर- घर की उत्तर दिशा में पानी होना बेहद ही शुभ माना गया है आर्थिक समस्या को घर से दूर रखने के लिए आप इस दिशा में पानी वाली कोई पेंटिंग या फिर फाउंटेन भी लगवा सकते है। माना जाता है की ऐसा करने से जीवन में तरक्की के दरवाजे खुल जाते हैं।

प्रश्न- आर्थिक परेशानी दूर करने के उपाय?

उत्तर- घर की उत्तर दिशा में आईना रखना बहुत ही फायदेमंद माना जाता है घर की उत्तर दिशा में आईना लगाने पर उस घर से सभी प्रकार की आर्थिक समस्याएं ख़त्म होने लगती है

प्रश्न-आर्थिक तंगी के उपाय?

उत्तर- घर के दरवाजे में लाल रिबन से बंधे सिक्के लगाना बहुत ही शुभ होता है इससे घर में धन वैभव आता है लेकिन ध्यान रखे की दरवाजे के अंदर की ओर तीन सिक्के ही लगाएं.

प्रश्न- लक्ष्मी प्राप्ति के अचूक उपाय?

उत्तर- घर में मछलियों के जोड़े लगाना भी बहुत ही सौभाग्यदायक माना जाता है। इससे घर में धन दौलत तो आती ही है साथ ही घर के सदस्यों को उनके कार्यक्षेत्र में तरक्की भी प्राप्त होती है.

Question- Vastu tips for Home?

Answer- According to Feng Shui planting a bamboo plant at home brings positivity.

Question- Fengsui Vastu for Money?

Answer- Water is considered auspicious on the north side of the house. This is a good way to keep the economic problem away from home.

Question- Vastu tips for happy life in hindi?

Answer- Keeping mirror in north direction of the house is considered very beneficial. If you put a mirror on the north side of the house all kinds of financial problems are eliminated from house.

Shani Trayodashi Pradosh Vrat 26 May 2018 पूजा विधि शुभ मुहूर्त

शनि त्रयोदशी प्रदोष व्रत 26 मई  Vrat Puja Vidhi Katha Muhurt 2018 –

Shani Trayodashi Pradosh Vrat Shani Trayodashi Pradosh Vrat शास्त्रों में व्रत उपवास का बहुत महत्व है प्रत्येक माह की हर तिथि अपने आप में एक ख़ास महत्व रखती है लेकिन कुछ ऐसी तिथियां है जिनमें व्रत रखने के काफी शुभ फल प्राप्त होते है इन्हीं महत्वपूर्ण तिथियों में से एक है त्रयोदशी तिथि. जिसे  हम प्रदोष व्रत के नाम से भी जानते है. इस दिन भगवान शिव और देवी पार्वती की पूजा करने का विधान है. प्रदोष व्रत हर माह की त्रयोदशी तिथि को मनाया जाता है. प्रदोष व्रत कृष्ण पक्ष और शुक्ल पक्ष की त्रयोदशी तिथि को आते है मान्यता है की इस व्रत को करने से चार धाम करने के बराबर पुण्य मिलता है. आज हम आपको शनि प्रदोष व्रत के शुभ मुहूर्त, व्रत की पूजा विधि, और इसके महत्व के बारे में बताएँगे.

राशिअनुसार जाने साल 2018 का भविष्यफल

प्रदोष काल क्या है इसका महत्व Importance of Shani Trayodashi Pradosh Vrat –

सूरज के अस्त होने का समय और रात्रि के आगमन का समय प्रदोष काल कहलाता ही. मई 2018 में ये व्रत 26 मई शनिवार को है. त्रयोदशी तिथि प्रदोष काल में पूजा करने का विशेष महत्व है शास्त्रों में ऐसी मान्यता है की प्रदोष काल में भगवान शिव साक्षात अवतरित होते हैं और इस समय यदि उनकी पूजा अर्चना की जाय तो व्यक्ति की सभी इच्छाएं पूरी होती है और सारे कष्टों का निवारण होता है.

प्रदोष व्रत पूजा का शुभ समय Pradosh Vrat Puja Timing Date –

इस दिन सभी शिव मंदिरों में शिव-पार्वती की पूजा आराधना की जाती है शास्त्रों में प्रदोष व्रत Shani Trayodashi Pradosh Vrat की पूजा के लिए सबसे शुभ समय सूर्यास्त हो जाने के बाद प्रदोष काल माना गया है. शनि प्रदोष व्रत पूजा का शुभ मुहूर्त 26 मई 2018 शनिवार के दिन 19 :07 मिनट से 21 बजकर 11 मिनट तक का होगा.

प्रदोष व्रत पूजन विधि Shani Pradosh Vrat Worship Process –

व्रत के दिन सुबह उठकर स्नानादि से निवृत होकर भगवान शिव और उनके परिवार का स्मरण करे. कई लोग इस दिन निर्जला व्रत भी रखते है पूरी श्रद्धा के साथ व्रत रखने के बाद शाम के समय जब प्रदोष काल शुरू हों फिर से स्नान करके पूजा करनी चाहिए. मंडप बना कर शिव परिवार की मूर्ति या फोटो और कलश स्थापना करे. गणपति जी के आह्वाहन के साथ सभी देवी देवताओं की पूजा करे. भगवान शिव को स्नान कराकर धूप दीप, चंदन रोलि, अक्षत, और पुष्प अर्पित करें. इस दिन शिवजी को चावल की खीर का भोग अवश्य लगाए. पूरे विधि विधान के साथ पूजा करने से भगवान शिव भक्त की सभी मनोकामनाएं पूरी करते है.

प्रदोष व्रत का उद्यापन Pradosh Vrat Udhyapan Vidhi –

जो भी लोग प्रदोष व्रत को ग्यारह या 26 त्रयोदशी तक रखते हैं कहा जाता है की उन्हें इस व्रत का उद्यापन विधिवत तरीके से अवश्य ही करना चाहिए. इस व्रत का उद्यापन त्रयोदशी तिथि Shani Trayodashi Pradosh Vrat के दिन किया जाता है उद्यापन के एक दिन पहले श्री गणेश जी की पूजा का विधान है और उसके अगले दिन 108 बार शिव पार्वती के मन्त्रों का जाप कर हवन करना चाहिए अंत में ब्रह्माणों को भोजन कराकर उन्हें अपनी सामर्थ्य  और सामर्थ्य अनुसार दान दक्षिणा देनी चाहिए.

Laughing Buddha Place Home Vastu घर में यहाँ रखे लाफिंग बुद्धा

किस दिशा में रखे लाफिंग बुद्धा Laughing Buddha Direction Home Vastu –

Laughing Buddha Placeहिन्दू धर्म में कुबेर धन के राजा कहे जाते है लोग धन वृद्धि के लिए तीज त्योहारों पर कुबेर की पूजा करते है ठीक उसी तरह चीनी वास्तुशास्त्र अनुसार लाफिंग बुद्धा Laughing Buddha Place को बहुत ही शुभ और धन वृद्धि करने वाला मानते है. अक्सर लोग अपने घरों में लाफिंग बुद्धा तो रख देते है लेकिन ये बात नहीं जानते हैं की लाफिंग बुद्धा Laughing Buddha Place को घर में किस दिशा में रखने के क्या फल मिलते है लाफिंग बुद्धा सही दिशा में रखने पर ही शुभ फल देता है.आज हम आपको बताएँगे की घर में लाफिंग बुद्धा को कौन सी दिशा में रखने पर वो क्या फल देता है और किस तरह से आपके लिए लकी साबित होता है.

पूर्व दिशा में रखा लाफिंग बुद्धा Laughing Buddha Place East Direction –

पूर्व दिशा को परिवार के लोगो के लिए भाग्य और सुख शांति की दिशा माना गया है फेन्सुई के अनुसार यदि घर में लाफिंग बुद्धा पूर्व दिशा में रखा जाय तो इससे घर के सदस्यों के बीच आपसी प्रेम और तालमेल हमेशा बना रहता है. दोनों हाथों को उठाकर हॅसते हुए लाफिंग बुद्धा घर की पूर्व दिशा में रखना घर की सुख शांति के लिए बेहद शुभ होता है.

दक्षिण पूर्व दिशा में रखा लाफिंग बुद्धा Laughing Buddha Placed In South East Direction –

फेंगशुई के अनुसार ऐसा माना जाता है की यदि घर में लाफिंग बुद्धा Laughing Buddha Place को दक्षिण पूर्व दिशा में रखा जाय तो इससे घर में पॉजिटिव एनर्जी बढ़ने लगती है और यही सकारात्मक ऊर्जा घर में धन को आकर्षित करती है जिससे घर के सदस्यों की आय में वृद्धि होती है नौकरी व्यवसाय में तरक्की होती है.

लाफिंग बुद्धा को ऊंचाई पर रखे Laughing Buddha To Be Kept High Place –

लाफिंग बुद्धा को घर या ऑफिस Laughing Buddha Place में किसी ऊँचे स्थान पर रखना शुभ होता है लाफिंग बुद्धा को रखने का स्थान ध्यान रखें कि आपकी आंखों के बराबर नहीं होना चाहिए अर्थात इसे ऐसे स्थान पर रखे की घर में प्रवेश करते समय किसी की भी नजर उनपर सीधे-सीधे न पड़े.

राशिअनुसार जाने साल 2018 का भविष्यफल

लाफिंग बुद्धा मैन गेट की तरफ देखते हुए रखने चाहिए Laughing Buddha should keep looking at Man Gate –

कहा जाता है की जिस तरह घर में रखी गणेश जी की मूर्ति मैन गेट की ओर मुँह करके रखना शुभ होता है ठीक उसी तरह फेंगसुई में भी माना जाता है की मुख्य दरवाजे को देखते हुए लाफिंग बुद्धा धन को घर की ओर आकर्षित करते है और लकी साबित होते है.

इन जगहों पर ना रखे लाफिंग बुद्धा Laughing Buddha Not Keeping These Places –

ऐसा माना जाता है की लाफिंग बुद्धा Laughing Buddha Place की मूर्ति को कभी भी बाथरूम, रसोईघर या नीचे फर्श पर नहीं रखना चाहिए और इसके अलावा इसे किसी भी तरह के लाइट से चलने वाले उपकरणों और शोर करने वाले सामान के पास भी नहीं रखना चाहिए क्योकि ऐसा करने से ये मूर्ति के प्रभाव को कम कर देते है और लाफिंग बुद्धा का शुभ फल हमें नहीं मिल पाता है.

FAQ-

प्रश्न- लाफिंग बुद्धा किस दिशा में रखे?

उत्तर- पूर्व दिशा को परिवार के लोगो के लिए भाग्य और सुख शांति की दिशा माना गया है फेन्सुई के अनुसार यदि घर में लाफिंग बुद्धा पूर्व दिशा में रखा जाय तो इससे घर के सदस्यों के बीच आपसी प्रेम और तालमेल हमेशा बना रहता है.

प्रश्न- लाफिंग बुद्धा को रखने के फायदे?

उत्तर- सही दिशा में रखे गए लाफिंग बुद्धा धन को आपके घर की ओर आकर्षित करते है और लकी साबित होते है.

प्रश्न- लाफिंग बुद्धा के प्रकार?

उत्तर- लाफिंग बुद्धा कई तरह के होते है जैसे- धातु के बने लाफिंग बुद्धा, क्रिस्टल के बने लाफिंग बुद्धा, धन की पोटली लिए लाफिंग बुद्धा, ड्रैगन के साथ बुद्धा आदि.

Question- Which way should you face a Buddha?

Answer- Laughing Buddha statue should always face east is very lucky.

Question- Which direction to keep laughing Buddha at home?

Answer- Laughing Buddha Place East and south east Direction gives wealth and prosperity.

Question- Which direction should laughing Buddha face in a home?

Answer- laughing Buddha face east direction in a home.

Apara Ekadashi 2018 Vrat Puja Vidhi अपरा एकादशी व्रत शुभ मुहूर्त

अपरा अचला एकादशी व्रत कथा महत्व Apara Ekadashi Vrat Shubh Muhurt –

Apara Ekadashiज्येष्ठ मास में आने वाली कृष्णपक्ष की एकादशी का हमारे शास्त्रों में बड़ा ही महत्व है। 11 मई 2018 को अपरा एकादशी Apara Ekadashi का व्रत है. अपरा एकादशी को अचला एकादशी के नाम से भी जानते है. पद्मपुराण के अनुसार माना जाता है की अपरा एकादशी का व्रत करने से मनुष्य को प्रेत योनि में जाकर कष्ट नहीं सहना पड़ता है। भगवान् विष्णु जी के लिए यह व्रत रखा जाता है अपरा एकादशी के दिन भगवान विष्णु जी के पाचवे अवतार वामन ऋषि की पूजा का विधान है. जो भी इस व्रत को पूरी विधि-विधान के साथ करता है उसका पुण्य कई हजार गुना बढ जाता है। आज हम आपको अपरा एकादशी के व्रत पूजन और शुभ मुहूर्त के बारे में बताएँगे.

अपरा एकादशी व्रत का शुभ मुहूर्त Apara Ekadashi Vrat Shubh Muhurt Date Time-

एकादशी तिथि प्रारम्भ होगी 10 मई 11 बजकर 28 मिनट से और एकादशी तिथि समाप्त 11 मई  2018 11  बजकर 41 मिनट पर.व्रत के पारण का समय है 12 तारिख को 6 बजकर 4 मिनट  से 8 बजकर 40 मिनट तक.

इसे भी पढ़ें  –

अपरा एकादशी व्रत पूजा विधि Achla Ekadashi Worship Process –

इस व्रत को करने के लिए व्यक्ति को तन और मन से स्वच्छ होना चाहिए। इस व्रत की शुरूआत दशमी तिथि के दिन से करनी चाहिए दशमी तिथि के दिन सात्विक भोजन करना चाहिए. एकादशी के दिन व्रती को नित्य क्रियाओं से निवृत्त होकर स्नान करने के बाद ही व्रत का संकल्प लेना चाहिए। इसके बाद भगवान विष्णु, कृष्ण तथा बलराम की धूप, दीप, फल, फूल, आदि से पूजा अर्चना करनी चाहिए. इस दिन निर्जल उपवास करना चाहिए यदि किसी कारण वश ऐसा संभव ना हो तो पानी या एक समय फल आहार ले सकते हैं। अगले दिन द्वादशी तिथि को व्रत का पारण करना चाहिए पारण के दिन फिर से पूजन करने के बाद कथा पढ़नी  चाहिए। इसके बाद प्रसाद वितरण कर ब्राह्मण को भोजन कराकर दान दक्षिणा देकर विदा करना चाहिए। अंत में भोजन ग्रहण कर उपवास खोलना चाहिए।

अपरा अचला एकादशी व्रत का महत्त्व Importance of Apara Ekadashi Vrat –

शास्त्रों के अनुसार ऐसी मान्यता है की अपरा एकादशी का व्रत करने से गर्भपात, ब्रह्महत्या, राक्षस योनि, झूठ, बुराई व अन्य पापों से मुक्ति मिलती है। इस पुण्य व्रत के प्रभाव, तीर्थ यात्रा, सुवर्ण दान आदि से बढ़कर बताये गए है. कहते है की जो व्यक्ति पूरे विधि- विधान से अपरा एकादशी का व्रत रखता है उसे सौभाग्य की प्राप्ति तो होती ही है साथ ही समस्त पापों से मुक्ति और भगवान विष्णुधाम प्राप्त होता है।