सितम्बर गणेश चतुर्थी शुभ मुहूर्त 2020 Ashwin Ganesh Chaturthi 2020

गणेश संकष्टी चतुर्थी पूजा विधि Ganesh Chaturthi Vrat Pooja Vidhi 

गणेश चतुर्थीगणेश चतुर्थी- सितम्बर माह की शुरआत मंगलवार से हो रही है यह माह श्राद्ध पक्ष के साथ कई व्रत त्योहारों की दृस्टि से भी शुभ है. संकष्टी चतुर्थी का शस्त्रों में बड़ा महत्व है यह दिन सभी देवों में प्रथम पूज्य भगवान गणेश जी को समर्पित है. पूर्णिमा के बाद आने वाली चतुर्थी संकष्टी चतुर्थी कहलाती है. कहा जाता है की जो भी इस दिन व्रत रखकर बल विद्या और बुद्धि के देवता श्री गणेश जी की पूजा अर्चना करता है तो उसके जीवन के सभी संकटो का नाश होता है और उसे सुख समृद्धि की प्राप्ति होती है आज इस वीडियो में हम आपको आश्विन माह पितृ पक्ष में आने वाली गणेश विघ्नराज चतुर्थी पर्व की शुभ तिथि पूजा का शुभ मुहूर्त पूजा विधि और इस दौरान किये जाने वाले उपाय के बारे में बताएँगे.

गणेश संकष्टी चतुर्थी शुभ मुहूर्त 2020 Ganesh Chaturthi 2020

  1. साल 2020 में सितम्बर अर्थात आश्विन माह संकष्टी चतुर्थी 5 सितम्बर शनिवार को होगी|
  2. चतुर्थी तिथि प्रारम्भ होगी- 5 सितम्बर सायंकाल 04:38 मिनट पर |
  3. चतुर्थी तिथि समाप्त होगी – 6 सितम्बर 07:06 मिनट पर |
  4. संकष्टी के दिन चन्द्रोदय का समय होगा – 5 सितम्बर रात्रि 08:37 मिनट पर|

संकष्टी चतुर्थी पूजा विधि Sankashti chaturthi puja vidhi 

इस दिन लोग उपवास कर मनचाहे फल की कामना करते हैं. चतुर्थी तिथि के दिन प्रातः काल सूर्योदय से पहले उठकर स्नान के बाद व्रत का संकल्प ले और गणपति जी की पूजा की शुरुआत करें. गणपति पूजन के समय पूर्व या उत्तर दिशा की ओर मुँह करे अब गणेश जी की प्रतिमा को फूलों से सजा कर उन्हें रोली लगाकर दूर्वा अर्पित करे  और तिल, गुड़, लड्डू और मोदक का भोग लगाए. पूजा के समय माँ लक्ष्मी जी की प्रतिमा का भी पूजन करे क्योकि ये बेहद शुभ माना जाता है. दिनभर उपवास के बाद शाम के समय चांद के निकलने से पहले गणपति जी का पुनः पूजन कर संकष्टी व्रत कथा का पाठ करें. पूजा के बाद प्रसाद बाटें और रात को चंद्रोदय के बाद चन्द्रमा को अर्ष्य देकर व्रत संपन्न करे.

संकष्टी चतुर्थी उपाय Sankashti Chaturthi Mahaupay

गणेश जी को सभी देवो में प्रथम पूज्य माना गया है इसीलिए किसी भी कार्य से पहले गणेश जी का पूजन किया जाता है यदि उनकी आराधना और उपाय सैक्सी भक्ति से किये जाय तो वे व्यक्ति को बल बुद्धि विद्या और सुख समृद्धि का वरदान देते है आइये जानते है पितृ पक्ष की संकष्टी चतुर्थी तिथि के दिन कौन से उपाय करने चाहिए.

इसे भी पढ़े – जानें अपना वार्षिक राशिफल 2020.

  1. विघ्नराज गणेश चतुर्थी के दिन हाथी को हरा चारा खिलाने से गणेश जी शीघृ प्रसन्न होकर आपकी हर मनोकामना पूरी करते है और जीवन में बार-बार आने वाली परेशानियां दूर करते हैं,
  2. आज के दिन पैसों की तंगी को दूर करने के लिए भगवान गणेश जी को शुद्ध घी और गुड़ का भोग लगाए.
  3. चतुर्थी के दिन गणेश जी के समक्ष घी का चौमुखी दीपक जलाने से कार्यसिद्धि होती है.
  4. आज के दिन गणेश जी को पूजा में लाल सिन्दूर अर्पित करने से धन में वृद्धि होती है.