6 संकेत बताते हैं स्ट्रेस के बारे में 6 Important things need to know about stress

कैसे पता लगाए स्ट्रेस के बारे में How to know about stress effects

स्ट्रेस के लक्षण stress kya haiस्ट्रेस के लक्षण – आज के समय में किसी भी व्यक्ति को स्‍ट्रेस होना बहुत सामान्‍य सी बात हो गई है। लेकिन समय पर स्‍ट्रेस पर काबू नहीं किया जाये तो इसका बुरा असर भी हो सकता है। स्‍ट्रेस की वजह से न तो किसी क‍ाम में मन लगता है और न ही भूख लगती है न ही रात को नींद आती है।

तनाव और चिंता आजकल आम समस्या हो गयी है। जब आप तनाव में होते है तो आपका शरीर भी आपको संकेत देने लगता है क‍ि आप स्‍ट्रेस में है, इसलिए आज आपको बताया गया है कि कैसे आप पता लगा सकते हैं कि आप तनाव में हैं.

चिड़चिड़ापन का होना (Chidchidapan ka hona) –

तनाव में चिड़ना और परेशान होना बहुत ही आम सी बात है, आपको छोटी छोटी बातें अच्‍छी नहीं लगती है। आप हर छोटी सी छोटी बात पर चिड़ जाते है। किसी से सही तरीके से बात नहीं करते है और हर छोटी सी बात पर परेशान हो जाते हैं। अगर आपके साथ इस होता है तो आप समझ लीजिये कि आप तनाव में हैं.

इसे भी पढ़े – तनाव से छुटकारा कैसे पाए

फालतू की बातें सोचते रहना (Faltu ki baate sochna) –

चिंता करना स्ट्रेस की निशानी है। ऐसा तब होता है जब आप किसी भी चीज के बारे में जरुरत से ज्‍यादा सोचने लगते हैं। इस वजह से आप चीजों पर फोकस भी नहीं कर पाते हैं और इस वजह से आपका कॉन्फिडेंस भी धीरे धीरे कम होने लगता है।

मसल्‍स और ज्‍वाइंट का सख्‍त होना (Muscles or joints ka hard hona) –

क्‍या आपको लगता है कि आपके कंधे थोड़े से अकड़ गए हैं। ज्‍यादा स्‍ट्रेस लेने की वजह से अक्‍सर ऐसा होता है। सर से लेकर पांव तक कभी कभी ऐसी ऐंठन आ जाती है, यह सब तनाव कि वजह से होता है.

हार्टबर्न और पेट में दर्द होना (Heartburn or pet me dard hona) –

क्‍या आप हर 10 मिनट में बाथरुम जाते हैं, ऐसा भी तनाव की वजह से होता है। चिंता और तनाव की वजह से ऐसा होता है कि आपको बार बार बाथरुम का चक्‍कर लगाना पड़ता है। पेट में दर्द होना और हार्ट बर्न होना भी तनाव की ही समस्‍या है।

नींद का आना (Need na aana) –

स्‍ट्रेस के दौरान नींद न आना सबसे सामान्‍य सी बात है। कई बार ऐसा होता है कि लोग सोना चाहते है लेकिन बेवजह की बातों की वजह से सो नहीं पाते। रात भर जगना , मोबाइल पर चैट करना, कम्‍प्‍यूटर पर काम करते रहना। इसकी वजह से लोग पूरी नींद नहीं ले पाते है और इसका असर शरीर पर दिखता है।