स्टडी रूम के लिए वास्तु टिप्स Study Room Vastu Tips in Hindi

पढ़ाई के लिए जरूरी वास्तु टिप्स Easy Vastu Tips for Students

स्टडी रूम के लिए वास्तु vastu tips for study roomस्टडी रूम के लिए वास्तु टिप्स – आजकल शिक्षा के क्षेत्र में दिन – प्रतिदिन बढ़ते कॉम्पिटिशन के चलते सभी स्टूडेंट्स तनाव में नजर आते है. व अपने जीवन में सफलता पाने के लिए दिन – रात मेहनत करते है. लेकिन कई स्टूडेंट्स ऐसे भी है जो मेहनत तो खूब करते है लेकिन कड़ी मेहनत के बावजूद भी असफल हो जाते है.

इसे भी पढ़ें  –

स्टडी रूम के लिए वास्तु – वास्तुशास्त्र के अनुसार प्रत्येक अभिभाक व प्रत्येक छात्रों को अपने अध्ययन कक्ष अथार्त स्टडी रूम से जुड़े सभी बारीकियों को ध्यान में जरूर रखना चाहिए. यदि हम अपने स्टडी रूम में वास्तु के अनुसार वातावरण निर्मित करके पढ़ाई करें तो हमे सकारात्मक ऊर्जा की प्राप्ति होती है व शिक्षा के क्षेत्र में आ रही अड़चने दूर होंगी. आज हम आपको स्टडी रूम से जुड़े वास्तु टिप्स (स्टडी रूम के लिए वास्तु) बताने जा रहे है व साथ ही छात्र को उच्चतम सफलता प्राप्त होती है.

जानिए स्टडी रूम के लिए वास्तु टिप्स All Vastu Tips for Study Room in Hindi –

  1. स्टडी रूम के लिए वास्तु – छात्र ध्यान रखें कि वे पढ़ने के लिए जिस टेबल का प्रयोग कर रहे है वे चौकोर में होनी चाहिए साथ ही वह टेबल चारों पांवों में समानता रखती हो।
  2. विधार्थी अपनी स्टडी टेबल को दक्षिण-पश्चिम या फिर दरवाजे के सामने बिलकुल भी ना लगाएं। क्योकि वास्तु अनुसार ऐसा करने से बुद्धि का पतन होता है.
  3. स्टडी रूम के लिए वास्तु  – अपनी स्टडी टेबल को दरवाजे या फिर दीवार से चिपकाकर ना रखें व इसके आलावा लाइट के सीधे नीचे अपनी स्टडी टेबल सेट न करें। ऐसा करने से ध्यान बार बार भटकता है.
  4. ध्यान रखें कि उत्तर-पूर्व या फिर पूर्व दिशा वाले कमरे में स्टडी रूम की व्यवस्था करें. क्योकि यह दिशा छात्रों के लिए शुभ व प्रेरणाप्रद होती है.
  5. स्टडी रूम के लिए वास्तु  – आप चाहे तो स्टडी रूम को पूजा घर से सटा कर रख सकते है। परन्तु दक्षिण-पूर्व, दक्षिण-पश्चिम या फिर उत्तर-पश्चिम में न रखें क्योकि इससे छात्रों के लिए अशुभ व तनावयुक्त स्थिति उत्पन्न करता है.
  6. स्टडी रूम के लिए वास्तु  – छात्रों को उत्तर – पश्चिम दिशा में बैठकर भी अध्यन नहीं करना चाहिए. क्योकि इससे पढ़ाई में मन नहीं लगता व ध्यान भी बार – बार विचलित होता है.
  7. जो छात्र घर से बाहर अथार्त हॉस्टल आदि में रहते हैं या फिर जिन छात्रों के लिए यह संभव ना हो. उन्हें पूर्व दिशा की ओर माता सरस्वती या नृत्य करते या फिर लिखते हुए गणेश जी का चित्र स्थापित करना चाहिए और उन्हें अध्ययन के पहले व बाद में प्रणाम करना चाहिए. ऐसा करने से (स्टडी रूम के लिए वास्तु) छात्रों का एनर्जी लेवल बढ़ता है और पढ़ाई में ध्यान केंद्रित रहता है.

FAQ –

प्रश्न – वास्तु के अनुसार किस दिशा में पढ़ाई करनी चाहिए?

उत्तर –  वास्तु के अनुसार पूर्व दिशा की ओर पढ़ाई करनी चाहिए.

प्रश्न – वास्तु के अनुसार स्टडी रूम (अध्ययन कक्ष) किस दिशा में होना चाहिए?

उत्तर –  वास्तु के अनुसार स्टडी रूम  उत्तर-पूर्व या फिर पूर्व दिशा में होना शुभ माना जाता है.

प्रश्न – वास्तु के अनुसार पढ़ने के लिए किस टेबल का प्रयोग करें?

उत्तर – वास्तु के अनुसार पढ़ने के लिए  पढ़ने के लिए चौकोर टेबल का प्रयोग करना चाहिए.

Question – According to Vastu, in which direction should we study?

Answer – According to Vastu, we should study towards East direction.

Question – In what direction should the study room be according to Vastu?

Answer – According to Vastu, study room is considered to be auspicious in the North-East or east direction.

Question – Which table is used to read according to Vaastu?

Answer – According to Vaastu, the square table should be used for reading.