सिर से जुओं को दूर करने के आसान तरीके lice removal homemade tips

बालों से जूं निकालने के आसान तथा अचूक घरेलु उपचार

बालों से जूं निकालने के आसान तथा अचूक घरेलु उपचार upcharnuskheसिर में जुएं हो जाना एक आम बात है पर सिर में जुए पड़ने की सबसे खास वजह सिर में गन्दी होना होता है. जूँ एक छोटा परजीवी है. जो हमारे सिर के बालों की जड़ो में चिपके रहते हैं. आमतौर पर जूँ खून पीकर जिन्दा रहते हैं. जूँ वाले किसी व्यक्ति के संपर्क में आते हैं तो यह आपको भी हो सकते हैं. साथ ही इंफेक्टेड व्यक्ति का सामान जैसे कंघी और कपड़े आदि इस्तेमाल करने से भी जूँ होने की संभावना रहती है.

सिर में जूँ होने के कारण हमारे सिर में अत्यधिक खुजली होने लगती है क्योंकि जूँ हमारे बालों को जड़ो में छुप कर खून पीते रहते हैं. बाजार में अनेक प्रकार के कैमिकल मिलते हैं जो जूं तुरंत नष्ट कर सकते हैं. परन्तु इसके अधिक प्रयोग से त्वचा पर बुरा प्रभाव भी पड़ सकता है. इस समस्या को दूर करने के लिए कुछ आसान घरेलु नुस्खों की मदद से छुटकारा पाया जाता है.

सिर में जुए होने के कारण

सिर में जू होने का प्रमुख कारण एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में सीधे संपर्क में आने के कारण, संदूषित कंघियाँ और हेयर ब्रश इस्तेमाल करने से, या संदूषित चद्दरें, तौलिये या शावर कैप बाँट कर इस्तेमाल करने से भी सिर की जुएँ होने लगती हैं. सिर में जू होने से हमारे सिर में अत्यधिक खुजली होने लगती है. कई बार यह खुजली इतनी अधिक होती है की सिर से रक्त आने लगता है. इसलिए अपने सिर को हमेशा साफ़ सुथरी रखना चाहिए.

सिर के जूँ को दूर करने के उपाय 

लहसुन का प्रयोग

लहसुन जूं को मारने का सबसे अच्छा उपाय है. कुछ लहसुन की कलियों को लें. अब इन्हे छिल के इन्हे पीस के इनका पेस्ट तैयार कर लें. अब इस पेस्ट में करीब तीन चम्मच निम्बू का रस मिला कर करीब 30 मिंट तक जिस स्थान में जूं हो वह पर लगा दें. आधे घंटे बाद सिर को गुनगुने पानी से धो दें. इससे जूं को आसानी से खत्म किया जा सकता है.

जैतून का तेल है फायदेमंद

जैतून के तेल से जूं को आसानी से खत्म किया जा सकता है. जूं होने पर बालों में जैतून का तेल लगाए उसके बाद बालों को कंघी करें. हफ्ते में इस तेल को बालों में तीन बार लगाए. इससे जूं की समस्या को समाप्त किया जा सकता है.

नीम का उपयोग

नीम की पत्तियां में एंटी-सेप्टिक गुण पाये जाते हैं. जिससे जुओ को आसानी से समाप्त किया जा सकता है. कुछ नीम की पत्तियों को पीस कर इसका पेस्ट बना लें. अब इस पेस्ट को बालों में करीब एक घंटे तक लगा कर रखें. एक घंटे बाद बालों को किसी माइल्‍ड शैंपू से धो दें. इस विधि का प्रयोग हफ्ते में दो बार करें. जू धीरे-धीरे कम होने लगेंगे.

सफेद सिरका का प्रयोग

जुओ को खत्म करने के लिए सफेद सिरके का प्रयोग एक बहुत ही अच्छा उपाय है. सफेद सिरके में एसिटिक एसिड मौजूद होने के कारण यह जुओ को मारने में सहायक होता है. इसके उपयोग के लिए थोड़ा सफ़ेद सिरका लें तथा बराबर मात्रा में पानी मिलाकर इसका मिश्रण तैयार कर लें. अब इस मिश्रण को सिर में लगाए तथा बालों को किसी साफ़ तोलिये से लपेट लें. करीब एक घंटे तक तोलिये को बालों में रहने दें. इसके बाद कंघे को सफेद सिरके में डूबोकर अपने बालों में कंघा करें. इसके बाद बालों को शैम्पू से धो लें. इससे सिर के जुए खत्म होने लगेंगे.

नीम के तेल का प्रयोग

नीम के तेल से जुओ को आसानी से खत्म किया जा सकता है. सिर में अधिक जुए होने के कारण सिर में अत्यधिक खुजली होने लगती है. इस समस्या से निपटने के लिए नीम के तेल को रात को बालों में लगा लें. सुबह उठकर बालों को गुनगुने पानी से धो दें. ऐसा करने से बालों से जू को आसानी से खत्म किया जा सकता है.

टी ट्री ऑयल के उपयोग

टीट्री ऑयल में कीटनाशक गुण पाये जाते हैं. टीट्री ऑयल से जू को खत्म करने में बहुत मदद मिलती है परन्तु टी ट्री आयल को सीधा बालों में लगाना उचित नहीं माना जाता. जू होने पर एक चम्‍मच टीट्री ऑयल, थोड़ा सा शैम्‍पू और तीन बड़े चम्‍मच नारियल या जैतून का तेल मिलाकर मिश्रण बना लें. अब इस मिश्रण को सिर में लगाए तथा बालों को किसी साफ़ तोलिये से लपेट लें. करीब आधे घंटे तक तोलिये को बालों में रहने दें. इसके बाद बालों को गुनगुने पानी से धो दें. अब कंघी की मदद से बालों से जू निकाले.

नारियल तेल के फायदे

नारियल तेल से भी जू की समस्या को समाप्त किया जा सकता है. इसके उपयोग के लिए सबसे पहले बालों को सेब के सिरके से धोएं. अब बालों को सूखने दें. बाल सूखने के बाद बालों में नारियल तेल लगाए तथा करीब आठ घंटे तक बालों में नारियल का तेल लगा रहने दें. इसके बालों बालों में शैम्पू लगाए और कंघी की मदद से जू को निकाले.