माघ पूर्णिमा तिथि शुभ मुहूर्त 2019 Magha Purnima 2019 Date Time Muhurt

पूर्णिमा व्रत पूजा विधि Purnima Vrat Puja Vidhi

पूर्णिमा शास्त्रों में पूर्णिमा तिथि बेहद ख़ास और पवित्र मानी जाती है मान्यता है की इस दिन मांगलिक और शुभ कार्य करना बहुत ही शुभ होता है। ऐसी धार्मिक मान्यताये है की पूर्णिमा के दिन चंद्रमा की किरणों में सकारात्मक ऊर्जा का संचार बढ़ जाता है जिस कारण इस दिन रात में चंद्रमा को अर्घ्य देने से आरोग्य की प्राप्ति होती है.आज हम आपको साल 2019 माघ माह में पड़ने वाली पूर्णिमा के शुभ मुहूर्त व्रत तिथि महत्व और इस दिन किये जाने वाले कुछ लाभकारी उपायों के बारे में बताएँगे.

माघ पूर्णिमा व्रत तिथि व शुभ मुहूर्त Magha Purnima 2019 Vrat Date Time

  1. साल 2019 में माघ पूर्णिमा का व्रत 19 फरवरी मंगलवार के दिन रखा जाएगा.
  2. पूर्णिमा तिथि आरंभ होगी = 19 फरवरी मंगलवार को 01:11 मिनट पर|
  3. पूर्णिमा तिथि समाप्त होगी = 19 फरवरी मंगलवार को 21:23 मिनट पर।

माघ पूर्णिमा पूजा विधि Magha Purnima 2019 Vrat Puja Vidhi

शास्त्रों की माने तो माघ पूर्णिमा पर भगवान विष्णु, शिव और कृष्ण पूजा का विधान है. कई लोग सतनारायण पूजा के नाम से भी जानते है। पूर्णिमा तिथि के दिन सर्वप्रथम प्रातः काल उठकर अपने सभी दैनिक कार्यो से निवृत होकर व्रत का संकल्प ले और इसके बाद सूर्य को अर्घ्य देकर भगवान विष्णु, शिव और कृष्णा जी की पूजा करे. पूजा के लिए सभी पूजन सामग्री जैसे फल, फूल, पान, सुपारी, दूर्वा तथा भोग के लिए मंदिर में रख ले. इसके बाद भगवान के समक्ष दीप प्रज्वलित कर सभी पूजन सामग्री भगवान को अर्पित करे. ऐसी मान्यता है की भगवान विष्णु व्रती द्वारा पूरे विधि-विधान से सम्पन्न की गयी पूजा अर्चना को जल्द ही स्वीकार करते है और वयक्ति को मनोवांछित फल देते है. इस दिन कई लोग जल व फल ग्रहण करके उपवास रखते है और रात्रि में चंद्रोदय के बाद पूजा कर व्रत खोलते है. पूर्णिमा की रात जल में सफेद फूल डालकर चन्द्रमा को अर्घ्य देना शुभ माना जाता है.

माघ पूर्णिमा महत्व Magha Purnima 2019 Importance

पौराणिक कथाओं अनुसार कहा जाता है की माघ माह में भगवन पृथ्वी पर मनुष्य रूप में अवतरित होकर प्रयाग में स्नान-दान करते हैं। इसलिए माघ माह की पूर्णिमा के दिन प्रयाग में स्नान करना बहुत ही शुभ फलदायी माना जाता है मान्यता है की जो भी ऐसा करता है उसकी सभी मनोकामनाएं पूरी होने के साथ ही मोक्ष की प्राप्ति भी होती है। कहा जाता है की पूर्णिमा तिथि पर जल और वातावरण में एक विशेष प्रकार की उर्जा आ जाती है इसीलिए इस दिन नदियों और सरोवरों में स्नान करने की परंपरा है माघ पूर्णिमा के दिन किये गए स्नान, दान और आज के दिन मोती या चांदी धारण करना बहुत ही शुभ होता है.

राशिअनुसार जाने साल 2018 का भविष्यफल 

मनोकामना पूरी करने का महाउपाय Magha Purnima Mahaupay 2019

  1. माघ पूर्णिमा पर भगवान शिव की पूजा बहुत ही फलदायी होती है इस दिन भोलेनाथ को शहद से स्नान कराकर बिल्वपत्र अरिपत करने चाहिए माना जाता है की ऐसा करने पर व्यक्ति की मनोकामना पूरी होती है और उसके परिवार को उत्तम स्वास्थ्य का वरदान मिलता है.
  2. यदि संभव हो तो इस दिन सत्यनारायण पूजा अवश्य कराये.
  3. इस दिन किसी तीर्थ स्थान पर जाकर स्नान दान करना बहुत ही लाभकारी बताया गया है.यदि तीर्थ स्थान पर जाना संभव ना हो तो घर पर भी गंगाजल मिले पानी स्नान के बाद किसी जरूरतमंद को दान अवश्य करना चाहिए.
  4. मान्यता है की माघी पूर्णिमा पर स्वंय भगवान विष्णु गंगाजल में निवास करतें है जिस कारण मात्र इसके स्पर्श से भी व्यक्ति की सभी परेशानियों और दुखों का अंत हो जाता है.