महिलाओं के लिए योग विधि और उनसे होने वाले फायदे Best yoga poses for every women

महिलाओं के लिए आसन योगा और उनसे मिलने वाले लाभ Easy yoga for women

शरीर को स्वस्थ रखने के लिए उचित आहार के साथ-साथ योग और व्यायाम भी जरुरी होता है। आजकल की दिनचर्या के चलते कई लोग अपने सेहत पर ध्यान नही दें पाते जिसके चलते उन्हें अनेक समस्याओ का सामना करना पड़ता है। महिला हो या पुरुष दोनों के लिए ही योग लाभदायक होते हैं। योग करने से ना केवल शरीर को स्वस्थ रखा जा सकता है बल्कि योग के माध्यम से हम चुस्त-दुरुश्त भी रह सकते हैं। इसके अलावा हम योग के द्वारा कई बीमारियों को भी ठीक कर सकते हैं।

महिलाओ को भी योग और व्यायाम करना बहुत आवश्यक होता है. जिससे महिलाओ का शारीरिक और मानसिक विकास होने के साथ-साथ आंतरिक अंगो में होने वाली कई बीमारियो से भी छुटकारा पाया जा सकता है। बहुत सी ऐसी परेशानिया है जिनसे महिलाओं को जूझना पड़ता है। इस समस्या को दूर करने के लिए महिलाये कुछ योग और व्यायम की मदद लें सकती हैं जिससे सभी समस्याओ से छुटकारा पाया जा सकता है।

महिलाओ के लिए कुछ आसान योग, व्यायाम Some easy yoga and exercise for women

महिलाओं के लिएचक्की चलाना आसन (Mill running posture) –

चक्की चलाना आसन महिलाओं के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इस आसान को करने से महिलाये अनेक परेशानियों को आसानी से दूर कर सकती हैं। यह आसान कई रोगों की रोकथाम में सहायक है।

चक्की चलाना आसन करने की विधि (Mill running posture method)

  • नौका संचालन आसन करने के लिए सबसे पहले पैरों को फैला कर बैठ जाये।
  • अब अपने हाथो को सामने की और सीधा करते हुए अंगुलियों को एक दूसरे में फंसा लें।
  • अब अपनी कमर को झुकाते हुए हाथो को इस तरह चलाये की जैसे चक्की चलती है।
  • इस आसान को दोनों तरफ से 10-10 बार करें।

चक्की चलाना आसन करने के लाभ (Mill running posture benefits) 

  • चक्की चलाना आसन करने से पेट की मांसपेशियों की मालिश होती है।
  • यह आसान साइटिका के निवारण के लिए अच्छा माना जाता है।
  • इस आसान को लगातार करने से पेट की चर्बी को आसानी से कम किया जा सकता है।

महिलाओं के लिएनौका संचालन आसन (Vessel operating posture) –

नौका संचालन आसन शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होता है. इस आसान को करने से शरीर के अनेक विकारो को आसानी से दूर किया जा सकता है। यह आसान महिलाओं के लिए बहुत ही उत्तम आसान माना जाता है।.

नौका संचालन आसन करने की विधि (Vessel operating posture method)

  • नौका संचालन आसन को करने के लिए सबसे पहले अपनी दोनों पैरो को फैलाकर बैठ जाए।
  • अपने अपने शरीर को नाव चलाने के अंदाज़ में संचालित करें।
  • जितना हो सके शरीर को पीछे की और झुकाये रखे।
  • इस आसान को कम से कम 10 से 12 बार करने से लाभ होता है।

नौका संचालन आसन करने के लाभ (Vessel operating posture benefits) 

  • यह आसन स्त्री रोग ठीक करने में फायदेमंद होता है।
  • इस आसान को करने से पेट से सम्बंधित समस्याएं समाप्त हो जाती है।
  • तीन माह की गर्भवती स्त्रियों के लिए यह आसान फायदेमंद होता है।
महिलाओं के लिएरज मुद्रा योग (Raj yoga pose) –

रज मुद्रा योग भी महिलाओं  के लिए फायदेमंद होता है। रज मुद्रा योग का रोजाना अभ्यास करने से महिलाओं को अनेक रोगों से लड़ने की क्षमता मिलती है। जिससे हमारा शरीर स्वस्थ रहता है।\

रज मुद्रा योग करने की विधि (Raj yoga pose method) 

  • रज मुद्रा योग करना बहुत ही आसान होता है।
  • इसे करने के लिए अपनी छोटी ऊँगली को हथेली की जड़ में मोड़कर लगाए।
  • तथा बाकि तीनों उंगलियो को सीधा रखें।
  • इस योग को कुछ देर करें। इससे लाभ होगा।

रज मुद्रा योग करने के लाभ (Raj yoga pose benefits)

  • इस योग को करने से मासिक धर्म में होने वाली परेशानियों से मुक्ति मिलती है।
  • रज मुद्रा योग को करने से सिर का भारीपन, छाती, पेट, पीठ और कमर के दर्द जैसे रोगो में भी लाभ होता है।
महिलाओं के लिए सूर्य नमस्कार (Surya Namaskar) – 

लोगो का जीवन अनेक परेशानियों से घिरा रहता है, परन्तु समय-समय पर अपनी शारीरिक जरुरतो का आंकलन करना भी जरुरी है। इसके लिए जरुरी है की हम कुछ योग और व्यायाम से अपने शरीर को फिट रख सके। सूर्य नमस्कार हमारे शरीर को फिट रखने के लिए बहुत ही अच्छा माना जाता है. रोजाना सूर्य नमस्कार करने से हमारा शरीर अनेक समस्यायों से दूर रहता है साथ ही सूर्य नमस्कार करने से शरीर में किसी बीमारी के होने की आशंका नही रहती और इससे शरीर स्वस्थ और जवा बना रहता है।

महिलाओं के लिएवज्रासन (Vajrasana) – 

महिला को उचित भोजन करने के साथ-साथ व्यायाम करना भी जरुरी है। जिससे शरीर को स्वस्थ रखा जा सके। वज्रासन एक ऐसा आसान जो शरीर में होने वाले कई विकारो को ठीक करने में सहायक होता है। इस आसान को करने के बाद रोगों की रोकथाम आसानी से की जा सकती है।

वज्रासन करने की विधि (The method of Vajrasana)

  • वज्रासन करने के लिए सबसे पहले दोनों पैर सामने की तरफ फैलाकर बैठ जाए।
  • अब बाए पैर और दाए पैर के घुटने को मोड़कर इस तरह बैठे के पैरो के पंजे पीछे और ऊपर की और हो जाए जिससे हिप्स दोनों एडीओ के बीच आ जाए।
  • अपने शरीर को सीधा रखे।
  • अब अपने दोनों हाथो को घुटने पर रखें।
  • अब अपने शरीर को ढीला छोड़ कर अपनी आँखों को बन्द करें।
  • अब धीरे-धीरे लम्बी गहरी सांस लें और छोड़े।
  • इस आसान को शुरुआत में करीब पांच मिनट तक ही करे।

वज्रासन के लाभ (Vajrasana benefits)

  • वज्रासन महिलाओ में मासिक धर्म की अनियमितता को दूर करने में सहायक होता है।
  • शरीर को सुडौल बनाने के के लिए भी वज्रासन फायदेमंद होता है।
  • वज्रासन को करने से रीढ़ की हड्डी मजबूत बनती है।
  • यह आसन अपचन, गैस, कब्ज इत्यादि विकारो को दूर करने में सहायक है।
  • इस आसन से पाचन शक्ति को बढ़ाया जा सकता है।
  • यह आसन वजन कम करने में भी मददगार होता है।
  • वज्रासन को करने से फेफड़े भी मजबूत बनते हैं।