बैसाख पूर्णिमा धनप्राप्ति के लिए करे ये उपाय Baisakh Purnima 2018

बैसाख पूर्णिमा पर बना महासंयोग  Baisaakh Purnima Vrat Festival –

बैसाख पूर्णिमा बैसाख के महीने में आने वाली पूर्णिमा बैसाख पूर्णिमा को बुद्ध पूर्णिमा के नाम से भी जाना जाता है इस साल बुद्ध पूर्णिमा 30 अप्रैल 2018 यानि की सोमवार के दिन है। मान्यताओं के अनुसार इस दिन भगवान बुद्ध का जन्म हुआ था और आज ही के दिन बोधगया में उन्हें बुद्धत्व की प्राप्ति भी हुई थी. पूरी दुनिया में गौतम बुद्ध की जयंती को धूमधाम से मनाया जाता है. ज्योतिष शास्त्र की माने तो कहा जा रहा है की इस बार बुद्ध पूर्णिमा के दिन ऐसा ख़ास संयोग बन रहा है जो इसके बाद साल 2022 में देखने को मिलेंगे. इस बार पूर्णिमा के दिन बुद्ध जयंती पर स्वाति नक्षत्र में ये संयोग बन रहा है कहा जाता है की इस स्वाति नक्षत्र में ये संयोग दान पुण्य के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होता है आज हूँ आपको बताएँगे की इस पूर्णिमा के दिन ऐसा कौन सा उपाय है जिसे कर लेने से जीवन में राजा की प्राप्ति हो सकती है.

इसे भी पढ़ें  –

पीपल के वृक्ष के नीचे घी का दीपक जलाये Baisaakh Purnima Dhanpraapti ke Upay –

बैसाख पूर्णिमा के दिन माता लक्ष्मी और विष्णु जी की पूजा का बहुत अधिक महत्व होता है इस दिन धनप्राप्ति और वैभव के लिए पीपल के पेड़ के नीचे घी का दीपक जलना ना भूले. और साथ ही घर में लक्ष्मी माँ और विष्णु जी की पूजा अवश्य ही करवाए.

कोड़िया हल्दी की गाँठ या गोमती चक्र की पूजा करे Buddha Purnima Worship of Maa Lakshmi – 

बैसाख पूर्णिमा के दिन माता लक्ष्मी जी को प्रसन्ना करने के लिए आप 11 गोमती चक्र, हल्दी की गाँठ या फिर कोडियां ले ले पूजा के समय इनपर तिलक करे और फिर अगले दिन इन्हें अपनी तिजोरी या पैसों के स्थान में रख ले ऐसा करने से आपके जीवन में धन वैभव और समृद्धि का वास हमेशा ही बना रहेगा.

माता लक्ष्मी को इत्र चढ़ाये Baisaakh Purnima Vrat Festival –

बैसाख पूर्णिमा  के इस शुभ संयोग पर माँ को खुश करने के लिए इत्र और सुगन्धित पुष्प चढ़ाना ना भूले इत्र को माता के वस्त्रों पर अवश्य छिड़के और माँ को घर में स्थायी रूप से निवास करने की प्राथना करे.

शिवलिंग पर दीपक जलाये Importance of Baisaakh Purnima –

पूर्णिमा के दिन शिव की पूजा भी अवश्य करनी चाहिए शिवलिंग पर जल चढ़ाकर धुप दीप से पूजा करे और ॐ रुद्राय मंत्र का जाप करे ऐसा करने से आपको माता लक्ष्मी के साथ भगवान् शिव का आशीर्वाद भी प्राप्त होगा.

इस दिन स्नान और दान पुण्य अवश्य करे Buddha Purnima Daan Punya Mehtva –

शास्त्रों में इस दिन दान पुण्य का विशेष महत्व बताया गया है स्वाति नक्षत्र के कारण इस बैसाख पूर्णिमा का दान और खरीदारी पर विशेष प्रभाव रहने वाला है इस दिन जरूरतमंदों को दक्षिणा और भोजन आदि करवाए और हो सकते तो किसी पवित्र नदी या गंगा स्नान अवश्य ही करे.