बाल गंगाधर तिलक के प्रेरणादायक सुविचार Bal Gangadhar TilakThoughts and Quotes

बाल गंगाधर तिलक के अनमोल ज्ञानवर्धक विचार Best Thoughts of Bal Gangadhar Tilak

%e0%a4%ac%e0%a4%be%e0%a4%b2-%e0%a4%97%e0%a4%82%e0%a4%97%e0%a4%be%e0%a4%a7%e0%a4%b0-%e0%a4%a4%e0%a4%bf%e0%a4%b2%e0%a4%95-%e0%a4%95%e0%a5%87-%e0%a4%85%e0%a4%a8%e0%a4%ae%e0%a5%8b%e0%a4%b2-%e0%a4%9cबाल गंगाधर तिलक का जन्म 23 जुलाई 1856 में रत्नागिरी जिला, महाराष्ट्र में हुआ था. यह हिन्दुस्तान के एक प्रमुख नेता, समाज सुधारक और स्वतन्त्रता सेनानी थे. बाल गंगाधर तिलक भारतीय स्वतन्त्रता संग्राम के पहले लोकप्रिय नेता थे. इन्होंने अनेक ऐसे कथन कहे जिससे लोगो को बहुत ही हिम्मत और शक्ति मिली लेकिन इनका एक कथन स्वराज मेरा जन्मसिद्ध अधिकार है और मैं इसे लेकर रहूँगा बहुत ही प्रसिद्ध हुआ तथा बाल गंगाधर तिलक को हिन्दू राष्ट्रवाद का पिता भी कहा जाता है.

विचार (Quotes) 1. भारत की गरीबी पूरी तरह से वर्तमान शासन की वजह से है।

विचार (Quotes) 2. स्वराज मेरा जन्मसिद्ध अधिकार है, और मैं इसे लेकर रहूँगा !

विचार (Quotes) 3. ये सच है कि बारिश की कमी के कारण अकाल पड़ता है लेकिन ये भी सच है कि भारत के लोगों में इस बुराई से लड़ने की शक्ति नहीं है।

विचार (Quotes) 4. भूविज्ञानी पृथ्वी का इतिहास वहां से उठाते हैं जहाँ से पुरातत्वविद् इसे छोड़ देते हैं , और उसे और भी पुरातनता में ले जाते हैं।

विचार (Quotes) 5. यदि हम किसी भी देश के इतिहास को अतीत में जाएं , तो हम अंत में मिथकों और परम्पराओं के काल में पहुंच जाते हैं जो आखिरकार अभेद्य अन्धकार में खो जाता है।

विचार (Quotes) 6. धर्म और व्यावहारिक जीवन अलग नहीं हैं। सन्यास लेना जीवन का परित्याग करना  नहीं है।  असली भावना सिर्फ अपने लिए काम करने की बजाये देश को अपना परिवार बना मिलजुल कर काम करना है। इसके बाद का कदम मानवता की सेवा करना है और अगला कदम ईश्वर की सेवा करना है।

विचार (Quotes) 7. प्रगति स्वतंत्रता में निहित है। बिना स्वशासन के न औद्योगिक विकास संभव है , न ही राष्ट्र के लिए शैक्षिक योजनाओं की कोई उपयोगिता है… देश की स्वतंत्रता के लिए प्रयत्न करना सामाजिक सुधारों से अधिक महत्वपूर्ण है.