बजरंगबली हनुमान जी के मंगलवार का व्रत विधि और उसके नियम Tuesday Fast (Manglwar Vrat) Vidhi

मंगलवार व्रत का पूरा विधि-विधान और इसके लाभ Tuesday Fast Benefits and Vrat Vidhi

%e0%a4%ae%e0%a4%82%e0%a4%97%e0%a4%b2%e0%a4%b5%e0%a4%be%e0%a4%b0-%e0%a4%b5%e0%a5%8d%e0%a4%b0%e0%a4%a4-%e0%a4%95%e0%a4%be-%e0%a4%aa%e0%a5%82%e0%a4%b0%e0%a4%be-%e0%a4%b5%e0%a4%bf%e0%a4%a7%e0%a4%bfमंगलवार को पवनपुत्र हनुमान जी का व्रत लिया जाता है. वैसे तो मंगलवार का व्रत कोई भी व्यक्ति क्र सकता है लेकिन ज्योतिष शास्त्र के अनुसार मंगलवार का व्रत उन्हें करना चाहिए जिनकी कुंडली में मंगल गृह निर्बल हो और इसी कारण शुभ फल देने में असमर्थ हो. इस दिन व्रत करने से अधूरे कार्य पुरे हो जाते हैं. इन दिन व्रत करने से मंगल ग्रह भी शांत होता है. मंगलवार का व्रत करने से उपवासक को सुख- समृ्द्धि की प्राप्ति होती है. यह व्रत उपवासक को राजकीय पद भी देता है.

मंगलवार व्रत विधि The Fast Method Bajrangbali

मंगलवार का व्रत हनुमानजी के लिए किया जाता है. यह व्रत लगातार 21 मंगलवार तक किया जाना चाहिए. इससे घर में सुख-सम्रद्धि आती है तथा इच्छायें पूर्ण होती हैं. इस व्रत को करने से व्यक्ति के तमाम कष्ट समाप्त हो जाते हैं तथा जीवन में सुख-शांति बनी रहती है. 

  • मंगलवार के व्रत के दिन सूर्योदय से पहले स्नान करना चाहिए.
  • इसके बाद घर की ईशान कोण की दिशा में किसी एकांत स्थान पर हनुमानजी की मूर्ति या चित्र स्थापित कर दे.
  • इसके बाद किसी लाल वस्त्र इस दिन पहने और व्रत का संकल्प हाथ में पानी ले कर करे.
  • जिस स्थान पर पूजा करनी हो वह पर घी का दीपक जलाये और हनुमानजी की मूर्ति या चित्र पर पुष्प माला चढ़ाकर चमेली के तेल के हलके छीटे दे.
  • इसके बाद मंगलवार व्रत की कथा पड़े तथा हनुमान चालीसा का पाठ करें.
  • दिन में एक बार भोजन करें तथा सैम को फिर एक बार हनुमानजी की पूजा करे और सभी को व्रत का प्रसाद बांटकर स्वयं प्रसाद ग्रहण करें.

मंगलवार व्रत उद्ध्यापन कैसे करें Tuesday fast Udyapan

मंगलवार के 21 व्रत पूर्ण होने के बाद अगले मंगलवार पर 21 ब्राह्मणों को घर बुलाये और उन्हें भोजन कराये और यथाशक्ति दान –दक्षिणा दे.

मंगलवार व्रत के लाभ Benefits of Tuesday Vrat

मंगलवार के व्रत करने से धन, पति, असाध्य रोगों से मुक्ति होती है तथा यह मोह रुपी संसार से मुक्ति प्राप्ति के लिये भी व्रत किये जाते है. मंगलवार के व्रत करने से वाचिक, मानसिक व अन्य सभी पापों से मुक्ति मिलती है. तथा उपवासक को सुख, धन और यश लाभ प्राप्त होता है.