नवरात्री 2018 कन्या पूजन विधि Chaitra Navratri Kanya Poojan 2018

नवरात्री 2018 कन्या पूजन कैसे करें Navratri 2018 Kanya Poojan

नवरात्री 2018 कन्या पूजन नवरात्री 2018 कन्या पूजन  – नवरात्री व्रत पूरे नौ दिनों तक मनाया जाता है और इन 9 दिनों में देवी के नौ रूपों की पूजा की जाती है। नवरात्र के अंतिम दिन विधि- विधि व श्रद्धा पूर्वक कन्या पूजन करना भी अति आवश्यक माना गया है। पुराणों के अनुसार नवरात्री व्रत व नवरात्र की पूजा बिना कन्या पूजन के बिना अधूरी रहती है। 

नवरात्र के अंतिम दिन जो भी व्यक्ति श्रद्धा भाव से कन्याओं की पूजा के साथ ही उन्हें भोजन करवाता है उसकी सारे मनोकामनाएं माता रानी पूर्ण करती है. साथ ही अधिकतर लोग नौ कन्याओं के साथ एक छोटे बालक को भी भौरों बाबा के रूप में भोजन करवाते हैं। इस वर्ष अष्टमी व नवमी एक ही दिन मनाई जाएगी. कन्या पूजन में दस वर्ष तक की नौ कन्याओं को भोजन करना शुभ माना जाता है. आज हम आपको कन्या पूजन करने की विधि के बारे में बताने जा रहे है.

इसे भी पढ़ें  –

चैत्र नवऱात्री 2018 अष्टमी तिथि – 25 मार्च 2018

चैत्र नवऱात्री 2018 नवमी तिथि –  25 मार्च (रविवार)

नवरात्री 2018 कन्या पूजन तिथि – 24 मार्च से 25 मार्च 2018 तक

चैत्र नवऱात्री 2018 कन्या पूजन शुभ मुहूर्त – 24 मार्च सुबह 10:15 से 25 मार्च सुबह 8:15 तक.

कैसे करें कन्या पूजन How to do Kanyas Pujan– 

नवरात्री 2018 कन्या पूजन  – सबसे पहले कन्या पूजन के लिए प्रातः स्नान कर भिन्न – भिन्न प्रकार के व्यंजन जैसे – पूरी ,हलवा, खीर, भुना हुआ चना आदि तैयार कर ले और अब सभी प्रकार के भोजन से पहले मां दुर्गा को भोग लगाए. माँ को भोग लगाने के बाद दस वर्ष तक की नौ कन्याओं को कन्या पूजन पर बुलाये.

भोजन कराने से पहले कन्याओं का पैर शुद्ध पानी से धोये और भोजन के लिए साफ स्थान पर कपड़ा बिछाकर बिठाये. अब कन्याओं को एक साथ बैठाये और कन्याओ के हाथो में रक्षा सूत्र बांधकर माथे पर रोली का टीका लगाए। माता रानी को जिस भोजन का भोग लगाया हो उसे सबसे पहले कन्याओं को प्रसाद के रूप में खिलाना चाहिए।

नवरात्री 2018 कन्या पूजन – कन्याओ को पेट भर भोजन कराने के बाद उन्हें दक्षिणा में चुनरी, रुपए,  सुहाग की वस्तुएं जैसे – लाल चुनरी, बिंदी व चूड़ी आदि वस्तुएं उपहार में दे। कन्या पूजन के बाद सभी कन्याओं के पैर छूकर उनसे आशीर्वाद ले और उन्हें प्रेम पूर्वक विदा करें.