नवरात्रि कन्या पूजन क्या ना करे Navratri Kanya Pujan Ke Baad Kya Na Kare

नवरात्रि कन्या पूजन navratri rules after kanya pujan

नवरात्रि कन्या पूजन नवरात्रि कन्या पूजन – नवरात्रि का पर्व दुर्गे माँ को समर्पित पर्व है यह पर्व पूरे भारतवर्ष में नौ दिनों तक मनाया जाता है नवरात्रि में सप्‍तमी तिथि से कन्‍या पूजन की शुरुआत हो जाती है बहुत से लोग अष्टमी और नवमी तिथि के दिन कन्या पूजा करते है इस दौरान कन्‍याओं को घर बुलाकर उनका आदर सत्कार कर उन्हें भोग लगाया जाता है शास्त्रोंमें ऐसी मान्यता है की इस दिन कन्याओं को लगाया जाने वाला भोग सीधे माँ को जाता है. इसीलिए प्राचीन मान्यताओं के अनुसार कन्यापूजन के बाद कुछ कार्यो को करना निषेध बताया गया है तो चलिए जानते है वो ऐसे कौन से काम है जिन्हें नवरात्रि के दौरान कन्या पूजन के तुरंत बाद नहीं करना चाहिए.

कन्या पूजन के तुरंत बाद घर की सफाई ना करे what to don on navratri after kanya pujan

नवरात्रि में कुमारी या कन्या पूजन का विशेष महत्व होता है. मान्यता है की कन्या पूजन से सभी प्रकार की सुख समृद्धि व्यक्ति को प्राप्त होती है शास्त्रों की माने तो कहा जाता है की नवरात्रि में कन्या पूजन करने के बाद या कन्याओं के घर से विदा होने के तुरंत बाद घर की सफाई करना शुभ नहीं माना जाता है कई लोग कन्याओं के जाने के तुरंत बाद ही झाड़ू पोछा शुरू कर देते है जबकि शास्त्रों में ऐसा करना वर्जित माना गया है यदि घर की सफाई करनी ही है तो कन्याओं के जाने के कुछ देर बाद रूककर इन कामो को किया जा सकता है.

कन्या पूजन के तुरंद बाद कपडे आदि ना धोये rules after kanya pujan  

कन्या पूजन नौ दिनों की नवरात्रि का वो दिन है जिस दिन आपकी नौ दिनों की तपस्या को विराम मिलता है और साथ ही आपको माता रानी की कृपा प्राप्त होती है शास्त्रों में ऐसी मान्यता है की नवरात्रि में कन्या पूजन में भोग लगाने से लेकर कन्याओं के जाने के बाद छोटी छोटी बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए जिसमे से एक काम है वस्त्र धोना प्राचीन मान्यताओं अनुसार कन्या पूजन के तुरंत बाद घर में वस्त्र धोना शुभ नहीं माना जाता है इसीलिए हो सके तो कन्या पूजन के तुरंत बाद कपडे धोने जैसे कार्यो से बचना चाहिए.

कन्या पूजन के तुरंत बाद स्नान ना करे do not these things on navratri kanya pujan

नवरात्र पर्व के दौरान कन्या पूजन काफी महत्व रखता है नौ कन्याओं को नौ देवियों का ही रूप माना जाता है इसीलिए कहा जाता है की कन्या पूजन के तुरंत बाद नहाना, बाल धोना या फिर नाख़ून काटने जैसे कार्यो से हमें बचना चाहिए क्योकि ऐसा करना शास्त्रों में उचित नहीं माना गया है इस तरह के कार्यो को कन्या पूजन से पहले ही कर लेना चाहिए ताकि आपको माता रानी की असीम कृपा प्राप्त हो सके.

राशिअनुसार जाने साल 2018 का भविष्यफल

कन्या पूजन के तुरंत बाद नाखून ना काटे navratri kanya pujan rules

नवरात्रि का पर्व देवी माँ को समर्पित पर्व है शास्त्रों में जिसके कुछ जरूरी नियम बताये गए है जिनमें से एक नियम है कन्या पूजन के तुरंत बाद नाखून ना काटना वैसे तो नाखून काटना एक अच्छी आदत मानी गयी है लेकिन नवरात्री के नौ दिनों में और खासतौर पर कन्या पूजन के तुरंत बाद ही नाखून नहीं काटने चाहिए ऐसा करना शुभ नहीं माना जाता है जहाँ तक हो सके नवरात्रि में कन्या पूजन के तुरंत बाद नाखून काटने से  हमें बचना चाहिए. इस तरह इन नियमो को यदि धयान में रखकर माता रानी की पूजा अर्चना की जाय तोमाँ अवस्य ही अपने भक्तों पर प्रसन्ना होती है और उन्हें मनचाहा वरदान देती है.