तैलीय त्वचा की देखभाल के घरेलु उपाय Oily skin care tips in hindi

तैलीय त्वचा या ऑयली स्किन की देखभाल के लिए आसान टिप्स Oily skin care easy tips in Hindi

तैलीय त्वचा या ऑयली स्किन की देखभाल के लिए आसान टिप्स upcharnuskheआज का आधुनिक जीवन पुरे दिन काम होने के कारण लोगो को अपने चेहरे तथा शरीर की देखभाल का समय ही नहीं मिल पाता. जिसके कारण अनेक प्रकार की समस्याएं होने लगती हैं. चमकदार तथा खूबसूरत त्वचा हर कोई पाना चाहता है मगर किन्ही कारणों से खूबसूरत त्वचा पाने में लोग असमर्थ हो जाते हैं. सुंदर त्वचा के लिए आपकी त्वचा का स्वस्थ होना बहुत जरुरी है. आमतौर पर स्किन में लिपिड लेवल यानि वसा की मात्रा अधिक होने के कारण हमारी स्किन ऑयली होने लगती है.

ऑयली त्वचा चमकदार तो होती है मगर इसका रंग गहरा होने के कारण लोगो की सुंदरता नजर नहीं आती. चेहरे पर अधिक आयल होने के कारण चेहरे पर ब्लैकहैड, व्हाइटहेड्स,फोड़े फुंसी जैसी अनेक त्वचा संबंधित परेशानीओ आ सकती हैं. ऑयली स्किन वाले लोगों को चेहरे पर चिपचिपाहट महसूस होती रहती है. ऑयली स्किन की समस्या को दूर करने के लिए आप कुछ घरेलु उपायों की मदद लें सकते हैं जिनके प्रयोग से आप इस समस्या से राहत पा सकते हैं.

ऑयली स्किन होने के कारण(Cause of oily skin)

जेनेटिक्स (Genetics reason) – अगर किसी परिवार के सदस्य की ऑयली स्किन है तो परिवार के सभी सदस्य की तेलीय त्वचा होने की सम्भावना रहती है.

मौसम का बदलाव (Weather changes) – कई बार हमारी त्वचा अलग-अलग मौसम को सहन नहीं कर पाती जिसके कारण त्वचा में अनेक प्रकार की समस्याएं होने लगती हैं. अनेक बार मौसम बदलने के कारण भी हमारी स्किन ऑयली होने लगती है.

तनाव(Stress)- तनाव हमारे स्वास्थ के लिए बिल्कुल भी उचित नहीं होता. तनाव होने के शरीर में एण्ड्रोजन हॉर्मोन बनने लगते हैं, जो हमारी त्वचा को तैलीय बना देते हैं.

सन टैनिंग (Sun Tanning) – सन टैनिंग के कारण भी हमारी त्वचा पर बहुत बुरा प्रभाव पड़ता है. कभी-कभी सन टैनिंग होने के कारण हमारी स्किन पर अत्यधिक आयल नजर आने लगता है.

तैलीय त्वचा के लिए घरेलु उपाय (Home remedy for oily skin)

दही, आटे का चोकर, बेसन एवं हल्दी तैलीय त्वचा के लिए (Yogurt, bran flour, gram flour and turmeric for oily skin)

दही में आटे का चोकर, बेसन एवं थोड़ी सी हल्दी मिलाकर पेस्ट बना लें. पेस्ट को अपने चेहरे पर लगाकर हल्के-हल्के हाथ से 3-4 मिनट तक मलें और कुछ देर बाद पानी से धो दें. ऐसा करने से त्वचा मुलायम रहेगी.

मसूर की दाल तैलीय त्वचा के लिए (Red Lentil for oily skin)

मसूर की दाल को रात में दूध में भीगकर रख दीजिये. सुबह उठकर इसे पीस लें और अपने चेहरे पर इस पेस्ट को लगा लें और सूखने के बाद चेहरे को साफ पानी से धो दें. तैलीय त्वचा से एक्स्ट्रा आयल कम हो जायेगा और चेहरा सुन्दर लगने लगेगा.

केले का प्रयोग तैलीय त्वचा के लिए (Banana for oily skin)

दो केले को छीलकर इसको अच्छी तरह पीस लें. इस पेस्ट को चेहरे में लगाये और एक घंटे बाद चेहरे को सादे पानी से धो दें. चेहरे का आयल दूर हो जायेगा.

निम्बू का रस तैलीय त्वचा के लिए (Lemon juice for oily skin)

ऑयली त्वचा से बचने के लिए चेहरे पर निम्बू का रस निकाल कर लगाइये. इस रस को चेहरे पर करीब आधा घंटे तक लगा रहने दें. फिर चेहरे को साफ पानी से धो दें. इससे त्वचा आयल फ्री बनी रहेगी.

ओटमील और एलोवेरा का स्क्रब तैलीय त्वचा के लिए (Oatmeal and Aloevera for oily skin)

त्वचा से आयल को हटाने के लिए एक बाउल में ओटमील लें. अब इसमें थोड़ा एलो वेरा जैल मिलकर इनका पेस्ट तैयार कर लें. अब इस मिश्रण को अपनी त्वचा और हाथ से रगड़ें. करीब 15 मिंट बाद अपने चेहरे को साफ पानी से धो दें. कुछ ही दिनों में आपको फर्क नजर आने लगेगा.

मुल्तानी मिट्टी का प्रयोग तैलीय त्वचा के लिए ( Multani soil for oily skin) 

किसी बर्तन में थोड़ी मात्रा में मुल्तानी मिट्टी लें. अब इस में थोड़ा पानी डालकर इसके लेप तैयार कर लें. अब इस लेप को अपने फेस पर लगाए. जब यह लेप सुख जाए तो अपने चेहरे को पानी से धो दें. इससे आपको फायदा होगा.