ज्यादा पानी पीना हो सकता है नुकसानदायक drinking too much water side effects Health Care

ज्यादा पानी पीना हो सकता है खतरनाक Is drinking more water harmful for health

लोगों के बीच ये एक धारणा काफी समय से चलती आ रही है कि ज्यादा पानी पीने से सेहत काफी अच्छी रहती है, और कोई बीमारी नहीं होती। लेकिन क्या आपने कभी ये सुना है कि पानी पीना नुकसानदेह हो सकता है.

जी हां, दोस्तों शायद आपको मालूम न हो लेकिन बहुत अधिक पानी पीना भी हमारे शरीर  के लिए नुकसानदेह हो सकता है. पानी की कमी से जहां डी-हाइड्रेशन होने की शिकायत बढ़ जाती है वहीं बहुत अधिक मात्रा में पानी पीने वाले व्यक्ति को ओवरहाइड्रेशन का खतरा बढ़ जाता है. प्यास लगना सेहत के लिए काफी अच्छा है. लेकिन पानी तभी पिएं जब आपको प्यास लगे या आपको पानी की जरूरत महसूस हो. जबरदस्ती पानी पीना सही नहीं है. शरीर में पानी की मात्रा बनी रहनी चाहिए लेकिन ज्यादा नहीं.

एक आम व्यक्ति को अपनी प्यास के अनुसार ही पानी पीना चाहिए। ज्यादा पानी पीना भी सेहत के लिए हानिकारक है। माना जाता है कि ज्यादा पानी पीने से हमारे ऑर्गन को अधिक कार्य करना पड़ता है. इससे ऑर्गन की कार्य करने की क्षमता काफी प्रभावित होती है। यदि किसी व्यक्ति को मधुमेह या प्रोस्टेट जैसी समस्या है तो उसके लिए भी ज्यादा पानी हानिकारक हो सकता है. हेल्दी रहने के लिए और बीमारी से दूर रहने के लिए एक दिन में ढाई से तीन लीटर पानी ही पीना चाहिए।

यह पानी की मात्रा यह सभी प्रकार के लोगों के लिए सही है। आयुर्वेद के अनुसार कई लोग सुबह उठते ही एक लीटर पानी पी लेते है और रात में सोने से पहले भी वे एक लीटर पानी पी के ही सोते है. इससे उनकी बीमारी बढ़ जाती है। ऐसी स्थिति में पानी को शरीर से बाहर निकालने के लिए हमारी किडनी को आवश्यकता से अधिक काम करना पड़ता है। गर्मी में तीन लीटर और सर्दी में ढाई लीटर पानी पीना एक दिन के लिए पर्याप्त है।

क्या आपको मालूम है कि बहुत अधिक पानी पीने से हमे चक्कर आने की समस्या लगी रहती है और हम असहज महसूस करने लगते है. कई बार तो ज्यादा पानी पीने से दिल की धड़कन भी तेज हो जाती है. लेकिन इसका मतलब ये बिल्कुल भी नहीं है कि कम पानी पीना चाहिए. पानी की कमी से एक ओर जहां मांस-पेशियों में ऐंठन आ जाती है तो वहीं पानी की बहुत अधिक मात्रा लेने से खून का गाढ़ापन कम हो जाता है. विशेषज्ञों की मानें पानी उतना ही पीना चाहिए जितने से प्यास बुझ जाए. प्यास नहीं लगी हो तो जबरदस्ती पानी नहीं पिएं.