छिले और कटे घाव तुरंत ठीक करने के उपाय Skin abrasion treatment tips

छिले और कटे घाव का प्राथमिक उपचार

छिले और कटे घाव का प्राथमिक उपचार upcharnuskheछोटे-छोटे रक्तपात की घटना हर घर में प्रतिदिन होती रहती है। अक्सर छोटे बच्चे खेलते समय तथा बड़े लोग अनेक कार्य करते समय अपने हाथ पैरो में छोटे-छोटे कट के निशान लगा लेते हैं. शरीर पर घाव का निशान काफी बुरा नजर आता है और हर कोई इसे छिपाने की कोशिश में लगा रहता है. लेकिन कभी-कभी हाथ या शरीर का कोई भी अंग कट जाता है तो उससे बहुत अधिक खून बहने लगता है.

और रुकने का नाम नहीं लेता. परन्तु डॉक्टर के पास तक काफी खून बह सकता है इसलिए कुछ घरेलु उपचार से आप इस समस्या से निजात पा सकते हैं. इनसे ना केवल खून बहना बंद हो जाता है बल्कि घाव भरने में भी मददगार होते हैं.

छिले कटे घाव होने के लक्षण

सूजन आना – आमतौर पर देखा गया है जब भी हमारे शरीर पर कोई चोट या कट लग जाता है तो उस स्थान में सूजन होने लगती है. जले कटे तथा छिले स्थान में सूजन होने के कारण हमें अनेक परेशानियों का सामना करना पड़ता है.

रैड  स्किन – जब भी शरीर के किसी भाग में जल जाता हा या फिर कट जाता है तो वह स्थान लाल होने लगता है. इस समस्या के समाधान के लिए तुरन्तु हमें उपचार करना चाहिए जिससे घाव आसानी से भर जाये.

दर्द – शरीर के किसी स्थान पर जलने अथवा कटने पर हमें काफी दर्द होता है. अनेक बार यह दर्द असहनीय भी हो सकता है.

मवाद की मौजूदगी – अधिकतर लोगो की स्किन में थोड़ा सा कट लग जाए या फिर त्वचा चील जाए तो उसमे दर्द के साथ-साथ मवाद भरने लगता है जिसके कारण त्वचा को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है.

छिले और कटे घाव के घरेलु उपचार 

हल्दी के फायदे छिले और कटे घाव के लिए

हल्दी एन्टीसेप्टिक का कार्य करती हैं जो किसी भी संक्रमण को होने से रोकती है. हल्दी एक ऐसी सामग्री है जो सभी के किचन में आसानी से मिल जाती है. यदि आपका हाथ कट गया है और ब्लड नहीं रुक रहा है हल्दी पावडर या पीसी हुई हल्दी कटे हुए स्थान पर लगाए. इससे रक्तपात तुरन्त रूक जाता है.

चीनी है फायदेमंद  छिले और कटे घाव के लिए

यदि किसी के हाथ या पैर कट गया है तो उस कटे हुए स्थान पर चीनी लगाए. और इसे 15 मिंट बाद धो दें. चीनी लगाने से खून बहना बंद हो जाता है और कटे हुए स्थान का दर्द कम होने लगता है.

शहद के फायदे छिले और कटे घाव के लिए

शहद सिर्फ त्वचा संबंधी समस्याओं का निवारण ही नहीं करता है बल्कि कटे हुए स्थान से ब्लड को रोकने में भी मदद करने में सहायक है. शहद में एन्टीबैक्टिरीअल गुण पाये जाते हैं. जो घाव को संक्रमण से बचाता है.

टी बैग का उपयोग छिले और कटे घाव के लिए

टी बैग या चाय बनाने के बाद जो अवशेष बच जाता है उसे लेकर एक कपडे में डालें. अब इस कपडे को पोटली की तरह बांधकर कटे हुए स्थान पर लगाए. इससे ब्लड निकलना बंद होगा साथ ही आराम भी मिलता है.

ऐलो वेरा जेल छिले और कटे घाव के लिए

ऐलो वेरा जेल सिर्फ सौन्दर्य या त्वचा संबंधी समस्या से लड़ने में हमारी मदद नहीं करता बल्कि कटने पर भी यह राहत दिलाने में तथा कटे हुए जगह से रक्तपात को रोकने, दर्द को कम करने और घाव को ठीक करने में काफी मददगार है. ऐलो वेरा जेल को कटे हुए स्थान पर लगाने से कटे हुए स्थान पर राहत मिलती है.

जैतून का तेल है फायदेमंद छिले और कटे घाव के लिए

जैतून के तेल की मालिश से रूखी त्वचा नम हो जाती है। यह त्वचा पर किसी भी प्रकार की जलन खुजली के साथ त्वचा के छील जानें जैसी समस्या का एक अच्छा प्रभावी उपाय माना जाता हैं. जैतून का तेल त्वचा के कटने या जलने पर काफी असर कारक होता है. जैतून के तेल से इनके निशान को भी आसानी से हटाया जा सकता है.