कौन सा इन्वर्टर है आपके लिए बेहतर right inverter easy buying tips and suggestion

इन्वर्टर खरीदने से पहले ध्यान दे ये बातें Inverter Buying tips

कौन सा इन्वर्टरकौन सा इन्वर्टर है आपके लिए बेहतर- गर्मियों के दिनों में या उमस भरी रातों में बिजली चली जाना किसी सजा से कम नहीं होता है। जैसे ही गर्मियों की शुरुआत होती है गांव हों या शहर, सभी जगह लोड शेडिंग यानि की बिजली क कटौती या फिर पावर फॉल्‍ट की समस्याएं आने लगती है. ऐसे में इस समस्या से बचने के लिए और सुकून की जिंदगी पाने का एक मात्र उपाय इन्‍वर्टर है.

आज बाजार में ब्रांडेड कंपनियों से लेकर लोकल मेड इन्‍वर्टर मौजूद हैं। जिनकी अपनी अलग-अलग खासियत और कीमत है. अगर आप भी अपने लिए इन्वर्टर खरीदने की सोच रहे है तो आपके लिए कौन सा इन्वर्टर है बेहतर इसके लिए यहाँ कुछ आसान टिप्स बताये जा रहे है जो आपको एक बेहतर इन्वर्टर खरीदने में मदद करेंगे.

  • इन्वर्टर खरीदने से पहले आप अपनी जरूरत को ध्यान में रखकर ही इन्वर्टर खरीदे. इस बात को भी अच्छी तरह से समझ ले कि इन्‍वर्टर जेनरेटर नहीं होता है बल्कि ये एक सीमित मात्रा में पावर बैकअप देता है. इन्वर्टर सामान्‍य बिजली की तरह आपके घर को पावर बैकअप नहीं दे सकता है. ऐसे में आपका घर कितना बड़ा है, आपको कितने पंखे या बल्‍ब चलाने हैं, आपके पास इलेक्ट्रिकल और इलेक्‍ट्रॉनिक्‍स उपकरण कितने हैं जिनके लिए आपको पावर बैकअप की जरूरत है. इस बात का ध्यान इन्वर्टर खरीदते समय अवश्य रखे.
  • जब भी आप इन्वर्टर खरीदने की सोचे अपने बजट को ध्यान में रखकर ही अपने लिए बेस्ट इन्वर्टर का चुनाव करे.
  • अगर आपको एसी और फ्रिज जैसे इक्विपमेंट चलाने है तो इसके लिए आपको बाजार में कई हैवी इन्‍वर्टर मिल जाएंगे लेकिन ये बात भी जान ले कि सभी इलेक्ट्रिक इक्विपमेंट शुरू होने के कारन ये ज्‍यादा बिजली की खपत करते हैं।

How to select best inverter

  • मार्किट में जो इनवर्टर उपलब्ध है वो 2 प्रकार के होते हैं पहला मॉडिफाइड साइन वेव और दूसरा प्योर साइन वेव इनवर्टर.मॉडिफाइड साइन वेव इनवर्टर थोड़ा सस्ते होते हैं, और इनकी कार्यक्षमता भी कम होती हैं. साथ ही इनमें थोड़ा आवाज भी आती है। मॉडिफाइड साइन वेव इन्वर्टर से काफी बिजली का भी नुक्सान होता हैं।
  • वही दूसरी ओर प्योर साइन वेव इनवर्टर थोड़ा महंगे जरूर होते हैं, और इनकी कार्यक्षमता भी अधिक होती है. यह हाई एनर्जी कंजम्‍प्‍शन वाले उपकरणों को चलाने में भी पूर्ण सक्षम होते हैं.
  • इन्वर्टर खरीदने से पहले जान ले की किसी भी इन्‍वर्टर का सबसे महत्‍वपूर्ण हिस्‍सा उसकी बैटरी होती है। वैसे तो इन्‍वर्टर के साथ बैटरी अलग से खरीदनी पड़ती है। वहीं कुछ ब्रांडेड कंपनियां इन्‍वर्टर और बैटरी एक साथ भी बेचती हैं। लेकिन ऐसे में बैटरी का चुनाव करते समय समझदारी से काम लेना चाहिए
  • बाजार में उपलब्ध बैटरियां 3 प्रकार के होती हैं। पहली फ्लैट प्लेट बैटरी, दूसरी ट्यूबलर बैटरी और तीसरी ड्राई बैटरी।इनमें फ्लैट प्लेट बैटरी सबसे सस्ती बैटरी होती हैं,और इसकी लाइफ भी कम होती है और इसे अधिक रखरखाव की आवश्यकता पड़ती हैं। ड्राई या रखरखाव मुक्त बैटरी की लाइफ इनसे कुछ ज्‍यादा होती है, लेकिन ये अधिक कीमत की होती हैं। इनमें  ट्यूबलर बैटरी सबसे बेहतर होती है और इनकी लाइफ लंबी होती है.
  •  कौन सा इन्वर्टरआजकल इन्‍वर्टर के साथ एक नया सेगमेंट होम यूपीएस भी आ गया है यह इन्‍वर्टर और यूपीएस दोनों का काम करता है। होम यूपीएस डीसी करंट को एसी करंट में बदलकर पावर बैकअप के रूप में यूज़ करता है.
  • इन्‍वर्टर की खरीदारी करने से पहले इसकी बैटरी और मशीनरी की अलग- अलग वॉरंटी और गारंटी की जांच कर ले. क्योकि वॉरंटी होने पर कंपनी खराबी आने पर उसकी फ्री मेंटेनेंस करती है। वहीं गारंटी होने पर आपको नया प्रोडक्‍ट मिलता है.
  • इन्वर्टर खरीदते समय ध्‍यान रखें कि आप जिस कंपनी का इन्‍वर्टर खरीद रहे हैं उसका सर्विस सेंटर आपके शहर या गावँ में है या नहीं.
  • बाजार में कई तरह सुविधाओं वाले कौन सा इन्वर्टर है जिन्हें आप खरीद सकते है जैसे सोलर पैनल इन्वर्टर ऐसे इन्वर्टर में सर्किट्स जैसी समस्याए नही आती है.वोल्टेज स्टेबलाइजर वाले इन्वर्टर इनमें पहले से ही वोल्टेज स्टेबलाइजर होते है जो एप्लायंस को वोल्टेज फ्लक्चुएशन से बचाते है अर्थ लीकेज प्रोटेक्शन वाले कौन सा इन्वर्टर ये इन्वर्टर इलेक्ट्रिक शॉक लगने से बचाते है और एप्लायंसेज को ख़राब होने से भी बचाते है. ब्रांडेड इन्वर्टर ब्रांडेड इन्वर्टर की बैटरी लंबे समय तक चलती है इस तरह के इन्वर्टर बेहतर होते है.