इन तरीकों से करें अपनी वाशिंग मशीन की देखभाल Washing Machine care and Maintenance Tips

कैसे करे देखभाल अपने वाशिंग मशीन How to Care washing machine

वाशिंग मशीन की देखभाल वाशिंग मशीन की देखभाल -वाशिंग मशीन आज के समय में हमारी सबसे अनिवार्य आवश्यकता बन गई है। पहले इसका उपयोग सम्पन्न वर्ग ही करता था लेकिन आजकल इसका उपयोग हर घर में होने लगा है।

क्योकि सभी लोग अपने कामों में इतना ब्यस्त हैं की उन्हें इन कामों के लिए समय ही नहीं मिल पता है। इसीलिए आज वाशिंग मशीन सभी की आवश्यकता बन गयी है।  सभी वस्तुओं को देखभाल की आवश्यकता तो होती ही है। वाशिंग मशीन भी हमारी जरूरत की एक ऐसी चीज है यदि इसकी देखभाल सही से न की जाये तो ये तुरंत ही ख़राब हो सकती है। हम अगर अपनी मशीन की सही से देखभाल नहीं करेंगे तो यह हमारे लिए ही नुकसानदायक होगा।

वाशिंग मशीन की देखभाल के घरेलु उपाय Washing Machine Home Care Tips –

हमारे ही कपडे सही से नहीं धूल पाएंगे। इसलिए हमे ही उसकी देखभाल और रख रखाव करना बहुत ही आवश्यक है। आज हम आपके लिए कुछ ऐसे उपाय लाये है जिन्हे अपनाकर आप अपनी वाशिंग मशीने की देखभाल करके उसका टाइम पीरियड और भी बढ़ा सकते हैं।   

कई बार हम कपडे धोने के बाद उन्हें सुखना ही भूल जाते हैं या किसी कारण से वे मशीन में ही रह जाते हैं ऐसा बिलकुल न होने दे।

क्योकि गीले कपडे मशीन में रखने से मशीन में फफूदी भी लग सकती है जो आपके कपड़ो की महक और आपकी मशीन की कार्यक्षमता प्रभावित करती हैं।  इसलिए कपड़ो की धुलाई पूरी होने के बाद तुरंत उन्हें ड्रायर में अथवा सूखने के लिए डाल दें।

यदि आपने अपने कपड़ो की धुलाई कर ली है तो वाशिंग मशीन को कुछ देर के लिए खुला छोड़ दे। धुलाई के बाद तुरंत ढक्कन बंद कर देने से नमी अंदर ही रह जाती है, जिससे हमारी मशीन में काई जमने और फफूंदी लगने का डर रहता है। इससे बचाव के लिए केवल ढक्कन खुला छोड़ दें ताकि बचा हुआ पानी वाष्पीकृत हो सके।

ध्यान रहे आपकी मशीन के सभी पार्ट्स सूखे हो यदि आपकी मशीन में सोप या सॉफ्टनर ड्रावर है जो धुलाई के दौरान गीली हो जाती है तो धुलाई पूरी होने पर उसे सुखाने के लिए बाहर निकालें। पूरी तरह सूखने पर ही उसे मशीन में डालें। साथ ही इस बात का हमेशा ध्यान दे की मशीन में मोती, शीशे या घुँघरू लगे कपड़े ना डालें। क्योकि ये मशीन में फँसकर उसे खराब कर सकते हैं। इसलिए इस बात का विशेष ध्यान दे।

राशिअनुसार जाने साल 2018 का भविष्यफल

अवश्यक्ता के अनुसार ही मशीन में पानी और उसकी जितनी क्षमता हो उस अनुसार ही उसमे कपडे धोने के लिए डालें और जब तक पुरे पानी की व्यवस्था न हो जाये वाशिंग मशीन न चलाये।  कभी भी मशीन को नमी वाले स्थान में न रखे अन्यथा कीटाणु उसके फाइबर को नष्ट कर सकते हैं। 

मशीन में फंसे कपड़ों के धागों और उसमें जमे साबुन को साफ करते रहें।  इससे आपकी मशीन सही से काम करेगी। मशीन को साफ करने के लिए गर्म पानी में इप्सम सॉल्ट डालें तथा पानी को मशीन से डालकर दो चक्र चला दें।  इप्सम सॉल्ट के अभाव में गर्म पानी में दो कप सिरका मिलाकर भी काम चलाया जा सकता है। मशीन में लगे धब्बों को किसी मुलायम कपड़े से पोंछ लें।  फिर व्हाइट स्पिरिट या किसी हाई क्लीनिंग द्रव से धोकर साफ कर लें।

वाशिंग मशीन की देखभाल के लिए महीने में कम से कम एक बार तो इसकी सफाई जरूर कर ले दैनिक रख रखाव मशीन की काई से बचत करती है परंतु महीने में एक बार वाशिंग मशीन की देखभाल और पूरी सफाई आवश्यक है।

इन सभी उपायों को अपनाकर आप अपनी वाशिंग  की सही से देखभाल कर सकते हैं और साथ ही आप उसमे वर्षों तक, ताजगी की महक और कार्यकुशलता को बनाये रख सकते हैं।