अगर पीते है निम्बू पानी तो ध्यान रखे ये बाते Lemon water Health benefits and side effects

ज्यादा निम्बू पानी पीने के नुकसान Side Effects of Drinking Lemon Water

सुबह उठकर नींबू पानी पीने को एक अच्छी आदत मानी जाती है और हममे से ही कई लोग सुबह की शुरूआत निम्बू पानी से ही करते है. रोज सुबह खाली पेट गुनगुना नींबू पानी पीना सेहत के लिए काफी फायदेमंद होता है,

इससे न सिर्फ हमारे शरीर का मोटापा कम होता है बल्कि हम कई बीमारियों से भी दूर रहते है। लेकिन क्या आपको मालूम हैं कि बहुत अधिक नींबू पानी पीना भी स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है. वैसे तो नींबू पानी पीने के कई फायदे हैं. निम्बू पानी पीने से शरीर को विटामिन सी, पोटैशियम और फाइबर्स मिलते हैं लेकिन इसके ज्यादा सेवन से भी हमे कई समस्याएं हो सकती है. यूं तो किसी भी चीज की अधिकता बुरी ही होती है लेकिन अगर बात नींबू-पानी के अति सेवन की हो तो इससे कई तरह के नुकसान हो सकते हैं. लेकिन अगर आप भी रोज सुबह निम्बू पानी काफी ज्यादा मात्रा में पी रहे हैं तो आपको इन बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए।

दांतों में ठंडा-गरम लगमे की समस्या – 

नींबू में सिट्रस एसिड होता है. जिसके संपर्क में आने से हमारे दांत काफी अधिक संवेदनशील हो जाते हैं. सिट्रस एसिड के प्रभाव के कारण हमारे दांतों की सबसे बाहरी परत को नुकसान पहुंचता है. जिससे कुछ भी ठंडा या गर्म खाने या पीने पर दांतों में झनझनाहट सी महसूस होने लगती है. इसलिए हमे ज्यादा निम्बू पानी के सेवन से भी बचना चाहिए.

एसिडिटी की समस्या –

अगर आप पहले से ही एसिडिटी की समस्या से परेशान है तो ज्यादा निम्बू पानी के सेवन से बचे. क्योकि इस समस्या में ज्यादा नींबू पानी का सेवन आपके लिए नुकसानदायक हो सकता है. नींबू पानी पीने से एसिडिटी या गैस की समस्या बढ़ सकती है. जिसका असर पाचन क्रिया पर भी पड़ता है.

स्टोन का खतरा –

नींबू में सिट्रस एसिड तो होता ही है साथ ही निम्बू में ऑक्सलेट की भी पर्याप्त मात्रा होती है. नींबू पानी का ज्यादा सेवन करने से ये क्रिसटल के रूप में हमारे शरीर में जमा हो जाता है. जिससे किडनी स्टोन होने का खतरा बढ़ जाता है. इसलिए निम्बू पानी का ज्यादा सेवन करने से बचना चाहिए.

हड्डियों का कमजोर होना –           

नींबू में अम्लीयता होती है जिसकी वजह से हड्डियों पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है. काफी अधिक मात्रा में नींबू पानी पीने से हड्ड‍ियां कमजोर हो जाती हैं.  ऐसे में कोशिश करें कि नींबू पानी का सेवन नियंत्रित मात्रा में डॉक्टर के परामर्श से ही करें.