अंगों की मसाज से करे पेट की चर्बी कम

अंगों की मसाज से करे पेट की चर्बी कम

acuजिम में घंटों पसीना बहाने और डाइटिंग करने से भी अगर आप से छुटकारा पाने में सफल नहीं हो पा रहें हैं। इसके लिए एक्यूप्रेशर मसाज बेहतरीन विकल्प हो सकता है। आप किसी अच्छे एक्यूप्रेशर प्रशिक्षक की मदद से शरीर के कुछ खास अंगों की मसाज के जरिये पेट की चर्बी और वजन को नियंत्रित कर सकते हैं।

एक्यूप्रेशर शरीर के विभिन्न अंगो  के महत्वपूर्ण बिंदुओं पर दबाव डालकर किसी भी रोग को ठीक करने की विधि है। यह चीन की चिकित्सा पद्धति है। इस पद्धति के अनुसार, मानव शरीर पैर से लेकर सिर तक आपस में जुड़ा हुआ है। शरीर में मौजूद नसें, रक्त धमनियां, मांसपेशियां, स्नायु और हड्डियों के साथ अन्य कई चीजें आपस में मिलकर शरीर रूपी इस मशीन को बखूबी चलाती हैं। अत: किसी एक बिंदु पर दबाव डालने से उससे जुड़ा पूरा भाग प्रभावित होता है। आइए जानें शरीर के किस अंग की मसाज करने से पेट की चर्बी कम करने में मदद मिलती है।

कानों की  मसाज

सबसे पहले अपने कान पर दबाव बिंदु को पता करिये. यह भूख को नियंत्रित करता है. प्रत्येक एक्यूप्रेशर सत्र की शुरुआत और अंत में भूख नियंत्रण बिंदु को दबाए. इसे दबाने पर भूख पर नियंत्रण किया जा सकता है तथा ओवरईटिंग से भी बचा जा सकता है. इस बिंदु में कान के ऊपर मांसल फ्लैप का हिस्सा होता है. जो कान के कैनाल में स्थित होता है. इस जगह पर लगातार 3 मिनट तक दबाव डाले. अब हलके-हलके दबाव बढ़ाए तथा फिर छोड़ दें.

घुटनों की मसाज

घुटनों के बाईं ओर ठीक नीचे तीन बिंदु होते हैं जिन पर दबाव देने से शरीर का मेटाबॉलिज्म ठीक रहता है और शरीर में अतिरिक्त वसा इकट्ठा नहीं होता है। इसके लिए एक-एक करके इन पर बिंदुओं पर दबाव बनाएं और एक मिनट तक इन बिंदुओं पर मसाज करें।

हथेली की मसाज

हथेलियों में अंगूठे के पास वाले उभरे भाग में दबाव डाले और दबाव तब तक डाले जब तक उसकी सहन क्षमता हों. इस मसाज को करने के कम से कम पांच बार दोहराए. इस क्रिया के बाद पानी को गुनगुना करके उसका सेवन करें. इससे शरीर से टॉक्सिन बाहर निकल जाते है.

कंधे की मसाज

यदि किसी व्यक्ति को भूख बहुत अधिक लगती है तो दाहिने कंधे के मध्य भाग में हाथ की अंगुली व अंगूठे से दिन में 2 बार लगभग आधा मिनट तक दबाव डालना चाहिए. लेकिन एक्यूप्रेशर कि इस मसाज को कभी भी खाली पेट नहीं करना चाहिए.

एड़ी की  मसाज

एंकल बोन अर्थात एड़ी की हड्डी पर अपने हाथ कि चारो उंगलियों को रखें और इसमें धीरे-धीरे दबाव डाले. लगभग एक मिनट तक दबाव डालने के बाद छोड़ दें. एड़ी की  मसाज करने से पाचन तंत्र ठीक रहता है. शरीर कि इन अंगो कि मसाज करके भूख पर नियंत्रण किया जा सकता है साथ ही पाचन क्रिया भी ठीक रहती है. सही खान पान होने कि वजह से तथा इन अंगो कि मसाज से जल्दी ही वजन कम किया जा सकता है.

back