माँ दुर्गा के 32 नामों का जप से पूरी होगी हर मनोकामना 32 names of ma durga

जाने क्या हैं माँ दुर्गा के 32 नाम ma durga k ye chmatkari nam

माँ दुर्गा के 32 नामों का जप worship maa Durgaमाँ दुर्गा के 32 नामों का जप -नवरात्री स्थापना के साथ ही माँ दुर्गा की नो अलग अलग रूपों में पूजा अर्चना की जाती है घरों में माता के नो रूपों की एक एक कर पूजा की जाती है हिन्दू शास्त्र में कहा गया है कि इस अवसर पर माँ दुर्गा के 32 नामों का जाप करने से व्यक्ति को सारे कष्टों और भयों से छुटकारा मिल जाता है ।

यदि गुस्से के कोई काम बिगड़ जाये या कोई बड़ी परेशानी आपको घेर ले तो उस समय माँ दुर्गा के इन 32 नामो का जाप करने से व्यक्ति को संपूर्ण भय से मुक्ति (माँ दुर्गा के 32 नामों का जप) मिलती है|

माँ दुर्गा के 32 नामों का जप जानें  Maa Durga 32 Names 

माँ दुर्गा के 32 नामों का जप – मां भगवती ने अपने बत्तीस नामों की माला  में  अद्भुत  चमत्कारी जप का उपदेश दिया जिसे  करने से घोर से घोर विपत्ति से ग्रस्त मनुष्य भी भयमुक्त एवं सुखी हो जाता है और यदि कोई  व्यक्ति नवरात्रों में माता के इन नामों  को लेकर कनेर के  100 फूल चढाये साथ ही मन्त्र का जाप करते हुए हवन करता है तो उस व्यक्ति के कठिन से कठिन काम भी पल भर में पूरे हो जाते हैं.

इसे भी पढ़ें  –

माँ दुर्गा के 32 नामों का जप – जो व्यक्ति हर दिन दुर्गा मां के इन नामों का जाप करता है उसके जीवन में कभी कोई संकट नहीं आता । उसका परिवार हमेशा खुशहाल रहता हैउसके जीवन में धन दौलत की भी कमी नहीं रहती।

माँ दुर्गा के 32 चमत्कारी नाम 32 Names of Maa Durga-

माँ दुर्गा के 32 नामों का जप – मां दुर्गा के 32 नाम ॐ दुर्गा, दुर्गतिशमनी, दुर्गाद्विनिवारिणी, दुर्ग मच्छेदनी, दुर्गसाधिनी, दुर्गनाशिनी, दुर्गतोद्धारिणी, दुर्गनिहन्त्री, दुर्गमापहा, दुर्गमज्ञानदा, दुर्गदैत्यलोकदवानला, दुर्गमा, दुर्गमालोका, दुर्गमात्मस्वरुपिणी, दुर्गमार्गप्रदा, दुर्गम विद्या, दुर्गमाश्रिता, दुर्गमज्ञान संस्थाना, दुर्गमध्यान भासिनी, दुर्गमोहा, दुर्गमगा, दुर्गमार्थस्वरुपिणी, दुर्गमासुर संहंत्रि, दुर्गमायुध धारिणी, दुर्गमांगी, दुर्गमता, दुर्गम्या, दुर्गमेश्वरी, दुर्गभीमा, दुर्गभामा, दुर्लभा, दुर्गोद्धारिणी देहशुद्धि के बाद कम्बल के आसान पर बैठ कर उत्तर की तरफ मुह करके घी का दीपक जलाये  और माँ दुर्गा से अपनी मनोकामना पूर्ण करने की प्रार्थना करें इस नाम स्त्रोत का प्रभाव अत्याधिक लाभदायक हैं।

FAQ –

प्रश्न – माँ दुर्गा की पूजा किस दिन की जाती है?

उत्तर – माता दुर्गा की पूजा शुक्रवार के दिन की जाती है.

प्रश्न – माँ दुर्गा की पूजा के लिए कौन – कौन सी सामग्री चाहिए?

उत्तर –  माँ दुर्गा की पूजा में देव मूर्ति के स्नान के लिए तांबे का पात्र, जल से भरा हुआ कलश, प्रसाद के लिए फल, दूध, मिठाई, पंचामृत, सूखे मेवे, शक्कर, पान, दक्षिणा, कुमकुम, धूपबत्ती, अष्टगंध, गुड़हल के फूल और नारियल आदि शामिल किये जाते है.

प्रश्न – माँ दुर्गा के 9 रूपों के नाम कौन – कौन से हैं?

उत्तर – माँ दुर्गा को देवी शैलपुत्री, ब्रह्मचारिणी, चंद्रघण्टा, कूष्माण्डा, स्कन्दमाता, कात्यायनी, कालरात्रि, महागौरी, सिद्धिदात्री: देवी की पूजा की जाती है.

Question – On which day is Durga worshiped?

Answer- Mata Durga is worshiped on Friday.

Question – Who are the names of 9 forms of Maa Durga?

Answer – Maa Durga is worshiped goddess Shailputri, Brahmacharini, Chandharghanta, Kushmanda, Skandamata, Katyayani, Kalratri, Mahagauri, Siddhidatri Devi.

Question – Maa Durga Puja me Samagri Kon- kon si chahiye hoti hai?

Uttar – Maa Durga Puja me Kalash, Tambe ka Patra, Prsas, Fruits, Sweets, Kumkum, Dakshina, Meve, Panchamrat, Naariya or Gudhal ke fool aadi.