क्या आप जानते हैं कपूर के 6 कमाल के लाभ Benefits of Burning Camphor in the House

कपूर के फायदे और चमत्कारी उपयोग Janiye Camphor (Kapur) ke Bemisal Fayde

kapur-ke-fayde-upcharnsukheकपूर को हमारे हिन्दू समाज में बहुत ही शुभ माना जाता है. कपूर को कई नामो से जाना जाता है जैसे  संस्कृत में कर्पूर, फारसी में काफूर और अंग्रेजी में कैंफर. कपूर उड़नशील दिव्य वानस्पतिक द्रव्य पदार्थ है. आमतौर पर कपूर को आरती के बाद या आरती करते वक्त जलाया जाता है. इससे हमारे आस-पास का वातावरण शुद्ध हो जाता तथा वातावरण में सुगंध भी फैल जाती है.

इसके अलावा कपूर मन एवं मस्तिष्क को शांति भी प्रदान करता है. वास्तु के अनुसार कपूर बहुत ही शुभ माना जाता है. कपूर को कई औषधि के रूप भी प्रयोग में लाया जाता है. इसके अलावा कपूर को घर मर रखने से हमारे धन सम्बंधी अनेक समस्याएं भी समाप्त हो जाती है. तो आइये जानते हैं कपूर से जुड़े कुछ शुभ फल क्या होते हैं.

सकारात्मक उर्जा और शां‍ति के लिए

कई बार हमारे घर में नेगेटिव ऊर्जा से घर की शांति में बाधा उतपन्न होने लगती है. यदि आप अपनीओ घर की स्थिति ठीक करना चाहते हैं और घर में आप चाहते हैं की घर में सकारात्मक ऊर्जा का परवाह हो तो इसके लिए आप प्रतिदिन सुबह और शाम कर्पूर को घी में भिगोकर जलाएं और संपूर्ण घर में उसकी खुशबू फैलाएं. ऐसा करने से नकारात्मक उर्जा घर से दूर हो जाती है. और घर में शांति बनी रहती है. इसके अलावा घर में कपूर जलाने से जीवाणु, विषाणु आदि बीमारी फैलाने वाले जीव नष्ट हो जाते हैं जिससे वातावरण शुद्ध हो जाता है तथा बीमारी होने का भय भी नहीं रहता.

धन प्राप्ति के लिए कपूर का उपयोग

वास्तु शास्त्र में बताया गया है की कपूर से हमे अचानक धन की भी प्राप्ति होती है. इसके लिए आप गुलाब के फूल में कपूर का टुकड़ा रखे. शाम के समय फूल में एक कपूर जला दें और फूल को देवी दुर्गा को चढ़ा दें. इससे आपको अचानक धन मिल सकता है.

पुण्य प्राप्ति के लिए कपूर का उपयोग

पुराने समय से ही कपूर जलाने की परम्परा चलती आ रही है. हमारे शास्त्रो में बताया गया है की देवी-देवताओं के समक्ष कर्पूर जलाने से अक्षय पुण्य की प्राप्ति होती है. इसलिए प्रतिदिन सुबह और शाम को संध्यावंदन के समय कपूर अवश्य जलाये.

पितृदोष और कालसर्पदोष से मुक्ति के लिए कपूर का उपयोग

वत्सु के अनुसार कापूर से पितृदोष और कालसर्पदोष से भी मुक्ति मिल जाती है. इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए प्रतिदिन सुबह, शाम और रात्रि को तीन बार घी में भिगोया हुआ कर्पूर जलाएं. इसके अलावा शौचालय और बाथरूप में कर्पूर की 2-2 टिकियां रखे. इससे आपको लाभ होगा. 

आकस्मिक दुर्घटना से बचाव के लिए कपूर का उपयोग

कई बार लोगो के साथ कुछ ऐसे दुर्घटना हो जाती है जिसके बारे में उन्हें अनुमान भी नहीं होता. इस परेशानी से बचने के लिए रात को हनुमान चालीस का पथ करे तथा इसके बाद कपूर जलाये. इसके अलावा आप प्रतिदिन भी घर में कपूर जला सकते हैं. इससे घर में सुख शांति बनी रहती है.

वास्तु दोष मिटाने के लिए कपूर का उपयोग

कई बार हमारे घर में वास्तु दोष होने के कारण हमारे घर में कई परेशानिया होने लगती है. इन परेशानियों को दूर करने और वास्तु दोष को समाप्त करने के लिए जिस स्थान में वास्तु दोष हो वहां पर कर्पूर की 2 टिकियां रख दें. जब यह टिकिया गाल जाए तो दूसरी टिकिया रख दें. इससे वास्तु दोष समाप्त होने लगेगा.